लाइव टीवी

Ayodhya Verdict: सुशील मोदी बोले- इससे ज्यादा संतुलित फैसला नहीं हो सकता

News18 Bihar
Updated: November 9, 2019, 10:17 PM IST
Ayodhya Verdict: सुशील मोदी बोले- इससे ज्यादा संतुलित फैसला नहीं हो सकता
बिहार के उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि सोशल मीडिया पर ऐसी कोई पोस्ट न डाली जाए जिससे किसी समुदाय की भावना आहत हो. (फाइल फोटो)

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने अयोध्या के मुद्दे (Ayodhya Dispute) पर ऐतिहासिक फैसला (Historic Decision) सुनाते हुए राम मंदिर निर्माण (Ram Temple Construction) का रास्ता साफ कर दिया है.

  • Share this:
पटना. अयोध्या (Ayodhya) विवाद के मामले पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने शनिवार को अपना अहम फैसला सुना दिया. फैसले में रामलला विराजमान को पूरी जमीन और मुस्लिम पक्ष को मस्जिद के लिए अलग से जमीन देने का फैसला सुनाया. वहीं, बिहार के उपमुख्यमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी (Sushil Modi) ने राम मंदिर (Ram Temple) पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है. उन्होंने कहा कि इससे ज्यादा संतुलित फैसला नहीं हो सकता. मस्जिद भी रहेगी और मंदिर भी रहेगा. यह दोनों पक्षों को संतुष्ट करने वाला फैसला है. इसमें न दुखी होने की जरूरत है और न दिवाली मनाने की जरूरत है. इसमें समर्थन और विरोध में धरना जुलूस नहीं होना चाहिए.

उपमुख्यमंत्री ने बिहार के लोगों से अपील करते हुए कहा कि कोई व्यक्ति इस निर्णय का लाभ उठाकर कोई हरकत न करे. सोशल मीडिया पर ऐसी कोई पोस्ट न डाली जाए जिससे किसी समुदाय की भावना आहत हो. इस मुद्दे पर सियासत के सवाल पर सुशील मोदी ने कहा,  'मुझे नहीं लगता कि इस मुद्दे पर अब कुछ बचा है.'

बता दें कि अयोध्या  में राम मंदिर बनने का रास्ता साफ हो गया है. सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या की विवादित जमीन पर रामलला विराजमान का हक माना है. इसके साथ ही राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद  मामले में सुप्रीम कोर्ट ने निर्मोही अखाड़ा तथा शिया वक्फ बोर्ड का दावा खारिज कर दिया.

(इनपुट- अमितेश)

ये भी पढ़ें- 

Ayodhya Verdict: सभी को मान्य होना चाहिए सुप्रीम कोर्ट का फैसला- नीतीश कुमार

Ayodhya Verdict: फैसले से ठीक पहले लालू प्रसाद ने किया ट्वीट, लिखी ये बात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 9, 2019, 4:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...