Assembly Banner 2021

बिहार के विधायकों से पूछा गया क्यों नहीं लगा रहे कोरोना वैक्सीन, जवाब जानकर हैरान हो जाएंगे आप

नीतिश कुमार ने वैक्सीन लगवाया.

नीतिश कुमार ने वैक्सीन लगवाया.

Patna News: बिहार विधानसभा (Bihar Assembly) अध्यक्ष ने तमाम विधायकों (MLA) से आग्रह किया है कि जल्द से जल्द क़ोरोना (Corona) से बचने के लिए वैक्सीन ले लें. लेकिन उनके विधायकों के जवाब हैरान करने वाले हैं.

  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा (Bihar Assembly) अध्यक्ष ने बिहार के तमाम विधायकों (MLA) से आग्रह किया है कि जल्द से जल्द क़ोरोना (Corona) से बचने के लिए वैक्सीन ले लें. शुरुआत प्रधानमंत्री ने की और फिर बिहार के मुख्यमंत्री ने आईजीआईएमएस (IGIMS) जाकर कोरोना वैक्सीन का टीका लगवाया. विधायकों के मन में उठ रहे शंका को ख़त्म करने की कोशिश की, असर भी हुआ. PM और CM के टीका लेने के बाद सत्ताधारी दल के कई नेताओं खासकर विधायकों और सांसदों ने टीका लेना शुरू कर दिया. उप मुख्यमंत्री हों या बिहार के केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, उम्मीद थी कि टीका लेने विरोधी दल के नेता भी आएंगे, लेकिन दो दिन गुजर जाने के बाद भी अभी तक जो जानकारी मिल रही है, उसके मुताबिक़ शायद ही किसी ने टीका लिया है. इस बारे में जब NEWS 18 ने जानकारी लेने की कोशिश की तो जो जवाब मिला वो हैरान करने वाला था.

हमने राजद विधायक हरिशंकर यादव से सवाल किया कि आपने टीका क्यूं नहीं लिया, विधायक जी सवाल सुन ऐसे चौंके मानों उन्हें जानकारी ही नहीं थी. यही सवाल राजद के एक विधायक रामानुज प्रसाद से किया तो उन्होंने कहा कि कहां टीका पड़ना है ये जानकारी ही नहीं मिल रही है, मिल जाएगी तो ले लेंगे. कांग्रेस विधायक मुरारी गौतम ने कहा कि क्या करें वक्त ही नहीं मिला की टीका लें, जब मौक़ा मिलेगा तो ले लेंगे. माले विधायक सत्यदेव राम का भी जवाब सुन लें, इनका कहना है कि टीका अमीरों के लिए बनाया गया है, जब तक ग़रीबों को नहीं लगेगा हम नहीं लेंगे.

हैरान करने वाला जवाब
राजद विधायक मुकेश रौशन ने कहा कि जब तक चाचा नीतीश कुमार के टीका लिए हुए 24 से 48 घंटे सकुशल निकल नहीं जाते, तब तक हम टीका लेने का रिस्क नहीं ले सकते हैं. राजद विधायक अनिरुद्ध यादव का कहाना है कि हम कोरोना को मानते ही नहीं हैं. हमारे विधानसभा बख़्तियारपुर में किसी को भी नहीं हुआ है तो हम क्यूं लें. रामबली यादव राजद विधायक का जवाब तो और भी रोचक था , उन्होंने कहा कि जब तक हम टीका लेने वालों का असर नहीं देख लेते हैं क्यूं लें. बड़े-बड़े अधिकारी और नेता खुद के टीका लेने से पहले अपने ड्राइवर और सिपाही को टीका लगवा के देख रहे थे. हम भी ज़रा सत्ताधारी दल के नेताओं के टीका लगने के असर को देख लेते हैं. इधर जेडीयू के वरिष्ठ नेता महेश्वर हज़ारी कहते हैं कि टीकाकरण में कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए. टीका हमारे देश के वैज्ञानिकों ने स्वदेशी तकनीक से बनाया है तो फिर ऐसा क्यों.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज