Bihar Election News: तेजस्वी यादव ने 35 हजार से ज्यादा वोटों से बीजेपी के सतीश कुमार को मात दी

तेजस्‍वी ने 2010 में लिस्‍ट ए क्रिकेट और अक्‍टूबर 2009 में टी20 फॉर्मेट में डेब्‍यू किया था. हालांकि उनका क्रिकेट करियर ज्‍यादा लंबा नहीं चल पाया.(फाइल फोटो)
तेजस्‍वी ने 2010 में लिस्‍ट ए क्रिकेट और अक्‍टूबर 2009 में टी20 फॉर्मेट में डेब्‍यू किया था. हालांकि उनका क्रिकेट करियर ज्‍यादा लंबा नहीं चल पाया.(फाइल फोटो)

2020 के बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) में लालू सक्रिय भूमिका में जनता के बीच नहीं हैं और उनकी जगह आरजेडी (RJD) समेत पूरे महागठबंधन की कमान अपने हाथों में उनके बेटे व युवा नेता तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) ने ली है. उन्होंने जीत भी दर्ज कर ली है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 10, 2020, 10:47 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा सीटों के लिए काउंटिंग खत्म हो गई है. हाई प्रोफाइल सीट राघोपुर पर तेजस्वी यादव ने जीत दर्ज कर ली है. बीजेपी के सतीश कुमार को उन्होंने 35 हजार से ज्यादा वोटों से मात दी है. तीसरे स्थान पर एलजेपी कैंडीडेट राकेश रोशन रहे. बता दें कि सभी की निगाहें राघोपुर विधानसभा सीट पर लगी हुई थीं क्योंकि यहांं आरजेडी के सीएम कैंडिडेट तेजस्वी यादव लड़ रहे थे. इस वक्त आरजेडी (RJD) समेत पूरे महागठबंधन की कमान तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) के हाथों में है.

कोरोना संक्रमण के खतरों के बीच भी चुनाव में तेजस्वी यादव की सभाओं में पहुंच रही लाखों की संख्या में भीड़ ने एनडीए की चिंता बढ़ा दी है. सीएम नीतीश कुमार समेत सत्ताधारी दल एनडीए के सभी नेताओं के निशाने पर सीधे तेजस्वी भी हैं. युवा नेता तेजस्वी महगठबंधन की ओर से सीएम उम्मीदवार हैं. रैलियों व सभाओं में उमड़ रही भीड़ क्या महागठबंधन के पक्ष वोट के रूप में तब्दील होगी और क्या अपने पिता की तरह ही तेजस्वी भी जनता के चहेते नेता व मुख्यमंत्री बन पाएंगे, ये चुनाव परिणाम आने के बाद तय हो जाएगा.

सरकार में रह चुके है डिप्टी सीएम
राघोपुर सीट से राज्य के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव चुनाव लड़ रहे हैं. तेजस्वी अब महागठबंधन के सीएम उम्मीदवार हैं. 2015 में, उन्होंने तत्कालीन भाजपा नेता सतीश कुमार को 22 हजार 733 मतों से निर्वाचन क्षेत्र से हराया. इस सीट को राष्ट्रीय जनता दल का गढ़ माना जाता है. उनके पिता लालू प्रसाद यादव और माता राबडी देवी दोनों ने 1995 से 2010 तक राज्य विधानसभा में निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया.
बिहार चुनाव की पल-पल की अपडेट के लिए यहां क्लिक करें



इन वादों के साथ जनता के बीच
तेजस्वी यादव सरकारी नौकरियों की पेशकश के अलावा, तेजस्वी पांच लाख से अधिक संविदा शिक्षकों को वेतनमान देने का वादा कर रहे हैं. उन्होंने आंगनवाड़ी और आशा कार्यकर्ताओं को वेतन बढ़ाने का आश्वासन भी दिया है. पिछले साल के लोकसभा चुनावों में राज्य में केवल 19 सीटों पर आरजेडी ने चुनाव लड़ा, बाकि सीटें सहयोगी दलों के लिए छोड़ दी.

144 सीटों पर चुनाव लड़ रही पार्टी
राजद इस साल के विधानसभा चुनाव में महागठबंधन की ओर से सबसे बड़ा दल है. तेजस्वी के नेतृत्व वाली राजद ने कुल सीटों में 144 पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं. जबकि कांग्रेस ने 70 और तीन वामपंथी दलों के लिए 29 सीटें छोड़ी हैं. शिक्षा के मामले में सिर्फ कक्षा 8वीं तक पढ़ाई करने वाले तेजस्वी चुनाव में सबका ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज