Home /News /bihar /

बिहार विधानपरिषद के 199वें सत्र का समापन, जानिए किन-किन विधेयकों के लिए रखा जाएगा याद

बिहार विधानपरिषद के 199वें सत्र का समापन, जानिए किन-किन विधेयकों के लिए रखा जाएगा याद

बिहार विधानपरिषद का शीतकालीन सत्र समाप्त हो गया.

बिहार विधानपरिषद का शीतकालीन सत्र समाप्त हो गया.

Bihar: इस बार पांच दिवसीय शीतकालीन सत्र में कई विधेयक पारित किए गए. पारित होने वाले विधेयकों में बिहार तकनीकी सेवा आयोग संशोधन विधेयक 2021, बिहार निजी विश्वविद्यालय संशोधन विधेयक 2021, बिहार कृषि दाखिल खारिज संशोधन विधेयक 2021, बिहार विनियोग संख्या 4 विधेयक 2021 शामिल हैं.

अधिक पढ़ें ...

पटना. बिहार विधानपरिषद (Bihar Legislative Council ) का 199वां सत्र शुक्रवार को संपन्न हुआ. इस बार पांच दिवसीय शीतकालीन सत्र (Winter Session) में कई विधेयक पारित किए गए. पारित होने वाले विधेयकों में बिहार तकनीकी सेवा आयोग संशोधन विधेयक 2021, बिहार निजी विश्वविद्यालय संशोधन विधेयक 2021, बिहार कृषि दाखिल खारिज संशोधन विधेयक 2021, बिहार विनियोग संख्या 4 विधेयक 2021 शामिल हैं. समापन के आखिरी दिन विधानपरिषद के कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह ने कहा कि यह वैसा सत्र था जिसमें अधिक से अधिक प्रश्न का जवाब मिल सका. उन्होंने कहा कि इस सत्र में नेशनल ई विधान (E Vidhan) के कारण समय की काफी बचत हुई. इस सत्र में कुल 175 प्रश्नों की सूचनाएं प्राप्त हुई जिनमें से 165 प्रश्नों को स्वीकृत किया गया, कुल 62 प्रश्न उत्तरित हुए. सभापति ने कहा कि इस सत्र के लिए ध्यानाकर्षण के कुल 45 सूचनाएं प्राप्त हुई थी, जिनमें 27 सूचनाएं सदन के कार्यक्रम पर लाए जाने के लिए स्वीकृत की गई.

सभापति ने बताया कि शून्यकाल की कुल 30 सूचनाओं के माध्यम से सरकार का ध्यान आकृष्ट किया गया जिनमें से दो सूचनाओं को अस्वीकृत किया गया, सभापति ने बताया कि निवेदन की कुल 42 सूचनाएं प्राप्त हुई और इन सभी सूचनाओं को स्वीकृत किया गया. उन्होंने बताया कि इन सभी 42 को सदन की सहमति से निवेदन समिति को सुपुर्द कर दिया गया.

कार्यकारी सभापति ने बताया कि नेशनल विधान के माध्यम से 66 तारांकित प्रश्नों के ऑनलाइन उत्तर प्राप्त हुए आवश्यक अनुसूचित प्रश्नों के उत्तर प्राप्त हुए जबकि 16 ध्यानाकर्षण सूचनाओं को के ऑनलाइन उत्तर प्राप्त हुए हैं. हालांकि शीतकालीन सत्र के छोटा होने को लेकर विपक्ष ने सवाल भी उठाए.

राजद के रामबली चंद्रवंशी और कांग्रेस एमएलसी प्रेम चंद मिश्रा ने कहा कि सत्र को लंबा होना चाहिए था. वहीं सत्ता पक्ष की माने तो सत्र भले ही छोटा था लेकिन इसमें कई महत्वपूर्ण विधेयक पारित हुए और जनहित से जुड़े कई मुद्दों पर गहन विचार विमर्श हुआ.

Tags: Bihar Legislative Council, Bihar News, Hindi news, PATNA NEWS

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर