बिहार विधान परिषद में उठा अफसर के रात में महिला प्रोफेसर्स से बात करने का मुद्दा, अब स्पीकर कराएंगे जांच

बिहार विधान परिषद में उठा महिला प्रोफेसरों से रात में बात करने का मुद्दा.

बिहार विधान परिषद में उठा महिला प्रोफेसरों से रात में बात करने का मुद्दा.

Bihar Legislative Council News: पटना विधान परिषद में एक सदस्य ने पशु चिकित्सा विभाग के एक अफसर का नाम लेकर रात में कॉलेज की महिला प्रोफेसरों से फोन पर बात करने का आरोप लगाया है. स्पीकर ने इसे गंभीरता से लेते हुए जांच के आदेश दे दिए.

  • Last Updated: March 18, 2021, 11:28 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधान परिषद में गुरुवार को ध्यानाकर्षण के दौरान बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय में अनियमितता का मामला उठा. राजद एमएलसी सुनील कुमार सिंह, रामचंद्र पूर्वे, रामबली सिंह और मोहम्मद फारूक ने कॉलेज के कुलपति पर गंभीर आरोप लगाया और कुलपति द्वारा की गई अनियमितता की जांच कराने की मांग की.

विधान परिषद के एक अन्य सदस्य सुनील कुमार सिंह ने कॉलेज के एक पदाधिकारी पर देर रात 12 से एक बजे के बीच महिला प्रोफेसरों से बात करने का भी आरोप लगाया. उन्होंने दावा किया कि उनके पास संबंधित प्रमाण भी है. इस पर सभापति अवधेश नारायण सिंह ने कहा कि वह कौन है, जो रात में महिला प्रोफेसरों से बात करता है? इस पर सुनील कुमार सिंह ने नाम भी बता दिया.

सभापति ने मामले को गंभीर मानते हुए पशु एवं मत्स्य विभाग के मंत्री मुकेश साहनी को इसकी जांच कराने को कहा. दोषी पाए जाने पर संबंधित अधिकारी पर एफआइआर दर्ज करने को भी कहा गया. सभापति ने कुलपति पर लगे आरोपों की भी जांच कराकर मंत्री को 23 मार्च को सदन में इसका विस्तृत उत्तर देने का निर्देश दिया.

मंत्री मुकेश सहनी ने सदन को बताया कि पशुपालन विभाग द्वारा वेटनरी कॉलेज के कुलपति पर लगाए गए अनियमितता के आरोपों की जांच अभी चल रही है. सप्ताह भर में जांच की फाइल राज्यपाल के पास पहुंच जाएगी. राज्यपाल का जो भी आदेश होगा वह लागू होगा. वहीं पदाधिकारी द्वारा महिला प्रोफेसरों से रात में बात करने के मामले की भी उन्होंने जांच कराकर उचित कार्रवाई  का सदन को  भरोसा दिलाया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज