कई नदियां खतरे के निशान से ऊपर, बाढ़ से अब तक 200 से ज्यादा लोगों की मौत

आपदा प्रबंधन विभाग ने कहा है कि राज्य में 13 जिलों की 1,260 पंचायतों के 111 प्रखंडों में 88.46 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं.

News18 Bihar
Updated: July 30, 2019, 10:08 AM IST
कई नदियां खतरे के निशान से ऊपर, बाढ़ से अब तक 200 से ज्यादा लोगों की मौत
बिहार में बाढ़
News18 Bihar
Updated: July 30, 2019, 10:08 AM IST
बिहार में बाढ़ की समस्या विकराल होती जा रही है. राज्य में बाढ़ से 13 जिलों में 88.46 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. बाढ़ के तांडव में राज्य भर में अब तक 200 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. मौत का यह आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है. आधिकारिक आंकड़ों की बात करें तो आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक बाढ़ से मरने वालों की संख्या 127 हो गई है.

अब भी कई नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं. कोसी, बूढ़ी गंडक, बागमती, परमान और अधवारा समूह की नदियां भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं. वहीं, महानंदा नदी भी कटिहार में खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं.

सीतामढ़ी में सबसे ज्यादा मौत 
बाढ़ से सबसे ज्यादा 37 लोगों की मौत सीतामढ़ी में हुई है. मधुबनी में 30, अररिया (12), दरभंगा (12), शिवहर (10), पूर्णिया (9), किशनगंज (7), मुजफ्फरपुर (4), सुपौल (3), पूर्वी चंपारण (2) और सहरसा में एक व्यक्ति की मौत हुई है.

सरकार ने कहा 127 की हुई मौत
सरकारी आंकड़ों की बात करें तो बिहार सरकार ने अब तक 127 लोगों के मौत की पुष्टि की है. आपदा प्रबंधन विभाग ने कहा है कि राज्य में 13 जिलों की 1,260 पंचायतों के 111 प्रखंडों में 88.46 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं.

(एजेंसी इनपुट के साथ)
Loading...

ये भी पढ़ें- 

बिहार: बाढ़ के बीच कम बारिश से 12 जिलों में सूखे के हालात 

बिहार में बाढ़ का कहर, देखते ही देखते बह गई सड़क 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 30, 2019, 9:19 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...