बिहार बजट 2021-22: रोजगार, शिक्षा समेत इन क्षेत्रों को फोकस कर सकती है नीतीश सरकार

बिहार विधानमंडल का बजट आज पेश किया जाएगा. (File Pic)

Bihar Budget 2021-22: बजट में शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क निर्माण के अलावा ग्रामीण विकास पर भी बड़ी राशि आवंटित करने का अनुमान लगाया जा रहा है.

  • Share this:
    पटना. बिहार में वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए आम बजट (Bihar Budget 2021) सोमवार को पेश होगा. बिहार की नई नवेली नीतीश सरकार के डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद (Deputy CM Tar Kishore Prasad) दोपहर बाद विधानमंडल बजट पेश करेंगे. बतौर डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद का यह पहला बजट होगा. उनके पास वित्‍त मंत्रालय का भी प्रभार है.

    अनुमान के मुताबिक, बिहार में इस बार बजट का आकार लगभग सवा दो लाख करोड़ रुपए हो सकता है. हालांकि, इसकी औपचारिक घोषणा खुद उपमुख्यमंत्री सदन के पटल पर करेंगे. बिहार में नीतीश कुमार की अगुवाई वाली सरकार के सत्ता संभालने के बाद यह पहला बजट है, ऐसे में सभी की निगाहें इसपर टिकी हुई हैं.

    चुनावी घोषणा पत्र में एनडीए ने रोजगार समेत अन्य सेवाओं और विकास के खाके को लेकर बड़ा ऐलान किया था, ऐसे में युवाओं की नजर खासतौर पर बजट पर टिकी है. पूरे विश्व में कोविड-19 के कहर का असर भारत समेत बिहार पर भी पड़ा था. प्रदेश में इस महामारी को लेकर नीतीश सरकार की काफी किरकिरी भी हुई थी, ऐसे में बजट में स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं को लेकर होने वाली घोषणाओं पर भी सभी की निगाहें टिकी हुई हैं.

    बिहार के बजट में नीतीश कुमार के ड्रीम प्रोजेक्ट यानी सात निश्चय पार्ट-2 पर खर्च की जाने वाली राशि पर भी सभी की नजरें रहेंगी. बिहार में बीते साल के बजट में गैर योजना मद में 105995 करोड़ और योजना मद में 107766 करोड़ की राशि का प्रावधान किया गया था. बिहार में नई सरकार के सामने शिक्षा, रोजगार, पलायन जैसी कई चुनौतियां हैं. ऐसे में इन चीजों के लिए खर्च की जाने वाली राशि पर भी सभी की निगाहें होंगी.