Bihar Budget 2021-22: जानें बिहार के उन IAS अधिकारियों को जिनके जिम्मे होता है बजट बनाने का टास्क

बिहार की नीतीश सरकार सोमवार को बजट पेश करेगी

बिहार की नीतीश सरकार सोमवार को बजट पेश करेगी

Bihar Budget: बिहार में बजट बनाने में सबसे अहम भूमिका वित्त विभाग के अधिकारियों की होती है. सरकार की इस टीम में करीब दर्जन भर आईएएस अधिकारी शामिल होते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 22, 2021, 9:55 AM IST
  • Share this:

पटना. बिहार के डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद सोमवार को पहली बार विधानमंडल में बजट (Biha Budget 2021) पेश करेंगे. सोमवार को दोपहर बाद साल 2021-22 के लिए नीतीश कुमार (Nitish Government) की अगुवाई वाली सरकार अपना बजट विधानमंडल के पटल पर रखेगी. हमेशा की तरह बजट से लोगों को, खासकर मध्यम और निम्न वर्ग को खासी उम्मीदें हैं और लोगों को यह भी उम्मीद है कि सरकार चुनाव के दौरान किए गए वादों को पूरा करने की झलक इस बार के बजट में दिखाएगी.

बिहार में यह पहला मौका है जब डिप्टी सीएम के तौर पर तार किशोर प्रसाद बजट पेश करेंगे. दरअसल बिहार में वित्त मंत्रालय का जिम्मा उनके पास ही है, ऐसे में जहां पहले सुशील कुमार मोदी सदन में बजट पेश किया करते थे तो अब उनकी जगह तार किशोर प्रसाद डिप्टी सीएम रहते हुए बजट पेश करेंगे. बिहार के डिप्टी सीएम के रूप में तार किशोर प्रसाद ने बजट बनाने का काम काफी दिनों पहले की शुरू कर दिया था और इसके लिए उन्होंने विभिन्न विभागों से सुझाव भी मांगे थे. बिहार में भी बजट बनाने की जिम्मेदारी वित्त विभाग के बड़े अधिकारियों के ऊपर ही होती है, ऐसे में न्यूज़ 18 उन अधिकारियों के बारे में आपको बता रहा है जो बजट बनाने में विशेष भूमिका निभाते हैं.

तारकिशोर प्रसाद की टीम में सबसे पहला नाम आता है एस सिद्धार्थ का. एस सिद्धार्थ वित्त विभाग के प्रधान सचिव हैं. वे IT में PhD है और 1991 बैच के बिहार कैडर के IAS हैं. इस टीम में दूसरा चेहरा है लोकेश कुमार सिंह का जो वित्त विभाग के सचिव हैं. वे 2003 बैच के बिहार कैडर के IAS हैं. इसके बाद आते है दिवेश सेहरा, उन्होंने बी-टेक कर रखा है और वे 2005 बैच के बिहार कैडर के IAS हैं.

टीम तार किशोर में अगला नाम आता है गोरखनाथ का जो विभाग के विशेष सचिव हैं. वे स्नातक हैं और 2006 बैच के बिहार कैडर के IAS हैं. इस टीम में उदय मिश्रा भी हैं जो विभाग के एडिशनल सचिव के पद पर हैं. इन्होंने इतिहास से स्नातक कर रखा है और ये 2011 बैच के बिहार कैडर के IAS हैं. इन लोगों के अलावा सभी विभागों के प्रधान सचिव इस टीम के सदस्य है सभी से राय कर उनके विभागों की मांग के आधार पर ही बजट तैयार किया गया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज