Bihar Election: नीतीश का RJD पर तंज, जनता जानती है पति-पत्नी ने 15 साल में सिर्फ अपना विकास किया

जब 15 साल मिले तब कुछ नहीं किया, अब प्रचार के लिये बेबुनियाद बातें बोल रहे : नीतीश  (फाइल फोटो)
जब 15 साल मिले तब कुछ नहीं किया, अब प्रचार के लिये बेबुनियाद बातें बोल रहे : नीतीश (फाइल फोटो)

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election)को लेकर सभी राजनीति दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. इसी बीच राजनेता एक दूसरे पर जमकर प्रहार भी कर रहे हैं. इस बीच सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने आरजेडी पर तंज कसते हुए कहा है कि 15 साल में पत्‍नी और पति ने सिर्फ अपना विकास किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 15, 2020, 11:04 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ने गुरुवार को विपक्ष सहित अपने विरोधियों पर ‘प्रचार’ पाने के लिये लगातार अपने खिलाफ बेबुनियाद बातें बोलने का आरोप लगाया और कहा कि ऐसे लोगों को बिहार के विकास के कार्यों की समझ और अनुभव नहीं है. उन्होंने विपक्षी राजद पर निशाना साधते हुए कहा कि इन्हें जब 15 साल मौका मिला तब इन्होंने अपना विकास करने के अलावा और कुछ नहीं किया. नीतीश कुमार ने जमुई के चकाई, लखीसरास के सूर्यगढ़ा, शेखपुरा के बरबीघा और पालीगंज में जनसभा को संबोधित करते हुए ये बातें कही. इसके बाद उन्होंने डिजिटल माध्यम से तीन विधानसभा क्षेत्रों की जनता को संबोधित किया. साथ ही नीतीश कुमार ने कहा कि काम में ही हमारा विश्वास है, लेकिन कुछ लोगों को इसकी कोई समझ नहीं है और कुछ भी अनुभव नहीं है. ऐसे लोग अपने प्रचार के लिए मेरे बारे में कुछ भी बोलते रहते हैं. उन्होंने कहा कि अगर उनको ऐसा बोलने से प्रचार मिलता है तो करें. हमें मौका मिलेगा तो और काम करेंगे.

आरजेडी के विकास को जनता ने देखा है और वह जानती है
गौरतलब है कि नीतीश कुमार का यह बयान ऐसे समय में आया है जब राजद के तेजस्वी यादव सहित विपक्ष के कुछ नेता शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार के मुद्दे पर सरकार को कटघरे में खड़ा करने का प्रयास कर रहे हैं. एक दिन पहले ही तेजस्वी ने नीतीश कुमार को नालंदा से चुनाव में उतरने की चुनौती दी थी. तेजस्वी का पूछा था कि वह किसकी सरकार में उपमुख्यमंत्री बने थे और यह सवाल तब क्यों नहीं उठाया गया था कि वह अनुभवहीन हैं?

बहरहाल, नीतीश कुमार ने लालू प्रसाद पर परोक्ष निशाना साधते हुए कहा कि बिहार के विकास को जनता ने देखा है और वह जानती है कि पति पत्नी के 15 साल के कार्यकाल में कितना विकास हुआ? लालू प्रसाद पर प्रहार जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि 15 साल पति-पत्नी ने राज किया, पति जेल गए तो पत्नी आ गईं, लेकिन क्या विकास किया? उन्होंने पूछा कि क्या महिलाओं के लिए कुछ किया? शिक्षा में कुछ किया? स्वास्थ्य में कुछ किया?
नीतीश ने किया ये दावा


नीतीश ने कहा कि जब हमें मौका मिला तो हमने हर क्षेत्र और हर वर्ग के लिए काम किया. शुरू से ही अपराध, भ्रष्टाचार, साम्प्रदायिकता को बर्दाश्त नहीं करने की नीति पर चले. उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी आबादी वाला बिहार राज्य देश में अब अपराध के मामले में 23वें नंबर पर पहुंच गया है.अपनी सरकार के कार्यो का उल्लेख करते हुए कुमार ने कहा कि समाज में जो भी हाशिए पर थे उन सभी के कल्याण के लिए हमने काम किया. पहले कोई शाम होने के बाद घर से नहीं निकल पाता था डर से. कितने नरसंहार होते थे. हमें मौका मिला तो हमने कानून का राज स्थापित किया. हमने न्याय के साथ विकास किया है. हर वर्ग का, हर क्षेत्र का विकास किया है. उन्होंने कहा कि बिहार को आगे बढ़ाने के लिए सात निश्चय - 2 का कार्यक्रम तय किया गया है.

बिहार के मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार के बच्चों को पढ़ने के लिए बाहर जाना पड़ता था. हमने बिहार में ही इंजीनियरिंग, मेडिकल संस्थान बनवाए. हमने युवाओं को आगे बढ़ाने के लिए योजनाएं बनाई. उन्होंने कहा कि हम काम कर रहे हैं लेकिन हमें नई पीढ़ी के लोग चाहिए जो आगे आकर काम करें और नेतृत्व करें. उन्होंने कहा कि हमने जो काम किया है, उसको ऐसे ही नहीं छोड़ेंगे, उन सभी का रखरखाव करेंगे. राजग को जनादेश देने की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि आपका हित कहां समाहित है, आप जानते हैं. अबकी बार मौका मिलेगा तो हर व्यक्ति को समर्थ बनाएंगे कोई गरीब और वंचित नहीं रहेगा. उन्होंने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार से राज्य को सहयोग मिलने का भी जिक्र किया. कुमार ने कहा कि 2005 में राज्य का 24 हजार करोड़ रुपये का भी बजट नहीं था लेकिन अब दो लाख करोड़ रुपए का बजट आ गया है. इसके अलावा उन्होंने महिलाओं के सशक्तीकरण, शराबबंदी, लड़कियों को साइकिल योजना आदि का भी जिक्र किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज