DGP गुप्तेश्वर पांडे का दुबे को चैलेंज, कहा- हिम्मत है तो बिहार में घुसे, देखें Video
Kanpur News in Hindi

DGP गुप्तेश्वर पांडे का दुबे को चैलेंज, कहा- हिम्मत है तो बिहार में घुसे, देखें Video
बिहार के DGP गप्तेश्वर पांडे ने विकास दुबे को दिया चैलेंज

सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर फरार चल रहे मुख्य आरोपी विकास दुबे (Vikas Dubey) पर अब इनाम की राशि बढ़ाकर ढाई लाख रुपए कर दी गई है.

  • Share this:
पटना. उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) में बिकरू गांव में हुए शूटआउट (Shootout) मामले में पुलिस को फरार अभियुक्त विकास दुबे (Vikas Dubey) की सरगर्मी से तलाश है. इसी बीच हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के बिहार में छिपे होने की खबरों पर राज्य के डीजीपी गप्तेश्वर पांडे ने मंगलवार को बड़ा बयान दिया है. डीजीपी  गप्तेश्वर पांडे ने कहा कि यूपी (कानपुर) में आठ पुलिसकर्मियों हत्या करके (हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे) बिहार में घुस आएगा और यहां से सुरक्षित निकल जाएगा? यह कैसे हो सकता है?

बेटे को लेकर लखनऊ से हुई फरार
दरअसल पता चला है कि एनकाउंटर के फौरन बाद रात 2 बजे विकास दुबे ने पत्नी ऋचा को फोन करके भाग जाने को कहा था. बताया जा रहा है कि ऋचा अपने बेटे को साथ लेकर फरार हो गई. वहीं, भागते वक्त सीसीटीवी कैमरे की डीवीआर भी साथ ले गई है. सूत्रों के अनुसार, ऋचा अपने पति विकास दुबे के हर गुनाह की राजदार है. फिलहाल पुलिस की कई टीमें फरार आरोपी विकास दुबे और उसकी पत्नी ऋचा की तलाश में छापेमारी कर रही हैं.


उधर, सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर फरार चल रहे मुख्य आरोपी विकास दुबे (Vikas Dubey) पर अब इनाम की राशि बढ़ाकर ढाई लाख रुपए कर दी गई है. बता दें इस बड़े हत्याकांड को अंजाम देकर फरार चल रहे विकास दुबे की गिरफ्तारी पुलिस के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है. 40 थानों की फोर्स, एक अहजर से अधिक दरोगा, क्राइम ब्रांच और एसटीएफ की टीम उसकी चप्पे-चप्पे पर तलाश कर रही है. बावजूद उसके 72 घंटे से ज्यादा का वक्त गुजरने के बाद भी विकास दुबे और उसके गुर्गे पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं.



 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज