Bihar Election 2020: पिता रामविलास पासवान के निधन के बाद आज पहली बार चुनाव मैदान में दिखेंगे चिराग

चिराग पासवान(फाइल फोटो)
चिराग पासवान(फाइल फोटो)

Bihar Election: पटना में रामविलास पासवान (Ramvilas Paswan) के श्राद्धकर्म और ब्रह्मभोज के मौक़े पर चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने अपनी पार्टी के सभी जिलाध्यक्षों को पिता का अस्थि कलश सौंपा था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 21, 2020, 8:48 AM IST
  • Share this:
पटना. बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव (Bihar Election) को लेकर लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) बुधवार से चुनाव प्रचार की कमान संभालेंगे. पिता रामविलास पासवान (Ramvilas Paswan) की मौत के कारण चिराग पासवान चुनाव प्रचार के लिए मैदान में नहीं उतर सके थे, लेकिन मंगलवार को लोजपा के दिवंगत नेता का श्राद्धकर्म संपन्न हुआ. इसके बाद बुधवार से चिराग पासवान ने चुनाव प्रचार की कमान संभाल ली. चुनाव प्रचार की शुरुआत करने से पहले चिराग पासवान पटना में लोजपा का घोषणा पत्र 'बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट' विजन डॉक्यूमेंट पेश करेंगे.

लोक जनशक्ति पार्टी से मिली जानकारी के मुताबिक, चिराग पासवान दिन के 1 बजे पटना से सटे पालीगंज में एक जनसभा को संबोधित करेंगे. इसके बाद जहानाबाद में वह रोड शो करेंगे. जहानाबाद के रोड शो के बाद वह गया जिले के अतरी विधानसभा क्षेत्र के लिए खिजरसराय स्थित जसवंत हाई स्कूल में एक जनसभा को संबोधित करेंगे. इन कार्यक्रमों के बाद शाम के 7 बजे चिराग पासवान नवादा में एक रोड शो में हिस्‍सा लेंगे और अपना संबोधन देंगे.

दरअसल, बिहार में इस बार चिराग पासवान और उनकी पार्टी लोजपाा एनडीए से अलग चुनाव लड़ रहे हैं. जहां उनका सीधा मुकाबला जेडीयू से बताया जा रहा है. चुनाव से ठीक पहले चिराग पासवान के पिता और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का निधन हो गया. इसके बाद से वह घर में ही थे. हालांकि, इस दौरान भी चिराग पासवान सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी बातों को रख रहे थे. साथ ही प्रत्याशियों और कार्यकर्ताओं से भी ऑनलाइन मीटिंग के जरिए चुनाव प्रचार के अपडेट ले रहे थे.



चिराग पासवान का चुनावी समर में क्या रोल होगा, यह बुधवार को उनके रोड शो और जनसभा से काफी हद तक पता लग जाएगा. मंगलवार को पटना में हुए रामविलास पासवान के श्राद्ध में सीएम नीतीश कुमार, पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव समेत अन्य बड़े नेता शामिल हुए थे. ऐसे में चिराग के चुनाव प्रचार पर उनके समर्थकों के साथ-साथ विरोधियों की भी नजर रहेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज