होम /न्यूज /बिहार /बिहार नगर निकाय चुनाव: फिर से नहीं करना होगा नामांकन, चुनाव चिन्ह को लेकर भी स्थिति साफ

बिहार नगर निकाय चुनाव: फिर से नहीं करना होगा नामांकन, चुनाव चिन्ह को लेकर भी स्थिति साफ

बिहार में नगर निकाय चुनाव का रास्ता साफ हो गया है

बिहार में नगर निकाय चुनाव का रास्ता साफ हो गया है

Bihar Local Body Elections: बिहार में होने वाले नगर निकाय चुनाव में फिर से नया नामांकन नहीं होगा. चुनाव आयोग ने चुनाव क ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

बिहार में होने वाले नगर निकाय चुनाव को लेकर तारीखों का ऐलान हो गया है
बिहार में पहले की तरह ही दो फेज में नगर निकाय चुनाव होंगे
चुनाव को लेकर आयोग ने दिशा-निर्देश जारी कर दिया है

पटना. आखिरकार लोगों की प्रतीक्षा की घड़ी समाप्त हो गई. बिहार राज्य निर्वाचन आयोग ने बुधवार की शाम सूबे में होने वाले नगर निकाय चुनाव को लेकर नये सिरे से मतदान और मतगणना की तारीखों का एलान कर दिया. दो चरणों में होने वाले चुनाव को लेकर आयोग ने कहा कि प्रथम और दूसरे चरण में नामांकित उम्मीदवारों के आधार पर ही चुनाव होंगे. इसके लिये कोई नया नामांकन नहीं लिया जायेगा. उम्मीदवारों को पहले से आवंटित चुनाव चिह्न के आधार पर ही चुनाव का काम सम्पन्न होगा.

बिहार के 224 नगरपालिकाओं में होने वाले इस चुनाव को लेकर आयोग ने सभी जिले के डीएम को निर्देश दिया है कि चुनाव संबंधी जानकारी सभी अभ्यर्थियों को निर्वाची पदाधिकारी अपने स्तर पर उपलब्ध कराएंगे. निर्वाचन को लेकर आयोग द्वारा पहले निर्गत सभी निर्देश प्रभावी रहेंगे. नगरपालिकाओं की मतगणना के बाद रिजल्ट आते ही आदर्श आचार संहिता स्वत: समाप्त मानी जायेगी.

निर्वाचन आयोग ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि किसी भी प्रकार की सभा, जुलूस, धरना या प्रदर्शन व लाउडस्पीकर का प्रयोग बिना सक्षम पदाधिकारी की पूर्वानुमति के नहीं होगा. नगर निकाय क्षेत्र में लाउडस्पीकर का प्रयोग रात 10.00 से सुबह 06.00 बजे तक वर्जित रहेगा. किसी प्रकार का पोस्टर, पर्चा, आलेख, फोटो या किसी के विरुद्ध आपत्तिजनक पर्चा, आलेख, फोटो आदि का प्रकाशन नहीं करेंगे.

राज्य निर्वाचन आयोग ने यह भी कहा है कि मोबाइल पर सभी तरह के व्हाट्सएप, एसएमएस या अन्य इलेक्ट्रॉनिक्स माध्यम से किसी प्रकार का आपत्तिजनक, विधि विरुद्ध संदेश, आदान-प्रदान नहीं करेंगे, जिससे कि चुनाव आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन हो. कोई भी व्यक्ति किसी धार्मिक स्थल का प्रयोग चुनाव प्रचार के लिए नहीं करेंगे और सांप्रदायिक भावनाओं को भड़काने का कार्य नहीं करेगे.

पहले चरण में चुनाव- पहले चरण में जिन जगहों पर नगर निकाय चुनाव कराया जाना है उनमें मसौढ़ी, बाढ़, खगौल, मोकामा, फुलवारीशरीफ, फतुहा, दानापुर, बख्तियारपुर, बिहटा, बक्सर, पीरो, भभुआ, नोखा, डेहरी डालमिया नगर, हिलसा, शेरघाटी, टिकारी, बोधगया, नवादा, वारसलीगंज, औरंगाबाद, जहानाबाद, अरवल, बरौली, गोपालगंज, मीरगंज, साहेबगंज, हाजीपुर, लालगंज, महुआ, रक्सौल, चकिया, बगहा, नरकटियागंज, रामनगर, बैरगनिया, जनकपुर जैसे इलाके शामिल हैं.

नगर पंचायत. नगर पंचायतों में पालीगंज, पुनपुन, चौसा, ब्रह्मपुर, बिहियां, जगदीशपुर, शाहपुर, कुदरा, मोहनिया, हाटा, रामगढ़, कोआथ, नासरीगंज, रोहतास, गिरियक, नालंदा, एकंगरसराय, चंडी, हरनौत, सिलाव, इमामगंज, वजीरगंज, खिजरसराय, रजौली, बारूण, रफीगंज, नबीनगर, देव, घोषी, मखदुमपुर, काको, कुर्था, सोनपुर, दिघवारा, मढ़ौरा, रिविलगंज, एकमा बाजार, परसा बाजार, हसनपुरा, महाराजगंज, मैरवा, बड़हरिया, गुठनी, कटैया, सकरा, मीनापुर, तुर्की कुढ़नी, बरूराज, सरैया, सुगौली, चनपटिया, बेलसंड, बहेड़ी, कुशेश्वरस्थान पूर्वी, हायाघाट, जयनगर, घोघरडीहा, बेनीपट्टी, फुलपरास, सरायरंजन, सौर बाजार, सोनवर्षा, नवहट्टा, बनगांव, सिमराही, आलमनगर, रूपौली, धमदाहा, मीरगंज, भवानीपुर, ठाकुरगंज, बहादुरगंज, अमदाबाद, कोढ़

दूसरे फेज के चुनाव- दूसरे फेज में जिन नगर निगमों में चुनाव कराए जाना है उमनें पटना, आरा, सासाराम, बिहारशरीफ, गया, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, छपरा, सीतामढ़ी, बेतिया, दरभंगा, समस्तीपुर, पूर्णिया, कटिहार, मुंगेर, बेगूसराय, भागलपुर शामिल हैं.

नगर परिषदों में सीवान, बखरी जबकि नगर पंचायत में कोइलवर, गड़हनी, चेनारी, दिनारा, काराकाट, सरमेरा, परवलपुर, पावापुरी, रहुई, अस्थावां, फतेहपुर, डोभी, कोपा, मांझी, मशरख, आंदर, गोपालपुर, बसंतपुर, माधोपुर सुस्ता, मुरौल, पातेपुर, गोरौल, जन्दाहा, अरेराज, लौरिया, भरवारा, सिंहवाड़ा, सिंघिया, मुसरीघरारी, निर्मली, बीरपुर, पिपरा, बिहारीगंज, सिंहेश्वर, मुरलीगंज, चंपानगर, अमौर, बायसी, जानकीनगर, बलरामपुर, बरारी, रानीगंज, जोकीहाट, नरपतगंज, अलौली, मानसी, बेलदौर, सबौर, हबीबपुर शामिल हैं.

Tags: Bihar News, Local body election, Municipal election, PATNA NEWS

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें