अपना शहर चुनें

States

बिहार चुनाव 2020: 10 लाख नौकरी के बाद तेजस्‍वी यादव का एक और बड़ा ऐलान, 5 लाख तक का एजुकेशन लोन माफ करने का किया वादा

फेसबुक लाइव में तेजस्वी यादव ने बताया कि बिहार को लेकर उनके सपने कितने सुनहले हैं. (Pic- PTI)
फेसबुक लाइव में तेजस्वी यादव ने बताया कि बिहार को लेकर उनके सपने कितने सुनहले हैं. (Pic- PTI)

फेसबुक लाइव पर तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने वादा किया कि बाहर मजदूरी कर रहे भाइयों के लिए कर्पूरी ठाकुर श्रमवीर सहायता केंद्र बनेगा. व्यापारी सुरक्षा दस्ते का गठन किया जाएगा. स्थानीय नीति के तहत 85% सरकारी नौकरियां बिहारियों को मिलेंगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 2, 2020, 9:08 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) में इस बार जब आरजेडी (RJD) सुप्रीमो तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने युवाओं को नौकरी देने की बात कही, तो बाकी दलों के तमाम मुद्दे हवा होते दिखे. युवाओं को नौकरी देने की बात तेजस्वी यादव लगातार कर रहे हैं. अपने इस वादे को रेखांकित करने के लिए वह लगातार फेसबुक लाइव (Facebook Live) के जरिए युवा नौकरी संवाद का आयोजन कर रहे हैं. आज के फेसबुक लाइव में उन्होंने फिर से शिक्षा और रोजगार के मुद्दे को रेखांकित किया. उन्होंने कहा कि 5 लाख तक का एजुकेशन लोन माफ किया जाएगा. नीतीश कुमार (nitish kumar) पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि बिहार बेरोजगारी का केंद्र बन गया है. नीतीश कुमार के प्रति लोगों का गुस्सा अब नफरत में तब्दील हो गया है. तेजस्वी यादव ने फिर से दोहराया कि हमलोगों ने जो संकल्प लिया है, वह सच होगा.

आरजेडी बनाएगा व्यापारी सुरक्षा दस्ता
फेसबुक लाइव में उन्होंने बिहार को लेकर बनाई गई अपनी भविष्य की योजनाएं बताईं. उन्होंने कहा कि मजदूर भाई जो बाहर नौकरी कर रहे हैं, उनके लिए कर्पूरी ठाकुर श्रमवीर सहायता केंद्र बनेगा. व्यापारियों के हितों की रक्षा के लिए व्यापारी सुरक्षा दस्ते का गठन किया जाएगा. उन्होंने कहा कि बिहार में अगर उनकी सरकार बनती है तो स्थानीय नीति लागू करेंगे, जिसमें 85 फीसदी सरकारी नौकरी बिहार के लोगों को मिलेगी. उन्होंने कहा कि बिहार में नए वकीलों के लिए चेंबर बनाए जाएंगे. सड़क पर वेंडिंग जोन बनाए जाएंगे. जोनल आधार पर बिहार में सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल बनाए जाएंगे.

महागठबंधन के प्रति लोगों में विश्वास
फेसबुक लाइव में उन्होंने कहा कि कोई मुझे कह दे कि उपमुख्यमंत्री रहते मैंने कोई ऐसा काम किया हो, जिसपर उंगली उठी हो, मेरे अनुभव पर कोई सवाल नहीं उठा सकता. मैंने भ्रस्टाचार रोकने के लिए भी विशेष पहल की थी. उन्होंने बताया कि एक-एक दिन में 15- 16 जनसभा हमलोग कर रहे हैं. अब तक एक दिन में सबसे ज्यादा 19 रैलियां मैंने की हैं. इन रैलियों में मैंने महसूस किया कि लोगों में विश्वास और उम्मीद सी जगी है महागठबंधन के प्रति.



नीतीश कुमार ने पक्की नहीं, संविदा पर नौकरी दी
उन्होंने सवाल किया कि शिक्षा, चिकित्सा को लेकर लोग पलायन क्यों कर रहे हैं. बिहार का पैसा बाहर जा रहा है. तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार थक चुके हैं. उनकी नकारात्मकता दिखने लगी है. नीतीश कुमार 10 लाख नौकरी को असंभव कहते हैं. मेरा मानना है कि लोग चांद पर जा रहे हैं तो फिर नौकरी और फैक्ट्री क्यों नहीं लग सकती. पंजाब हरियाणा में कैसे लग रहे हैं उद्योग. नीतीश जी कहते हैं उनकी सरकार ने 6 लाख लोगों को नौकरियां दीं, लेकिन उन्होंने यह कभी नहीं कहा कि उन्होंने पक्की नौकरी के बदले संविदा पर नौकरी दी.

कर्पूरी ठाकुर के नाम पर बनेगा विश्वविद्यालय

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज