लाइव टीवी

पटना में जलभराव को लेकर बड़ी कार्रवाई, 27 अफसरों पर गिरी गाज

Sanjay Kumar | News18Hindi
Updated: February 10, 2020, 11:25 PM IST
पटना में जलभराव को लेकर बड़ी कार्रवाई, 27 अफसरों पर गिरी गाज
अनुपम कुमार सुमन पर भी गंभीर आरोप है की उन्होंने अपने कर्तव्य पालन में बड़ी लापरवाही बरती है. आरोप है कि उन्होंने मानसून को लेकर पहले से किसी तरह की कोई प्लानिंग नहीं की. (फाइल फोटो)

नगर विकास विभाग के सचिव आनंद किशोर ने न्यूज़ 18 से इस कार्रवाई की पुष्टि की है. जल जमाव के बाद गठित जांच समिति की रिपोर्ट और इस पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सहमति के बाद यह कार्रवाई की गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 10, 2020, 11:25 PM IST
  • Share this:
पटना. पिछले साल पटना में हुए भीषण जल जमाव के बाद विकास आयुक्त की आई जांच रिपोर्ट को देखते हुए आखिर बिहार सरकार ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया. इसके पीछे जिम्मेदार 27 अफसरों पर अब गाज गिरी है. इन अफसरों को निलंबित और कुछ को कार्यमुक्त करने का फैसला लिया गया है. जिन अधिकारियों पर कार्रवाई हुई है उनमें बुडको के तत्कालीन प्रबंध निदेशक और आईएएस अधिकारी अमरेन्द्र प्रसाद सिंह का नाम भी शामिल है. पटना नगर निगम के तत्कालीन आयुक्त अनुपम कुमार सुमन  के खिलाफ कार्रवाई के लिए केन्द्र सरकार से बिहार सरकार अनुशंसा करेगी. जल जमाव के लिए दोषी 14 अभियंताओं को भी निलंबित कर विभागीय कार्यवाही करने का फैसला लिया गया है, वहीं संविदा पर नियुक्त 7 अभियंताओं को कार्युमक्त करने का निर्णय हुआ है.

सीएम की सहमति के बाद हुई कार्रवाई
नगर विकास विभाग के सचिव आनंद किशोर ने न्यूज़ 18 से इस कार्रवाई की पुष्टि की है. जल जमाव के बाद गठित जांच समिति की रिपोर्ट और इस पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सहमति के बाद यह कार्रवाई की गई है. जिन अधिकारियों पर कार्रवाई हुई है उनके खिलाफ गंभीर आरोप हैं. बुडको के तत्कालीन एमडी पर पंप हाउस की व्यवस्था की मॉनिटरिंग और संचालन की व्यवस्था की समीक्षा नहीं करने का आरोप है.

तत्कालीन नगर आयुक्त और वर्तमान में अपने मूल कैडर में वापस गए हैं. अनुपम कुमार सुमन पर भी गंभीर आरोप है की उन्होंने अपने  कर्तव्य पालन में बड़ी लापरवाही बरती है. आरोप है कि उन्होंने मानसून को लेकर पहले से किसी तरह की कोई प्लानिंग नहीं की.

नगर निगम के चार कार्यपालक पदाधिकारियों पर भी कार्रवाई हुई है. पूनम कुमारी कंकड़बाग अंचल, बिरेन्द्र तरूण बांकीपुर अंचल के अलावा शैलेश कुमार नूतन राजधानी अंचल और मनीष कुमार  जो पाटलिपुत्र अंचल में पोस्टेड थे उन पर भी कार्रवाई हुई है. इन पर नालों की साफ-सफाई में खानापूर्ति करने का आरोप है. बुडको के तत्कालीन मुख्य अभियंता भवानी नंदन और अधीक्षण अभियंता रामचंद्र प्रसाद समेत विभिन्न विभागों से बुडको में प्रतिनियुक्त 14 अभियंताओं पर भी निलंबन की कार्रवाई हुई है. इसके अलावा संविदा पर कार्यरत 7 अभियंताओं को कार्यमुक्त करने की तैयारी कर ली गई है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 10, 2020, 11:25 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर