Bihar Assembly Elections: PM मोदी का साल 2015 में किया गया वायदा, 2020 में कितना जमीन पर उतरा?

बीते 5-6 सालों में बिहार में विकास की गंगा बही है तो कितनी बही है?
बीते 5-6 सालों में बिहार में विकास की गंगा बही है तो कितनी बही है?

2015 के विधानसभा चुनाव में PM मोदी (PM Modi) ने बिहार को 1.25 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज देने का वायदा किया था. ऐसे में सवाल यह है कि इस बार के चुनाव में मोदी-नीतीश (Modi-Nitish) की जोड़ी विपक्षी पार्टियों के हमले से बचने के लिए कितना तैयार है? आंकड़ें की मानें तो विगत वर्षों में केंद्र सरकार ने बिहार को करोंड़ों रुपये के आर्थिक पैकेज दिए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 23, 2020, 6:07 PM IST
  • Share this:
Bihar Assembly Elections: बिहार विधानसभा चुनाव 2020 की तैयारियां जोरों पर है. अगले तीन-चार दिनों के अंदर किसी भी समय चुनाव आयोग (Election Commission) बिहार चुनाव का ऐलान कर सकती है. इस बीच राजनीतिक दलों में आरोप-प्रत्यारोपों का भी सिलसिला शुरू हो गया है. सोशल मीडिया से लेकर पोस्टरबाजी के जरिए सियासी पार्टियां एक दूसरे पर ठगने का आरोप लगा रही हैं. ऐसे में ये जानना जरूरी है कि बीते 5-6 सालों में बिहार में विकास की गंगा बही है तो कितनी बही है? साल 2015 के विधानसभा चुनावों में PM मोदी ने बिहार को 1.25 लाख करोड़ के पैकेज देने का वायदा किया था. ऐसे में सवाल यह है कि इस बार विपक्षी पार्टियों के हमले से बचने के लिए मोदी-नीतीश की जोड़ी कितना तैयार है? आंकड़ें की मानें तो विगत वर्षों में केंद्र सरकार ने बिहार के विकास के मद में करोड़ों रुपये दिए हैं. एनडीए का दावा है कि बीते वर्षों में बिहार को 1.25 लाख करोड़ से भी ज्यादा का पैकेज दिया गया है. आइए एक नजर डालते हैं बिहार में शुरू हुए योजनाओं और शुरू होने वाले योजनाओं के बारे में.

बीते दिनों कई परियोजनाओं का काम शुरू
पीएम मोदी ने साल 2015 में बिहार के लिए एक विशेष पैकेज की घोषणा की थी. इस पैकेज में 54 हजार 700 करोड़ रुपये लागत की 75 परियोजनाएं भी शामिल थीं. बिहार सरकार के डाटा की मानें तो साल 2020 तक इनमें से 13 परियोजनाएं पूरी हो चुकी हैं और 38 परियोजनाओं पर काम जारी है. शेष परियोजनाओं की शुरुआत होनी हैं. इन परियोजनाओं के पूरा हो जाने के बाद बिहार में बाढ़ से जो तबाही मचती है उसमें कमी आएगी.

सोशल मीडिया, Social Media, Bihar Assembly Elections, Nitish Kumar, Lalu Prasad Yadav, Sushil Kumar Modi, Chirag Paswan, Tejaswi Yadav, BJP and JDU, बिहार विधानसभा चुनाव, नीतीश कुमार, लालू प्रसाद यादव, सुशील कुमार मोदी, चिराग पासवान, तेजस्‍वी यादव, भाजपा और जेडीयू
बिहार चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दलों में सुगबुगाहट शुरू हो गई है.

बता दें कि पीएम मोदी ने पिछले 10-12 दिनों में बिहार को 16 हजार करोड़ रुपये से भी ज्यादा के योजनाओं का तोहफा दिया है. एलपीजी पाइप लाइन, एलपीजी बोटलिंग प्लांट, सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट, वॉटर सप्लाइ स्कीम और रेलवे लाइन से जुड़ी परियोजनाएं भी इसमें शामिल हैं.



सुपौल में कोसी पर बना पुल हुआ शुरू
केंद्र सरकार ने बिहार के शहरी क्षेत्र से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों के विकास के लिए सैकड़ों करोड़ की तमाम योजनाओं का उद्घाटन किया है. बीते 18 सितंबर को पीएम मोदी मिथिला क्षेत्र को सीमांचल से जोड़ने वाले कोसी रेल पुल का भी उद्घाटन किया है. इसके साथ ही पटना नगर निगम क्षेत्र अन्तर्गत बेऊर में नमामि गंगे योजना अंतर्गत जल-मल शोधन संयंत्र, सीवान नगर परिषद और छपरा नगर निगम के क्षेत्र में जलापूर्ति योजनाओं का लोकार्पण किया.

सबको मिलने लगेगा शुद्ध जल
इन दोनों योजनाओं के तहत स्थानीय नागरिकों को चौबीसों घंटे पीने का शुद्ध जल मिलेगा. इसी तरह मुंगेर नगर निगम में ‘मुंगेर जलापूर्ति योजना’ का भी शिलान्यास किया गया. योजना के पूर्ण होने से नगर निगम क्षेत्र के निवासियों को पाइपलाइन के माध्यम से शुद्ध जल उपलब्ध होगा. नगर परिषद जमालपुर में भी जमालपुर जलापूर्ति योजना का शिलान्यास किया गया.

नमामि गंगे योजना हुए शुरू
नमामि गंगे योजना के अंतर्गत मुजफ्फरपुर रिवर फ्रंट डेवलपमेंट योजना का शिलान्यास भी किया गया. इसके अंतर्गत मुजफ्फरपुर शहर के तीन घाटों (पूर्वी अखाड़ा घाट, सीढ़ी घाट, चन्दवारा घाट) का विकास किया जाएगा. रिवर फ्रंट पर कई प्रकार की मूलभूत सुविधाएं मसलन शौचालय, इनफार्मेशन कियोस्क, चेंजिंग रूम, पाथवे, वाच टावर इत्यादि उपलब्ध होगी.

narendra modi in bihar
बिहार में सात परियोजनाओं का शिलान्यास करते पीएम मोदी


केंद्र सरकार ने बिहार के 45 हजार गांवों को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ने का ऐलान किया है. भागलपुर और पटना में भी पुल, पूर्णिया में एनएच विस्तार, नवादा-रजौली फोरलेन रोड, दरभंगा में एयरपोर्ट और एम्स खोलने का ऐलान हो चुका है.

पटना मेट्रो का काम शुरू
बिहार चुनाव से ठीक पहले मंगलवार यानी 22 सितंबर 2020 से पटना मेट्रो का काम शुरू हो गया है. सीतामढ़ी, सीवान और वैशाली में मेडिकल कॉलेज खोलने का नीतीश कुमार ने ऐलान कर दिया है. इसके साथ ही नीतीश सरकार ने दर्जनभर जिलों के सदर अस्पतालों को आधुनिक सुविधा से लैस करने का ऐलान किया है.

गांवों को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ने का होगा काम शुरू
बता दें कि बीते दिनों पीएम मोदी ने दिल्ली से ही बिहार में ऑनलाइन 14 हजार दो सौ 58 करोड़ की नौ नेशनल हाइवे प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास किया. इसके साथ ही बिहार के 45,945 गांव को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ने वाली सेवा का भी उद्घाटन किया. पटना के महात्मा गांधी सेतु के बराबर एक और महासेतु और पटना रिंग रोड भी इन परियोजनाओं में शामिल किया गया है.

Sugar Mills
बीते सालों में बिहार में कई योजनाओं पर काम शुरू हुआ है. (फाइल फोटो)


ये भी पढ़ें: दिल्ली का अजूबाः बिहारी मिस्त्री का कारनामा, 6 गज में बना डाला दो मंजिला मकान, जानें पूरी कहानी

इसके साथ ही पीएम ने जिन 9 नेशनल हाइवे प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास किया है. इस प्रोजेक्ट्स की लंबाई 350 किलोमीटर है. केंद्र सरकार का मानना है कि इन परियोजनाओं के तहत बनने वाली सड़क से बिहार के विकास का रास्ता और आसान होगा. यूपी, झारखंड और पं बंगाल जाना आसान होगा. बिहार में एनडीए की सरकार ने पुलों पर विशेष ध्यान दिया है. बिहार में ही गंगा पर सिर्फ 17 पुल बनाए जा रहे हैं. इसके साथ ही गंडक और कोसी सहित अन्य नदियों पर भी पुल बनाए जा रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज