लाइव टीवी

बिहार सरकार अब खुद चलाएगी शेल्टर होम, 12 जिलों 500 करोड़ खर्च कर होगा निर्माण
Patna News in Hindi

jyoti mishra | News18Hindi
Updated: February 7, 2020, 10:35 PM IST
बिहार सरकार अब खुद चलाएगी शेल्टर होम, 12 जिलों 500 करोड़ खर्च कर होगा निर्माण
इस संबंध में समाज कल्याण मंत्री राम सेवक सिंह ने कहा कि सरकार के लिए मुजफ्फरपुर की घटना के बाद सतर्कता बेहद जरूरी है और इसी के चलते राज्‍य सरकार अब खुद इनका निर्माण करवाने जा रही है. (प्रतीकात्मक फोटो)

समाज कल्याण विभाग अब 12 जिलों में जमीन अधिगृहित कर जल्द ही शेल्‍टर होम बनाने की प्रक्रिया शुरू करने वाला है. जानकारी के अनुसार शुरुआत में ये शेल्टर होम 12 जिलों में बनाए जाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 7, 2020, 10:35 PM IST
  • Share this:
पटना. मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड से सीख लेते हुए बिहार सरकार ने अब खुद शेल्टर होम चलाने का फैसला किया है. समाज कल्याण विभाग अब 12 जिलों में जमीन अधिगृहित कर जल्द ही शेल्‍टर होम बनाने की प्रक्रिया शुरू करने वाला है. जानकारी के अनुसार, शुरुआत में ये शेल्टर होम 12 जिलों में बनाए जाएंगे. इसके लिए 500 करोड़ रुपये का बजट रखा गया है. सूत्रों के अनुसार, कैबिनेट से भी इसे मंजूरी मिल गई है और जमीन का भी अधिगृहण हो गया है.

इन जिलों में होगा निर्माण
शेल्टर होम का निर्माण सीवान, मुजफ्फरपुर, वैशाली, गोपालगंज, बक्सर, गया, भागलपुर, पूर्णिया, भोजपुर, शिवहर, गोपालगंज में होगा. इनका निर्माण पांच एकड़ की भूमि पर होगा. इनमें 200 बच्चों को उम्र के हिसाब से अलग-अलग ब्लॉक में रखा जाएगा.

कौशल विकास के तहत ट्रेनिंग भी



इन शेल्टर होम्स में बच्चों को स्वावलंबी बनाने के लिए कौशल विकास के तहत अलग-अलग ट्रेनिंग भी दी जाएगी. साथ ही इनमें सीसीटीवी लगाए जांगे और इनका कंट्रोल रूम मेन सेंटर में बनाया जाएगा. वहीं सुरक्षा के लिहाज से बाहरी दीवार 12 फीट ऊंची अैर अंदर 15 फीट ऊंची दीवार बनाई जाएगी. इन होम्स में शिक्षक के साथ ही 24 घंटे एक डॉक्टर मौजूद रहेगा. शेल्टर होम के परिसर में ही स्टाफ क्वार्टर का भी निर्माण किया जाएगा.

शेल्टर होम कांड के बाद सतर्कता जरूरी
इस संबंध में समाज कल्याण मंत्री राम सेवक सिंह ने कहा कि सरकार के लिए मुजफ्फरपुर की घटना के बाद सतर्कता बेहद जरूरी है और इसी के चलते राज्‍य सरकार अब खुद इनका निर्माण करवाने जा रही है और इसमें सुरक्षा दुरुस्त रखी जाएगी. पहले शेल्टर होम एनजीओ के साथ मिलकर चलाए जाते थे, जिसके चलते सुरक्षा में चूक सामने आई.

उन्होंने बताया कि फिलहाल 12 जिलों को चुना गया है जहां पर इनका निर्माण होगा. वहीं समाज कल्याण विभाग के अपर मुख्य सचिव अतुल प्रसाद ने कहा कि इन शेल्टर होम्स में बच्चों की सुरक्षा, शिक्षा और स्वास्‍थ्य का खास ध्यान रखा जाएगा. सीसीटीवी के जरिए इनकी मॉनिटरिंग भी की जाएगी. इनका निर्माण अप्रैल से शुरू कर दिया जाएगा और एक साल में ये बनकर तैयार हो जाएंगे.

 

ये भी पढ़ेंः

स्कूल में सिर्फ 1 छात्रा, पढ़ाने के लिए 2 शिक्षक, हर महीने का खर्च 59 हजार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 7, 2020, 10:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर