BJP विरोध में ममता राष्ट्र विरोधी हरकतों पर उतारू, PM मोदी की बैठक में न जाना असंवैधानिक: संजय जायसवाल

पीएम मोदी

पीएम मोदी

बिहार बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल ने ममता बनर्जी पर हमला बोला. प्रधानमंत्री की बैठक में न जाने पर उन्होंने ममता के व्यवहार को अमर्यादित बताते हुए कहा है कि यह भारतीय लोकतंत्र के लिए काला दिन था. ओडिशा और पश्चिम बंगाल दोनों ही यास तूफान से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं और दोनों ही जगह भाजपा विरोधी सरकारें हैं.

  • Share this:

पटना. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( Narendra Modi ) के दौरे के वक्त पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ( Mamata Banerjee) के मीटिंग में शामिल नहीं होने को लेकर बीजेपी नेता हमलावर हो गए हैं. बिहार बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल ने ममता बनर्जी के व्यवहार को अमर्यादित बताते हुए कहा है कि यह भारतीय लोकतंत्र के लिए काला दिन था. उन्होंने कहा कि ओडिशा और पश्चिम बंगाल दोनों ही यास तूफान से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं और दोनों ही जगह भाजपा विरोधी सरकारें हैं. प्रधानमंत्री ने अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए दोनों प्रदेशों का हवाई दौरा कर, वहां की जरूरतों पर वहां के मुख्यमंत्री सहित सभी उच्च अधिकारियों के साथ बैठक की. उन्होंने कहा कि ओडिशा के मुख्यमंत्री ने जहां प्रधानमंत्री को सहयोग दिया वहीं ममता बनर्जी ने एक बार फिर संवैधानिक मूल्यों और लोकतांत्रिक मर्यादा को तार-तार कर दिया.

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि पहली बार ऐसा हुआ है कि देश के प्रधानमंत्री किसी राज्य का दौरा कर रहे हों और वहां की मुख्यमंत्री, उन्हें को आधा घंटा इंतजार कराने के बाद एक कागज थमा कर यह कहते हुए चली जाएं कि उन्हें और भी काम हैं. जायसवाल ने कहा कि जो इन्हें वोट नहीं देगा, उसकी हत्या, बलात्कार, घर लूटना इनके स्वभाव का अंग है. इन्हें तो इतनी समझ नहीं है कि प्रधानमंत्री का अपमान राष्ट्र का अपमान होता है.

संजय जायसवाल ने कहा कि अगर उन्हें बहुत आवश्यक काम भी था तो भी उन्हें प्रधानमंत्री जी को सूचित करना चाहिए था. यही लोकतंत्र की परिपाटी होती है. संजय जायसवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री की प्रदेश की बैठक में मुख्य सचिव का नहीं बैठना यह बताता है कि अब मुख्य सचिव, मुख्यमंत्री के अर्दली से ज्यादा कुछ नहीं है. भारत के संविधान की इससे ज्यादा अवहेलना कुछ भी नहीं हो सकती है. बीजेपी अध्यक्ष ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट को भी स्वत: संज्ञान लेकर पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव पर कार्रवाई करनी चाहिए वर्ना भारत के संघीय ढांचे और लोकतंत्र पर ममता बनर्जी जिस तरह का कुठाराघात कर रही हैं, वह भारत के भविष्य के लिए बहुत ही खतरनाक साबित होगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज