होम /न्यूज /बिहार /बिहार इन्वेस्टर्स मीट: अडानी ग्रुप ने की बिहार सरकार की तारीफ, नीतीश-तेजस्वी ने कही यह बात

बिहार इन्वेस्टर्स मीट: अडानी ग्रुप ने की बिहार सरकार की तारीफ, नीतीश-तेजस्वी ने कही यह बात

राज्य में उद्योगों की स्थापना के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में आयोजित  'बिहार इन्वेस्टर्स मीट'.

राज्य में उद्योगों की स्थापना के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में आयोजित 'बिहार इन्वेस्टर्स मीट'.

Bihar News: पटना स्थित संवाद में राज्य में उद्योगों की स्थापना के लिए आयोजित 'बिहार इन्वेस्टर्स मीट' में अडानी ग्रुप, म ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

बिहार इन्वेस्टर्स मीट का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उद्घाटन किया.
देशभर के कई उद्योगपति व उनके प्रतिनिधि ने बिहार की तारीफ की.
CM नीतीश कुमार ने उद्योगपतियों को सहूलियतें देने का वादा किया.

पटना. बिहार इन्वेस्टर्स मीट में देशभर के कई उद्योगपति व उनके प्रतिनिधि शामिल हुए. इस दौरान प्रदेश की उद्योग नीति की उद्योपतियों ने प्रशंसा की. कुछ ने उद्योगपतियों के लिए और सहूलियत की मांग रखी तो कुछ ने नए क्षेत्रों को भी उद्योग का दर्जा दिए जाने की मांग उठाई. वहीं, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने उद्योगपतियों राज्य में पूरी सुरक्षा का वादा किया. पटना स्थित संवाद में राज्य में उद्योगों की स्थापना के लिए आयोजित ‘बिहार इन्वेस्टर्स मीट’ की अध्यक्षता करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में निवेश का सकारात्मक माहौल बन रहा है. जिससे राज्य में निवेश के लिए उद्योगपतियों की दिलचस्पी बढ़ रही है.

बता दें कि इससे पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उद्घाटन किया. इस दौरान सीएम और डिप्टी सीएम के अलावा मंत्री विजय चौधरी, समीर महासेठ समेत अन्य नेता मौजूद रहे. उद्योगपति राजेश अग्रवाल ने बिहार की इंडस्ट्री पॉलिसी की तारीफ की और कहा, इथनॉल इंडस्ट्री लगाने में सरकार ने भरपूर मदद पहुंचाई है. जहां भी मुश्किल आई सरकार ने तत्काल इसे दूर किया. बिहार की डेमोग्रफी सबसे बेहतर है, लेकिन सुरक्षा को लेकर और बेहतर व्यवस्था करने की जरूरत है.

अडानी ग्रुप से विक्रम जय सिंघानिया ने अपनी बात रखते हुए कहा, अडानी ग्रुप बिहार की इंडस्ट्री पॉलिसी से बहुत खुश है. यही कारण है कि राज्य में अडानी लॉजिस्टिक ने कई जिलों में काम शुरू कर दिया है. अडानी की सफलता की स्टोरी बिना बिहार के अधूरी है. जय सिंघानिया ने लॉजिस्टिक को उद्योग का दर्जा देने की मांग रखते हुए कहा कि बियाडा के लैंड एक्यूजिशन में लॉजिस्टिक को भी शामिल किया जाए.

अडानी ग्रुप के विक्रम जय सिंघानया ने सुरक्षा को लेकर बड़ा बयान देते हुए कहा, जब आया था तो सुरक्षा को लेकर बड़े सवाल थे. मगर सरकार ने जिस तरीके से साथ दिया वो बेहतर था. सरकार का सुरक्षा को लेकर कारवाई प्रभावित करने वाला है. सुरक्षा को लेकर यहां कोई समस्या नहीं. अडानी ग्रुप बिहार में और इंडस्ट्री लगाएगा.

मोंटे कार्लो ग्रुप के ऋषभ घोषवाल, बीपीसीएल के एसके जैन और टीवीएस के रामनाथ सुब्रमण्यम ने भी अपनी बात रखी. इन्होंने बिहार में बड़े उद्योग लगाने की तैयारी की बात कही. इसके साथ ही सिंगल विंडो सिस्टम को और सुधारने का सुझाव दिया. उद्योगपति सिद्धार्थ मिश्रा कमार्शियल कंपनी ने अपनी बात रखते हुए कहा कि बिहार के उद्योग विभाग रफ्तार से काम करना शुरू किया है. जीविका आज उद्योग के लेबरफोर्स को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही. चंपारण मॉडल और मुजफ्फरपुर मॉडल बिहार का सबसे बेहतर मॉडल है.

सीएम नीतीश कुमार ने कहा, उद्योगपतियों को जो भी परेशानियां होंगी उसे फौरन दूर किया जायेगा. कोरोना में जो भी बाहर से आए उनका स्वागत किया. बाहर से आकर लोगों ने बेहतर काम शुरू किया है. नई औद्योगिक प्रोत्साहन नीति को बेहतर बनाया गया है. 2007 में ही बिहार ने इथेनॉल का कानून बनाया था. केंद्र सरकार को भेजा था पर सरकार ने मंजूर नहीं किया. उस समय मंजूरी मिल जाति तो और बेहतर होता.

सीएम नीतीश कुमार ने कहा, उद्योग के लिए हमने सख्ती बरती है. इथेनॉल को घूमकर हमने घूमकर देखा है. मैंने सबसे पूछा है कि कोई समस्या है तो मुझे बताएं. सभी एसपी और डीएम को निर्देश दे दिया गया है. जो भी गलत करे उसे किसी कीमत पर न छोड़ें. उद्योगपति को जहां भी, जो भी तंग करने की कोशिश करेगा उसे नहीं छोड़ा जाएगा. जहां से खबर मिले वहां फौरन कार्रवाई करे. किसी को भी किसी कीमत पर ना छोड़ें. आप लोग किसी बात की चिंता न करें, आप लोग बिहार आ रहे हैं इसे देखकर खुशी हो रही है.

इससे पहले डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने अपने संबोधन में सभी उद्योगपतियों का स्वागत करते हुए कहा, ऐसे कार्यक्रम के जरिए नॉलेज पार्टनर बनाया जाना चाहिए. अब बिहार के बाहर काम कर रहे अधिकारियों को बिहार आने का मन कर रहा. मैं पहले दिल्ली में पढ़ता था और खेलता था. बिहार में सुविधाएं क्यों नहीं हो सकतीं, ये सोचता था. जो काम बांग्लादेश कर सकता है. वो काम बिहार में कैसे नहीं हो सकता.

तेजस्वी यादव ने कहा, आज बिहार सरकार आपको दिल से स्वागत कर रही है. बिहार सरकार हमेशा फ्लेक्सिबल है. जो सुझाव आपकी तरफ से आएंगे उसे तत्काल लागू किया जाएगा. सीएम नीतीश जी के नेतृत्व ने इंफ्रास्ट्रक्चर में बेहतर काम हुआ है. कतर से लोग फ्रेश सब्जी के लिए बिहार पहुंचे. बिहार उन्हें फ्रेश सब्जी उपलब्ध करा सकता है. कई क्षेत्रों में फूड प्रोसेसिंग का बेहतर काम हो सकता है. आज बिहार के छात्र आईटी में दूसरे राज्य में बेहतर काम कर रहे. आईटी क्षेत्र में SEZ लाने से क्रांति आ सकती है.

डिप्टी सीएम ने आगे कहा, बिहार का परसेप्शन बदल रहा है. आज मीडिया बिहार की अलग तस्वीर दिखाता है. मीडिया की तस्वीर से परसेप्शन बनाने की जरूरत नहीं. रातोंरात बिहार जंगलराज कैसे बन गया? सभी के सुरक्षा के लिए बिहार प्रतिबद्ध है. जहां पुलिस थाना की जरूरत है, वह भी बन जाएगा. बिहार पूरी तरह तैयार है और बस टेक ऑफ करने की जरूरत है.
तेजस्वी ने मीडियाकर्मियों को सलाह देते हुए कहा कि वे लोग भी बिहार के ही हैं, वो भी साथ दें.

विकास आयुक्त विवेक सिंह ने कहा, नए उद्योगों के लिए 56 दिन का टारगेट तैयार किया गया है. 56 दिन में नए उद्योग के लिए सभी काम पूरा हो जाएगा. जमीन को लेकर समस्याएं खत्म की गई हैं. देश में अतिथि देवो भवः होता है. बिहार में अतिथि महादेवो भवः है. वहीं, डीजीपी एस के सिंघल ने कहा, बिहार की पुलिस लॉ एंड ऑर्डर के लिए प्रतिबद्ध है. उद्योग के लिए पुख्ता सुरक्षा देना हमारा दायित्व है.

डीजीपी ने कहा, NCRB के डाटा के मुताबिक बिहार में अपराध लगातार कम हुआ है. महिला सुरक्षा को लेकर बेहतर व्यवस्था है. ज्यादा से ज्यादा नई भर्तियां कर व्यवस्था और मजबूत की जा रही है. बिहार में 20 हजार पुलिस को ट्रेनिंग करने की घर में सुविधा है. बिहार पुलिस को CISF की तर्ज पर ट्रेनिंग देकर लगाया जा रहा. 112 डायल नंबर ने पूरी सुविधा बढ़ाई है. बिहार में उधोग लगाने वाले उद्योगपति बेफिक्र रहें, उन्हें हर प्रकार की सुरक्षा दी जाएगी.

उद्योग मंत्री समीर महासेठ ने उद्योगपतियों को बिहार आने का न्योता देते हुए कहा, जिस विश्वास के साथ बिहार में आए हैं इसको बनाए रखा जायेगा. सभी उद्योगपतियों का बिहार में स्वागत है. सभी जिलों के डीएम और एसपी आज की बैठक में जुड़े हुए हैं. बिहार में स्किल्ड मजदूरों की कमी नहीं है. कोरोना में लौटकर आए स्किल्ड मजदूरों को काम दिया गया. 2 महीने में 17 हजार मजदूरों को रोजगार दिया गया. मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने कहा, उद्योगपतियों की हर छोटी से छोटी समस्या को तत्काल खत्म किया जायेगा.

वित्त मंत्री विजय चौधरी ने कहा, आपका बिहार में क्या महत्व है, हमें पता है. पूरी सरकार आपके सामने बैठी है. बहुत बड़े उधोग की हमें कामना नहीं है. आपलोग पर पूरा विश्वास सरकार का है. जो बाहर से उद्योगपति आए हैं अब वो सफलता की बात कर रहे हैं. बिहार आने से पहले लोग हिचकिचाते हैं, लेकिन एकबार बिहार आ जाते हैं तो देखकर फिर वापस नहीं जाना चाहते हैं.

Tags: Bihar News, CM Nitish Kumar, RJD leader Tejaswi Yadav

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें