• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • ओमप्रकाश चौटाला से मुलाकात पर बोले नीतीश कुमार, वो हमारे पुराने साथी, इसमें BJP को क्यों नाराजगी होगी ?

ओमप्रकाश चौटाला से मुलाकात पर बोले नीतीश कुमार, वो हमारे पुराने साथी, इसमें BJP को क्यों नाराजगी होगी ?

पिछले दिनों ही बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने ओम प्रकाश चौटाला से मुलाकात की थी

पिछले दिनों ही बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने ओम प्रकाश चौटाला से मुलाकात की थी

Bihar Politics: सोमवार को पटना में प्रेस से बात करते हुए नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने फिर से जातिगत जनगणना की मांग को भी दुहराया. नीतीश कुमार ने कहा कि ऐसा कराने से समाज में कोई तनाव नहीं फैलेगा बल्कि इससे खुशी आएगी. 

  • Share this:

पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने हरियाणा के पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला (Om Prakash Choutala) से मुलाकात पर सीएम नीतीश ने कहा कि उनके प्रति आज से नहीं बहुत दिनों से हमारे मन में सम्मान है. एक जमाने में हम सब एक ही दल में रहे हैं. चौटाला से मुलाकात से बीजेपी को कोई लेना देना नहीं. चौटाला जी से मुलाकात पर बीजेपी को क्यों नाराजगी होगी ? यह कोई राजनीतिक बात नहीं. हम लोग समाजवादी पृष्ठभूमि के रहे हैं. नीतीश कुमार ने कहा कि मुझे नहीं मालूम यदि हमसे किसी का कोई पुराना संबंध है तो उस मुलाकात पर किसी को क्यों आपत्ति होगी. कोई नई बात और खास बात इसमे नहीं है.

देश में चल रहे फोन टैपिंग के मामले में पत्रकारों से बात करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि ये मामला बहुत दिनों से आ रहा है और इसकी पूरी जांच होनी चाहिए. सीएम ने कहा कि इस मामले पर एक-एक बात को देखकर उचित कदम उठाना चाहिए. फोन टैपिंग के पूरे मामले की जांच होनी चाहिए ताकि सच्चाई सामने आ सके. नीतीश कुमार ने कहा कि फोन टैपिंग मामले से जुड़े लोगों के पास कुछ भी अगर जानकारी हो तो सरकार से साझा करनी चाहिए. उपेंद्र कुशवाहा के पीएम मैटेरियल वाले बयान पर नीतीश कुमार ने कहा कि वह हमारी पार्टी के साथी हैं, कुछ भी बोल देते हैं लेकिन हमारे बारे में यह सब बोलने की जरूरत नहीं है. हम सेवक हैं और सेवा कर रहे हैं. हमारे मन में ऐसी कोई आकांक्षा और इच्छा नहीं है.

मंत्री सम्राट चौधरी के बयान पर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि हमने उनके बयान को देखा नहीं है. वह जिस दल में हैं उनसे पूछिए. हमने उनके बयान को नहीं देखा है. क्या कहा कोई बात होगी तो वे बता सकते हैं मुझे कुछ भी नहीं पता. नीतीश कुमार ने कहा कि गठबंधन इतने दिनों से चल रहा है. कहीं कोई दिक्कत नहीं है. यदि कोई बात है तो अपनी पार्टी के लोगों से बात करनी चाहिए. जातिगत जनगणना के मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि जातिगत जनगणना पर पहले भी बातचीत होती रही है. विपक्ष की ओर से एक सुझाव आया. सब लोगों को मिलकर प्रधानमंत्री से मुलाकात करनी चाहिए.

आज ही सब लोगों से बात कर पत्र लिख प्रधानमंत्री से मिलने के लिए आग्रह करेंगे. बीजेपी से भी इसके लिए बातचीत की गई है. उन्होंने कहा कि जातिगत जनगणना से समाज में तनाव नहीं होगा बल्कि सभी लोगों में खुशी होगी. यह काम करना या न करना केंद्र सरकार के ऊपर है लेकिन यह विचार सिर्फ हम लोगों का नहीं बल्कि कई अन्य राज्य के लोग भी रख रहे हैं. यह सब के हित में बात है, इसमें किसी की नाराजगी नही होगी. हमारी पार्टी के सभी सांसदों ने भी पत्र लिखा है. जातिगत जनगणना के लिए वर्ष 19- 20 में जब केंद्र को प्रस्ताव गया था तब यह बात किसी ने नहीं कहा था. किसी से किसी को दिक्कत होगी. बिहार सरकार के द्वारा अपने हिसाब से जातिगत जनगणना कराने के मसले पर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य सरकार का यह ऑप्शन हमेशा ओपन रहेगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज