Bihar Board Result 2020: 5 साल पहले मैट्रिक परीक्षा की इस तस्वीर ने खोली थी कई दावों की पोल
Patna News in Hindi

Bihar Board Result 2020: 5 साल पहले मैट्रिक परीक्षा की इस तस्वीर ने खोली थी कई दावों की पोल
मैट्रिक परीक्षा एक सेंटर की इस तस्वीर ने इतनी बड़ी सुर्खियां बटोरी कि भारत ही नहीं, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बिहार बोर्ड की चर्चाएं होने लगी. आपको याद दिला दें कि अंतरराष्ट्रीय मीडिया CNN ने भी इस तस्वीर को अपने कवर पेज पर स्थान दिया था.

मैट्रिक परीक्षा एक सेंटर की इस तस्वीर ने इतनी बड़ी सुर्खियां बटोरी कि भारत ही नहीं, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बिहार बोर्ड की चर्चाएं होने लगी. आपको याद दिला दें कि अंतरराष्ट्रीय मीडिया CNN ने भी इस तस्वीर को अपने कवर पेज पर स्थान दिया था.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
पटना. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (BSEB) की तरफ से मंगलवार को मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट जारी कर दिया गया. लेकिन इस रिजल्ट के साथ ही साल 2015 में हुई परीक्षा के दौरान की एक तस्वीर की भी याद हो आई, जिसने पूरी दुनिया के सामने बिहार बोर्ड की भद्द पिटवा दी थी.

बिहार बोर्ड के 2015 की मैट्रिक परीक्षा को इसी तस्वीर के साथ अब याद किया जाता है. हालांकि उसके बाद बोर्ड ने व्यापक बदलाव किया. परीक्षा आयोजन से लेकर रिजल्ट प्रकाशित करने तक अतिरिक्त सावधानी बरती जाती है. मैट्रिक परीक्षा एक सेंटर की इस तस्वीर ने इतनी बड़ी सुर्खियां बटोरी कि भारत ही नहीं, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बिहार बोर्ड की चर्चाएं होने लगी. आपको याद दिला दें कि अंतरराष्ट्रीय मीडिया CNN ने भी इस तस्वीर को अपने कवर पेज पर स्थान दिया था.





जान जोखिम में डालकर करा रहे थे चीटिंग



बिहार बोर्ड के नकलमुक्त परीक्षा कराने के दावों की पोल खोलने वाली यह तस्वीर बिहार के वैशाली स्थित एक परीक्षा केंद्र की थी. इस तस्वीर में साफ दिख रहा था कि परीक्षार्थियों को उनके परिजन किस तरह जान जोखिम में डालकर चीटिंग करा रहे हैं और पर्ची पहुंचा रहे हैं. इसके लिए परिजन परीक्षा केंद्र के ऊंचे भवन की खिड़कियों तक पहुंच गए थे.

परीक्षार्थी और पुलिसकर्मी हुए थे निलंबित
इस तस्वीर के सामने आने के बाद उस सेंटर से तकरीबन 760 परीक्षार्थियों को निलंबित कर दिया गया था. वही चीटिंग कराने के आरोप में 8 पुलिसकर्मियों को भी सस्पेंड कर दिया गया. इस तस्वीर से बौखलाया बोर्ड प्रशासन इतना सख्त हो गया कि अगले 1-2 साल तक परीक्षा से पहले और बाद में हर कदम फूंक-फूंक कर रखा जाने लगा.

सीएम भड़क उठे थे मीडिया पर
2015 में हुए इस मैट्रिक की परीक्षा के समय बिहार के शिक्षा मंत्री पीके शाही थे. उन्होंने उस समय इस तस्वीर को देखकर कहा था कि कड़ी कार्रवाई की जाएगी. चीटिंग करने वाले परीक्षार्थियों को बख्शा नहीं जाएगा. 20 हजार का जुर्माना और जेल कराने की भी बात कही थी. वहीं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस तस्वीर को लेकर मीडिया के ऊपर भड़क गए थे. सीएम नीतीश कुमार ने कहा था कि मीडिया में जो तस्वीरें आ रही हैं, सिर्फ एक पहलू है. जबकि बिहार में दूसरा पहलू भी है जो सकारात्मक है. उन्होंने उस समय सुपर-30 का जिक्र करते हुए बिहार से हर साल दर्जनों की संख्या में IIT करने वाले छात्रों और अन्य परीक्षाओं में सफल होने वालों का प्रमाण दिया था.

ये भी पढ़ें-

दूध न मिलने की वजह से 4 साल के मासूम ने ट्रेन में तोड़ा दम

Bihar Live News Update: आज दोपहर 12.30 बजे आएगा मैट्रिक का रिजल्ट

First published: May 26, 2020, 1:28 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading