बिहार: दिवाली बाद CM पद की शपथ लेंगे नीतीश कुमार! इस फॉर्मूले के तहत बन सकती है नई सरकार

बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में नयी सरकार बनने की कवायद तेज.
बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में नयी सरकार बनने की कवायद तेज.

सूत्रों के हवाले से खबर है कि बिहार में नई सरकार (New government in Bihar) बनाने का एक फार्मूला तय कर लिया गया है जिसमें BJP और JDU की संख्या बल का कोई फर्क सरकार पर नहीं पड़ेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2020, 6:28 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद प्रदेश में नई सरकार बनने की कवायद भी तेज हो गई है. सूत्रों के अनुसार नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) फिर से बिहार के मुख्यमंत्री बनेंगे इस बात पर एनडीए (NDA) में सर्वसम्मति है. माना जा रहा है कि सीएम नीतीश दिवाली के बाद सातवीं बार सीएम पद की शपथ ले सकते हैं. इस बीच सूत्रों से जो जानकारी निकलकर सामने आ रही है इसके अनुसार गुरुवार को नीतीश कैबिनेट की बैठक हो सकती है और इसके बाद नीतीश मंत्रिपरिषद अपना इस्तीफा राज्यपाल फागू चौहान को सौंप देगा और इसके बाद न ई सरकार के गठन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी.

सूत्रों के हवाले से खबर यह भी है कि सरकार बनाने का भी एक फार्मूला तय कर लिया गया है जिसमें बीजेपी और जनता दल यूनाइटेड के संख्या बल का कोई फर्क सरकार पर नहीं पड़ेगा. सूत्र बताते हैं कि दोनों ही पार्टियों के बराबर सदस्य मंत्रिपरिषद में शामिल रहेंगे.

हालांकि एक जानकारी जो निकल कर सामने आ रही है इसके अनुसार इस बार विधानसभा अध्यक्ष का पद भारतीय जनता पार्टी के खाते में जा सकता है. लेकिन, इसके बारे में अभी किसी भी पक्ष की ओर से कुछ स्पष्ट नहीं किया गया है.

जदयू नेता केसी त्यागी ने कही ये बात
बता दें कि शपथ ग्रहण को लेकर जदयू नेता केसी त्यागी ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि नीतीश कुमार दिवाली के बाद मुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं. बता दें कि नीतीश कुमार अब जब शपथ लेंगे, तो बतौर मुख्यमंत्री वो सातवीं बार पद संभालेंगे. नीतीश कुमार ने सबसे पहले साल 2000 में सीएम के तौर पर शपथ ली थी और उसके बाद 2005, 2010, 2015, 2015, 2017 में शपथ ली थी.





गौरतलब है कि बिहार में इस बार बीजेपी के खाते में 74 सीटें आई हैं, जबकि जदयू के पास सिर्फ 43 सीटें हैं. जबकि HAM-VIP को 4-4 सीटें मिली हैं. भाजपा के नेता व डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने इस जीत का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को भी दिया.उन्‍होंने कहा कि एनडीए में किस दल का कितना संख्या बल है इससे असर नहीं पड़ता है, नीतीश कुमार (Nitish Kumar) हमारे सीएम कैंडिडेट थे और हैं. सुशील मोदी ने कहा कि सरकार चलाने का अंदाज भी पहले जैसा ही रहेगा. डिप्टी सीएम ने कहा कि भाजपा नीतीश कुमार को सीएम बनाएगी और वह इस बात पर कायम है.


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज