Bihar Assembly Election 2020: चिराग पासवान के चुनावी गणित में बीजेपी वोटर्स के लिए संदेश

चिराग पासवान भी अब चुनाव कार्यक्रम में जोरशोर से जुट गए हैं.  (फाइल फोटो)
चिराग पासवान भी अब चुनाव कार्यक्रम में जोरशोर से जुट गए हैं. (फाइल फोटो)

Bihar Assembly Election : लोजपा प्रमुख चिराग पासवान (Chirag Paswan) रविवार को बिहार के अलग-अलग इलाकों के चुनावी दौरे पर हैं. चिराग ने सीतामढ़ी में माता सीता के जन्मस्थली पुनौरा धाम में सुबह पूजा की और आशीर्वाद लिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 25, 2020, 9:54 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार में विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) के लिए पहले चरण की वोटिंग से पहले लोक जनशक्ति पार्टी (Lok Janshakti Party) के अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को पसंद न करने वाले बीजेपी (BJP) वोटर्स से उनकी पार्टी एलजेपी को वोट देने की अपील की है.

अपने पिता रामविलास पासवान के निधन के बाद चिराग ने अब बिहार में अपना चुनावी दौरा शुरू कर दिया है. पिछले चार दिनों से चिराग पासवान लगातार बिहार के अलग-अलग हिस्सों में लोगों से मिलकर जनसभा कर रहे हैं और वोट की अपील कर रहे हैं. इस बीच एक बार फिर से चिराग पासवान का बीजेपी (BJP) के प्रति प्रेम उमड़ा है. चिराग ने अपने समर्थकों से साफ-साफ कहा है कि जिस विधानसभा सीट पर लोजपा के प्रत्याशी हों, वहां उन्हें वोट दें और जहां नहीं तो बीजेपी के उम्मीदवार के पक्ष में मतदान करें.





दरअसल, विजयदशमी के दिन चिराग पासवान ने अपने टि्वटर हैंडल से एक ट्वीट किया है, जिसमें बिहार के लोगों से एक अनुरोध किया गया है. चिराग पासवान ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि जहां भी लोक जनशक्ति पार्टी के प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं. उन सभी स्थानों पर बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट को लागू करने के लिए लोजपा के प्रत्याशियों को वोट दें, जबकि अन्य स्थानों पर भारतीय जनता पार्टी के साथियों को अपना वोट दें. चिराग ने नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए लिखा है कि आने वाली सरकार नीतीश मुक्त सरकार बनेगी इसके साथ ही चिराग ने कुछ दिन पहले शुरू किया हुआ टि्वटर #असंभव नीतीश भी लिखा है.

 दरअसल बिहार में चिराग पासवान इस बार एनडीए का हिस्सा नहीं है, लेकिन वह लगातार बीजेपी के साथ होने की बात कह रहे हैं. लोजपा प्रमुख खुले मन से लोगों से कह भी रहे हैं कि इस बार की सरकार नीतीश कुमार के बगैर बनेगी. यही कारण है कि उन्होंने #असंभव नीतीश की मुहिम भी चलाई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज