Bihar Chunav: बेटे के लिए वोट मांगने निकले शत्रुघ्न सिन्हा, बोले- नीतीश मेरे दोस्त मगर बिहार के भविष्य तेजस्वी

पटना में बेटे लव सिन्हा के लिए प्रचार करते शत्रुघ्न सिन्हा और उनकी पत्नी
पटना में बेटे लव सिन्हा के लिए प्रचार करते शत्रुघ्न सिन्हा और उनकी पत्नी

Bihar Election 2020: बिहार विधानसभा चुनाव में पटना की बांकीपुर सीट से शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव इस बार कांग्रेस पार्टी की तरफ से मैदान में हैं, जहां उनका सीधा मुकाबला बीजेपी (BJP) के मौजूदा विधायक नितिन नवीन से है.

  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Election 2020) को लेकर प्रचार का दौर जोरों पर है. बिहार में इस बार के चुनाव में सिनेस्टार और पूर्व सांसद शत्रुघ्न सिन्हा (Shatrughn Sinha) के बेटे लव सिन्हा भी मैदान में हैं. अपने बेटे के लिए पूर्व सांसद और अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा चुनावी मैदान में उतर चुके हैं. चुनाव प्रचार के दौरान शत्रुघ्न सिन्हा को तेजस्वी में बिहार का भविष्य नजर आ रहा है. वो कह रहे हैं कि वर्तमान सरकार से जनता ऊब चुकी है. मैं बाहरी नहीं, बिहारी हूं. जो लोग मुझे और लव को बाहरी कहते हैं वे नादान हैं. विरोधी मुझे भी बिहारी बाबू नहीं, बाहरी बाबू कहते थे लेेकिन मैंने बिहार की आन, बान और शान को बनाए रखा.

सिन्हा ने कहा कि मुझ पर और मेरे परिवार पर कोई इल्जाम नहीं लगा है. मैंने अपनी छवि पाक साफ रखी है. बिहार परिवार के डिमांड और राहुल गांधी के डिमांड पर लव सिन्हा चुनावी मैदान में उतरे हैं. शत्रुघ्न सिन्हा ने इस दौरान केंद्र सरकार और राज्य सरकार पर अपनी भड़ास निकालते हुए कहा कि नीतीश कुमार मेरे अच्छे मित्र हैं. मैने कभी उनके बारे गलत नहीं बोला लेकिन इस बार तेजस्वी और लव सिन्हा की बारी है. तेजस्वी बिहार के भविष्य हैं. तेजस्वी के बारे में मैंने सबसे पहले कहा था कि वो बिहार के भविष्य हैं और 10 नवंबर को तेजस्वी बिहार का वर्तमान बन जाएंगे.

शॉटगन ने कहा कि लालू जी बिहार के एक मात्र मास-लीडर और देश के नेता हैं. तेजस्वी यादव और तेजप्रताप दोनों काफी होनहार हैं. वो बिहार बचाने और बनाने के की बात करते हैं तो लोगों को तकलीफ हो रही है. उन्होंने कहा कि बिहार में बेरोजगारी भुखमरी चरम पर है. कोरोना में हमारे मजदूर पैदल आ रहे थे, रेलवे ट्रैक पर कट गए लेकिन सरकार के पास कोई आंकड़ा नहीं. मजूदरों को आने के लिए ट्रेन नहीं दी गई. कांग्रेस नेता ने कहा कि एनडीए नेताओं ने 10 लाख लोगों के रोजगार देने के मामले पर पहले तेजस्वी का मजाक उड़ाया आज 19 लाख लोगों को खुद रोजगार देने की बात कर रहे हैं अब पैसा कहां से आएगा.



शत्रुघ्न सिन्हा के पुत्र और बांकीपुर से कांग्रेस उम्मीदवार लव सिन्हा ने भी खुद को बाहरी कहे जाने पर एतराज जताते हुए कहा की बिहारी बाबू का बेटा बाहरी कभी नहीं हो सकता है. मुझे कैसे बाहरी कहा जा सकता है. मैं बाहरी हूं तो मेरे पिता बिहारी बाबू क्यों हैं. जब राजा का बेटा राजा नहीं बनेगा, तभी बदलाव आएगा. लव ने कहा कि इस बार तेजस्वी यादव बिहार के सीएम जरूर बनेंगे. बांकीपुर में में मुझे लोगों का समर्थन मिल रहा है. यहां के लोगों को ऐसा विधायक नहीं चाहिए जिसे लोगों के दुःख दर्द से मतलब ना हो, जिसने विपदा में लोगों को भगवान भरोसे छोड़ दिया हो उन्हें वैसा जनप्रतिनिधि नहीं चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज