Bihar Election 2020: गठबंधन को तगड़ा झटका, RJD के सीनियर नेता भोला राय समेत कांग्रेस के दो MLA JDU में शामिल

चुनाव से पहले गठबंधन को बड़ा झटका.

कांग्रेस विधायक सुदर्शन, पूर्णिमा यादव और रालोसपा प्रवक्ता अभिषेक झा ने भी जेडीयू (JDU) की सदस्यता ले ली है. 

  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) से पहले गठबंधन को बड़ा झटका लगा है. आरजेडी और कांग्रेस ने नाम चेहरों ने जेडीयू का दामन थाम लिया है. आपको बता दें कि आरजेडी (RJD) नेता भोला राय जेडीयू में शामिल हो गए हैं. इसके साथ ही कांग्रेस विधायक सुदर्शन और पूर्णिमा यादव ने भी जेडीयू (JDU) की सदस्यता ले ली है. इसके साथ ही रालोसपा प्रवक्ता अभिषेक झा भी जेडीयू में शामिल हो गए हैं. सभी ने जेडीयू की प्राथमिक सदस्यता ग्रहण की है.

भोला राय, सुदर्शन और पुर्णिमा यादव को सांसद ललन सिंह ने सदस्य्ता दिलाई है. इस दौरान मंत्री अशोक चौधरी, नीरज कुमार, अजय आलोक भी मौजूद रहे. वहीं आरजेडी नेता पंछी राय भी जदयू में शामिल गई हैं. वहीं सांसद ललन सिंह ने कहा कि सभी का जदयू में हार्दिक स्वागत है. भोला राय 3 बार आरजेडी के विधायक रहे हैं. भोला बाबू ने लालू यादव के लिए सीट त्याग दिया था, पर आरजेडी ने उन्हें अपमानित करने का काम किया है. आरजेडी की यही परम्परा रही है.

रघुवंश प्रसाद सिंह के एनडीए जाने की अटकलें

इधर, पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह के आरजेडी छोड़ने के बाद से लगातार उनके एनडीए में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही हैं. जेडीयू संसदीय दल के नेता ललन सिंह ने पहले ही कहा है कि अगर वे एनडीए में आते हैं तो उसका हृदय से स्वागत है. अब हाल में ही एनडीए में आए पूर्व मुख्यमंत्री व हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने उन्हें एनडीए में आने का आग्रह किया है. गया के गोदावरी स्थित आवास पर न्यूज 18 से बात करते हुए पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने रघुवंश प्रसाद सिंह के राजद से इस्तीफा देने को देर से लिया गया कदम बताया है. उन्होंने कहा कि हाल के दिनों में राजद के द्वारा उनकी बेइज्जती की जा रही थी, इसलिए राजद से नाता तोड़ने का उनका निर्णय सराहनीय है और अगर वे एनडीए में आने का निर्णय लेते हैं तो वे व्यक्तिगत रूप से उनका स्वागत करेंगे.



ये भी पढ़ें: गुरुग्राम: बंदूक की नोक पर मां-बेटी से Rape, अश्लील वीडियो बनाकर दी वायरल करने की धमकी

मांझी ने कहा कि रघुवंश प्रसाद सिंह समाजवादी और लोहियावादी नेता हैं जो बेबाकी से अपनी बात रखतें हैं. उन्होंने पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव और राजद को आगे बढाने के लिए काफी मेहनत की है पर हाल कि दिनों में उनकी लगातार बेइज्जती की जा रही थी. कोई भी स्वाभिमानी नेता इस तरह की बेइज्जती बर्दाश्त नहीं कर सकता है. इसलिए उन्होंने राजद से नाता तोड़ने का निर्णय लिया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.