Home /News /bihar /

जम्मू-कश्मीर में बिहारियों की हत्या पर बोले सीएम नीतीश- वहां जानबूझ कर बाहर के लोगों को किया जा रहा टारगेट

जम्मू-कश्मीर में बिहारियों की हत्या पर बोले सीएम नीतीश- वहां जानबूझ कर बाहर के लोगों को किया जा रहा टारगेट

सीएम नीतीश कुमार ने जम्मू-कश्मीर की घटना को लेकर बड़ा बयान दिया है.

सीएम नीतीश कुमार ने जम्मू-कश्मीर की घटना को लेकर बड़ा बयान दिया है.

Jammu-Kashmir Terror- जम्मू-कश्मीर में बिहार के लोगों की हत्या पर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि घटना की जानकारी मिलते ही हमने राज्यपाल से बात की है. बिहार सरकार के अधिकारी वहां के अधिकारियों से लगातार संपर्क में हैं.

पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Bihar CM Nitish Kumar) ने जम्मू-कश्मीर में हो रही बिहार के लोगों की हत्या पर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir Terror) में बाहर के लोगों को जानबूझकर टारगेट किया जा रहा है. बिहार के लोगों के साथ कल तीसरी घटना हुई है. घटना की जानकारी मिलते ही हमने राज्यपाल से बात की है. बिहार के अधिकारी कश्मीर में अधिकारियों से लगातार बात कर रहे हैं. सीएम नीतीश ने कहा- बिहार से बाहर काम करने कोई मजबूरी में न जाए, अपनी इच्छा से जाएं. पिछले वर्ष कोरोना के समय से ही सरकार (Bihar Government) ने बिहार में ही लोगों को काम दिलाने की व्यवस्था की है. किसी के साथ कोई घटना घटती है तो तकलीफ होती है. कल देर शाम जो घटना घटी उससे काफी दुख हुआ. हमने कश्मीर में भी बात की, वहां भी लोग चिंता में थे. गड़बड़ करने वाले लोगों पर नजर रखना है जम्मू कश्मीर बाहर नहीं अपने भारत का अंग है.

मुख्यमंत्री ने कहा- वहां सरकार को मजबूती के साथ काम करना होगा. अलग-अलग राजनीतिक दलों के नेताओं ने भी प्रतिक्रिया दी है. बिहार सरकार के अधिकारी और जम्मू कश्मीर के अधिकारी लगातार संपर्क में हैं. जो भी सहायता देना होगा वह बिहार सरकार दे रही है. किसी को भी बाहर जाने का अधिकार है, लेकिन यदि कोई उस पर अटैक करता है या किसी जगह लोगों की हत्या हो रही है तो इस पर सतर्क रहने की जरूरत है .


‘बिहार पूरी तरह से सतर्क’

सीएम ने कहा कि बिहार पूरी तरह से सतर्क है. यहां आपस का झगड़ा ज्यादा नहीं होता है. यहां पुलिस प्रशासन सब सतर्क है. यदि कोई इधर-उधर की बात करता है, आपस में झगड़ा करता है तो उस पर नजर रखी जाती है. बिहार में पहले बहुत दंगा-फसाद होता था. पिछले 15 -16 वर्षों में बिहार की तस्वीर बदल गई है.

‘बाहर से बिहार आने वालों का हो RTPCR टेस्ट’
त्योहार में बाहर से आने वालों को लेकर सीएम नीतीश ने कहा कि जो लोग बिहार आने वाले हैं वह आरटीपीसीआर जांच कराकर ही आएं. यदि उनके पास जांच रिपोर्ट नहीं होगा तो बिहार आने पर उनका जांच भी होगा और उनका टीकाकरण भी किया जाएगा. गांव-गांव में इस बात को प्रचारित किया जाएगा. सतर्क रहिए और होशियार रहिए. सीएम ने कहा कि कोई अपने घर आना चाह रहे हैं तो उन्हें रोका नहीं जा सकता है .कोरोना के दौर में जो परेशान थे, कुछ लोग खुद आये, 21 लाख ट्रेन से आये, जो लोग परेशान थे, वो लगातार फोन पर संपर्क कर रहे थे. बिहार सरकार ने भोजन से लेकर कई तरह से इंतजाम किये. तमाम लोगों से बात होती थी, क्वारंटाइन के समय हमने तमाम लोगों से बात की थी. हम उस दौरान लोगों से राज्य में रहने का अनुरोध कर रहे थे. मुख्यमंत्री ने कहा कि बेतिया के चनपटिया में बहुत अच्छा काम हुआ है. किसी राज्य का आदमी किसी दूसरे राज्य में जाकर काम कर सकता है, इसकी स्वतंत्रता है. यहां दूसरे राज्य के लोगों को नौकरी मिलती है, पूरा देश एक है.

Tags: Bihar News, Bihar politics, CM Nitish Kumar, Jammu kashmir, Kashmir Terror

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर