IGIMS के 50 से ज्‍यादा इंटर्न डॉक्‍टर गए हड़ताल पर, कोविड ड्यूटी के दौरान इंश्‍योरेंस की मांग

सांकेतिक फोटो.

सांकेतिक फोटो.

Doctors Strike: प्रदेश की राजधानी पटना के बड़े अस्‍पतालों में से एक IGIMS में कोविड ड्यूटी में लगे 50 से ज्‍यादा इंटर्न डॉक्‍टर हड़ताल पर चले गए हैं. इनकी मांग है कि है कि वह कोविड ड्यूटी कर रहे हैं, लिहाजा उनका बीमा कराया जाए और स्टाइपेंड बढ़ाया जाए.

  • Share this:

पटना. कोरोना वायरस के संक्रमण की दूसरी लहर से जूझ रहे बिहार से बुरी खबर है. प्रदेश की राजधानी पटना के बड़े अस्‍पतालों में से एक IGIMS के 50 से ज्‍यादा इंटर्न डॉक्‍टर हड़ताल पर चले गए हैं. उनकी मांग है कि कोविड ड्यूटी के दौरान उनका इंश्‍योरेंस कराया जाए. मांग पूरी न होने पर संकट के समय में भी इंटर्न ने हड़ताल पर जाने का ऐलान कर दिया. ये इंटर्न स्‍टाइपेंड बढ़ाने की भी मांग कर रहे हैं. हड़ताली इंटर्न अपनी मांगों को लेकर अस्‍पताल के निदेशक के कार्यालय के सामने धरने पर बैठ गए हैं.

जानकारी के मुताबिक, ये सभी इंटर्न पिछले 15 दिनों से कोविड मरीजों की इलाज में जुटे थे और लगातार इंश्‍योरेंस करवाने की मांग कर रहे थे. बता दें कि इस समय बिहार समेत देश के सभी राज्‍य कोरोना संक्रमण से जूझ रहे है. लगातार हजारों की संख्‍या में नए मरीज सामने आ रहे हैं. ऐसे में इलाज करने वाले डॉक्‍टरों की भारी कमी है. आपात परिस्थिति में भी इंटर्न के हड़ताल पर जाने से स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था के चरमराने की आशंका है.

मांगों पर विचार कर सकती है सरकार

बता दें कि कोविड ड्यूटी में लगे इंटर्न के हड़ताल पर जाने का असर मरीजों पर भी पड़ने की आशंका है. प्रबंधन और सरकार द्वारा इन्हें मनाने की कोशिश किए जाने की संभावना है. इनकी मांगों को लेकर सरकार विचार भी कर सकती है. हालांकि मांगे पूरी नहीं होने की स्थिति में हड़ताल जारी रखने की बात इंटर्न डॉक्टर कर रहे हैं. फिलहाल प्रबंधन हर संभव प्रयास करेगा कि वे हड़ताल वापस लें लें.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज