सुशील मोदी ने सीएम नीतीश को भी दिया जीत का क्रेडिट, बोले- चिराग ने 25 से 30 सीटों पर पहुंचाया नुकसान

सुशील कुमार मोदी (फाइल फोटो)
सुशील कुमार मोदी (फाइल फोटो)

डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी (Deputy CM Sushil Kumar Modi) ने स्‍पष्‍ट किया है कि भाजपा नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को सीएम बनाएगी और वह इस बात पर कायम है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2020, 3:25 PM IST
  • Share this:

पटना. बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजों में जीत के बाद डिप्टी सीएम सुशील मोदी (Sushil Modi) ने साफ-साफ कहा है कि नीतीश कुमार ही मुख्यमंत्री बनेंगे. उन्होंने कहा कि हमें 150 सीटों तक पहुंचने की उम्मीद थी, लेकिन एलजेपी (LJP) के उम्मीदवारों ने हमें 25 से 30 सीटों का चोट पहुंचाया है. साथ ही सुशील मोदी ने जीत का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को भी दिया. उन्‍होंने आगे कहा कि एनडीए (NDA) में किस दल का कितना संख्या बल है इससे असर नहीं पड़ता है, नीतीश कुमार (Nitish Kumar) हमारे सीएम कैंडिडेट थे और हैं. सुशील मोदी ने कहा कि सरकार चलाने का अंदाज भी पहले जैसा ही रहेगा.


डिप्टी सीएम ने कहा कि भाजपा नीतीश कुमार को सीएम बनाएगी और वह इस बात पर कायम है. कभी नहीं कहा गया कि जिसकी संख्या ज्यादा होगी, सीएम उसी का होगा. पीएम मोदी, अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष ने साफ कर दिया था कि नीतीश ही सीएम रहेंगे. कोई क्या बोलता है इससे फर्क नहीं पड़ता है.

सुशील मोदी ने कहा कि इस जीत का पूरा श्रेय पीएम मोदी और सीएम नीतीश को जाता है. वहीं, सबसे ज्यादा श्रेय बिहार की जनता को है कि चुनौतियों के बीच चौथी बार सेवा का मौका दिया है. लोगों को लग रहा था कि हंग असेंबली होगी, आरजेडी आएगी, लेकिन उनकी सीटें पहले से कम हुईं और चौथी बार हम आए. जनता ने एनडीए काम के आधार पर एनडीए में विश्वास प्रकट किया.

डिप्टी सीएम ने कहा कि मीडिया का आंकलन गलत था. हम लोगों को तो कहीं कोई नाराजगी नहीं दिखाई दे रही थी. इतना काम करने के बाद किस बात की नाराजगी होगी. घर-घर बिजली पहुंचा दी, सड़क पहुंचा दी, घरों में पाइप से पानी पहुंचा रहे हैं. कोरोना वायरस का सामना किया. कहीं कोई नाराजगी नहीं थी. विपक्ष चुनाव में मुद्दे उठाता रहता है. यह किसी के विरोध में वोट नहीं सरकार के पक्ष में वोट था.




भाजपा नेता ने कहा कि चिराग ने नुकसान निश्चित तौर पर किया 25 से 30 सीटों पर नुकसान किया. एलजेपी के पास उम्मीदवार नहीं थे, लेकिन वे हर दल के बागियों को टिकट दे दिया. भ्रामक बयान दे रहे थे, नहीं तो हमारा आंकड़ा 150 से ऊपर जा सकता था. एलजेपी ने जेडीयू का नहीं एनडीए का नुकसान किया है. उनके भविष्य पर कुछ नहीं बोलूंगा बिहार में एनडीए का हिस्सा नहीं हैं, बाकी जगह क्या है नहीं कह सकता.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज