Home /News /bihar /

bihar mlc election counting will be done on thursday 7th april from 8 am onwards nodmk8

बिहार विधान परिषद चुनाव के आज आएंगे नतीजे, सुबह 8 बजे से शुरू होगी वोटों की गिनती

बिहार विधान परिषद के 24 सीटों के लिए हुए चुनाव के नतीजे गुरुवार को आएंगे, सुबह 8 बजे से वोटों की गिनती शुरू होगी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बिहार विधान परिषद के 24 सीटों के लिए हुए चुनाव के नतीजे गुरुवार को आएंगे, सुबह 8 बजे से वोटों की गिनती शुरू होगी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Bihar News: राज्य निर्वाचन कार्यालय के अनुसार विधान परिषद चुनाव की मतगणना गुरुवार सुबह आठ बजे से शुरू होगी. मतगणना के लिए सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. मतगणना केंद्र में 14 टेबुलों पर वोटों की गिनती का कार्य होगा. वोटों की गिनती वरीयता वोट के आधार पर होगी. प्रथम वरीयता के वोट के आधार पर कोटा का निर्धारण किया जाएगा

अधिक पढ़ें ...

पटना. बिहार में स्थानीय निकाय क्षेत्र से विधान परिषद की 24 सीटों के संपन्न चुनाव (Bihar MLC Election) के नतीजे गुरुवार सात अप्रैल को आएंगे. राज्य निर्वाचन कार्यालय के अनुसार, मतगणना सुबह आठ बजे से शुरू होगी. मतगणना के लिए सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. मतगणना केंद्र में 14 टेबुलों पर वोटों की गिनती (Vote Counting) का कार्य होगा. वोटों की गिनती वरीयता वोट के आधार पर होगी. प्रथम वरीयता के वोट के आधार पर कोटा का निर्धारण किया जाएगा.

अक्टूबर-नवंबर 2020 में हुए बिहार विधानसभा चुनाव के बाद यह पहला बड़ा चुनाव है. इसमें जहां तेजस्वी यादव की जातीय रणनीति और सीटों के बंटवारे के सोशल इंजीनियरिंग की परीक्षा होगी. वहीं, जनता दल युनाइटेड (जेडीयू) और बीजेपी के एकजुटता पर उठते सवालों का लिटमस टेस्ट भी होगा. वीआईपी के तीन विधायकों के साथ आने से विधानसभा में सबसे ज्यादा सदस्यों वाली पार्टी बनने के बाद बीजेपी विधान परिषद में भी अपना दबदबा बनाने की तैयारी में है. वहीं, यह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की कुशलता और जेडीयू की मजबूती का भी परीक्षण है.

विधान परिषद चुनाव में आरजेडी और कांग्रेस अलग-अलग किस्मत आजमा रही हैं. वही जेडीयू और बीजेपी ने एकजुट होकर चुनाव लड़ा है. इस चुनाव से ठीक पहले मुकेश सहनी की पार्टी के विधायकों के बीजेपी में शामिल होने के बाद मुकाबले को त्रिकोणीय संघर्ष बना दिया है. वहीं, चिराग पासवान ने कहीं बीजेपी, तो कहीं आरजेडी का समर्थन कर चुनाव को दिलचस्प बना दिया है.

विधान परिषद चुनाव में तेजस्वी की नई रणनीति
विधान परिषद चुनाव में अगर तेजस्वी यादव ज्यादा सीटें जीतने में कामयाब होते हैं तो यह उनकी सोशल इंजीनियरिंग और रणनीति की जीत होगी. तेजस्वी ने इस चुनाव में नई रणनीति बनाते हुए पिछड़ों के साथ स्वर्णो को अपने साथ साधने की कोशिश की है. उन्होंने विधान परिषद चुनाव में पांच भूमिहार, चार राजपूत, एक ब्राह्मण, एक कुशवाहा और तीन मुस्लिमों को टिकट दिया है. तेजस्वी यादव ने इस चुनाव में नौ यादव चेहरों को भी टिकट दिया है. चुनाव नतीजों में अगर आरजेडी के सवर्ण चेहरों की जीत होती है तो तेजस्वी यादव की रणनीति सफल होगी. इससे आने वाले दिनों में आरजेडी की सियासत में बड़ा बदलाव आ सकता है.

RJD और NDA गठबंधन में सीधा मुकाबला
बिहार विधान परिषद के चुनाव में आरजेडी और एनडीए के बीच सीधा मुकाबला है. हालांकि कहीं-कहीं निर्दलीय उम्मीदवार ने मुकाबले को दिलचस्प बना दिया है. इस चुनाव में आरजेडी ने 23 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं. जबकि एक सीट उसने सीपीआई को दिया है. वहीं, दूसरी तरफ एनडीए के तरफ से बीजेपी ने 12 उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं. तो जेडीयू 11 उम्मीदवारों को लड़ाया है. एक सीट एनडीए के घटक दल के पशुपति पारस गुट के राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी को दिया गया है. इस चुनाव में मुकेश सहनी और चिराग पासवान की साख भी दांव पर लगी हुई है.

Tags: Bihar Legislative Council, Bihar News in hindi, Bihar politics, Vote counting

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर