Bihar Assembly Elections: महागठबंधन में सीट शेयरिंग के मसले पर उभरा कांग्रेस के बड़े नेता का दर्द, RJD ने ली चुटकी
Patna News in Hindi

Bihar Assembly Elections: महागठबंधन में सीट शेयरिंग के मसले पर उभरा कांग्रेस के बड़े नेता का दर्द, RJD ने ली चुटकी
वर्चुअल रैली के दौरान सदानंद सिंह ने अपना दर्द जाहिर किया.

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) को लेकर सभी पार्टियां तैयारी में जुट गयी हैं. हालांकि एनडीए और महागठबंधन में अभी सीट शेयरिंग पर दलों के बीच रस्साकशी जारी है.

  • Share this:
पटना. बिहार में विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) को लेकर अभी तारीखों को ऐलान नहीं किया गया है, लेकिन सभी राजनीतिक दल अपनी-अपनी तैयारियों में जुट गए हैं. जबकि सभी पार्टियों के बीच सीट शेयरिंग का मसला पिछले कई दिनों से फंसा हुआ है. यही नहीं, बात चाहे एनडीए (NDA) की हो या फिर महागठबंधन की, सीट शेयरिंग को लेकर सभी दलों के बीच जोरदार रस्साकशी जारी है. हालांकि महागठबंधन की बड़ी पार्टियां सीट शेयरिंग के मसले पर सब कुछ जल्दी निपट जाने का दावा कर रही हैं, लेकिन इस बीच नेताओं में असंतोष के स्वर भी उभरने लगे हैं.

सदानंद सिंह का छलका दर्द
कांग्रेस की वर्चुअल रैली के दौरान आज बिहार पार्टी मुख्यालय सदाकत आश्रम में कांग्रेस विधायक दल के नेता सदानंद सिंह (Sadanand Singh) ने जिस तरीके से अपनी पीड़ा जाहिर की, ऐसे में कांग्रेसी नेताओं की बोलती बंद हो गई. दरअसल वर्चुअल रैली में अपने संबोधन के दौरान सदानंद सिंह ने कहा कि वह पिछले कई दिनों से इस सीट शेयरिंग को जल्‍द निपटाने की नसीहत दे रहे हैं, लेकिन उनकी सुनने वाला कोई नहीं है. उन्‍होंने बताया कि यह बात उनकी समझ से परे है. सीट शेयरिंग में देरी क्यों हो रही है. जबकि वर्चुअल रैली मे कांग्रेस के तमाम नेता गण सदानंद सिंह के सवाल पर अवाक रह गये. वहीं, थोड़ी देर में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा ने सफाई देते हुए कहा कि सीट शेयरिंग में कोई देरी नहीं हुई है और कांग्रेस बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल के बीमार हो जाने की वजह से थोड़ी अड़चन जरूर आई है. मदन मोहन झा ने दावा किया कि सदानंद सिंह को मना लिया जाएगा, क्योंकि वह पहले भी सीट शेयरिंग पर बोल चुके हैं.

कुशवाहा की पार्टी के प्रवक्‍ता ने कही ये बात
इस बीच, आरएलएसपी के प्रवक्‍ता अभिषेक झा ने दावा किया कि उनकी पार्टी के सुप्रीमो उपेंद्र कुशवाहा भी सीट शेयरिंग हो रही देरी पर असंतोष जाहिर कर चुके हैं. उन्‍होंने कहा कि समय रहते अगर सब कुछ तय हो जाए तो चुनाव परिणाम बेहतर हो सकता है.



बहरहाल, महागठबंधन के घटक दलों के नेताओं के बयान आने के बाद राजद नेताओं ने भी प्रतिक्रिया जाहिर की है. राजद के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि ऐसा लगता है कि कांग्रेस ने सीट शेयरिंग के मसले पर सदानंद सिंह जैसे नेताओं को कॉन्फिडेंस में लिया ही नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज