अपना शहर चुनें

States

'तेजस्वी-तेजप्रताप विवाद के कारण RJD को हुआ नुकसान, तेजप्रताप के विरुद्ध हो कार्रवाई'

रघुवंश प्रसाद सिंह (फाइल फोटो)
रघुवंश प्रसाद सिंह (फाइल फोटो)

पूर्व सीएम राबड़ी देवी के आवास पर होने वाली समीक्षा बैठक से पहले रघुवंश प्रसाद सिंह के ये तेवर बता रहे हैं कि पार्टी में सब कुछ ठीक नहीं है. हार के कारणों की तलाश तो की जा रही है, लेकिन इस आड़ में खेमेबाजी की राजनीति भी शुरू हो गई है.

  • Share this:
लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद से आरजेडी में तूफान से पहले वाला सन्नाटा नजर आ रहा है. इस बीच तेजस्वी यादव की नेतृत्व क्षमता पर सवाल उठ रहे हैं. वहीं कई लोग इस करारी शिकस्त के लिए लालू परिवार के भीतर मचे द्वद्व को भी जिम्मेदार मान रहे हैं. आरजेडी नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव और बड़े बेटे तेजप्रताप यादव के बीच के विवाद के कारण पार्टी को भारी नुकसान हुआ है. तेजप्रताप के विरुद्ध पार्टी को कार्रवाई करनी चाहिए.

पूर्व सीएम राबड़ी देवी के आवास पर होने वाली समीक्षा बैठक से पहले रघुवंश प्रसाद सिंह के ये तेवर बता रहे हैं कि पार्टी में सब कुछ ठीक नहीं है. हार के कारणों की तलाश तो की जा रही है लेकिन इस आड़ में खेमेबाजी की राजनीति भी शुरू हो गई है.

ये भी पढ़ें- बिहार: 'खामोश' तेजप्रताप यादव क्या करने वाले हैं?



राजद में असंतोष के स्वर
इस बीच लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद राजद में असंतोष के स्वर तेज होने लगे हैं. दरअसल पार्टी के कुछ सीनियर नेता इस हार के लिए तेजप्रताप यादव को भी एक हद तक जिम्मेदार मान रहे हैं.
पार्टी को लेकर उनके स्टैंड के खिलाफ दबी जुबान से ही सही कई नेता तेजप्रताप का विरोध कर चुके हैं.

बता दें कि लोकसभा चुनाव में पार्टी को दो सीटों पर तेजप्रताप यादव के कारण हार का सामना करना पड़ा है. ये सीटें जहानाबाद और शिवहर हैं. हालांकि शिवहर सीट से उनके प्रत्याशी अंगेश कुमार सिंह का नामांकन रद्द हो गया था, लेकिन जहानाबाद सीट पर हराने में तेजप्रताप का फैक्टर पूरी तरह से काम कर गया था.

विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक RJD की समीक्षा बैठक में तेजप्रताप यादव की बगावत से हुए नुकसान का मुद्दा भी उठेगा. वहीं तेजस्वी यादव की नेतृत्व क्षमता पर भी सवाल खड़े किए जाएंगे.

इनपुट- अमित कुमार

ये भी पढ़ें-
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज