बिहार: सियासी रण में महंगाई की एंट्री, प्‍याज की माला लेकर रैली में पहुंचे तेजस्‍वी यादव

तेजस्वी यादव ने चुनाव में मंहगाई को मुद‌्दा बनाया.
तेजस्वी यादव ने चुनाव में मंहगाई को मुद‌्दा बनाया.

Bihar Elections 2020: बिहार में विधानसभा चुनाव (Assembly Election) के पहले चरण के लिए प्रचार का सोमवार को अंतिम दिन है. ऐसे में हर पार्टी के नेता इलेक्‍शन कैंपेन में जुटे हैं.

  • Share this:
पटना. बिहार (Bihar) में विधानसभा चुनाव (Assembly Election) में पहले चरण में मतदान (Voting) के लिए प्रचार का सोमवार को अंतिम दिन है. ऐसे में हर दल पहले चरण की सभी सीटों पर अपना सौ प्रतिशत देना चाहता है. सियासी सरगर्मी के बीच बिहार चुनाव में अब प्याज की भी एंट्री हो गई है. आरजेडी से मुख्यमंत्री उम्मीदवार तेजस्वी यादव ने चुनाव में प्याज का मुद्दा उठाया है. वे अपने समर्थकों के साथ प्याज की माला लिए हुए नजर आ रहे हैं. साथ ही प्याज की बढ़ती कीमतों के लिए सत्तादल पर जमकर निशाना साध रहे हैं. तेजस्वी यादव ने महंगाई को ही चुनाव में मुख्य मुद्दा बताया है.

एक बयान में तेजस्वी यादव ने कहा कि जब प्याज की कीमत 50-60 रुपये प्रति किलो थी, तब जो लोग प्याज के बारे में बोल रहे थे, वो अब जब 80 रुपये प्रति किलो पार कर गई है, तब चुप हैं. किसान तबाह हो रहे हैं, युवा बेरोजगार हैं. बिहार गरीब है और लोग शिक्षा, नौकरी और चिकित्सा सहायता के लिए पलायन कर रहे हैं. भुखमरी बढ़ रही है.


बीजेपी के लोग पहनते थे माला
तेजस्वी यादव ने कहा कि चुनाव में महंगाई सबसे बड़ा मुद्दा है. बीजेपी के लोग प्याज की माला पहनते थे. अब यह 100 रुपये प्रति किलोग्राम की दर को छूने वाला है. प्रदेश में बेरोजगारी है, भुखमरी बढ़ रही है. छोटे व्यापारी नष्ट हो रहे हैं. गरीबी बढ़ रही है. जीडीपी गिर रही है, हम एक आर्थिक संकट से गुजर रहे हैं. ऐसे में बीजेपी व गठबंधन दल के लोग चुप हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज