• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • Bihar Panchayat Chunav: प्रत्‍याशी रिक्शा, टमटम और बैलगाड़ी से कर सकेंगे प्रचार, पढ़ें नया निर्देश

Bihar Panchayat Chunav: प्रत्‍याशी रिक्शा, टमटम और बैलगाड़ी से कर सकेंगे प्रचार, पढ़ें नया निर्देश

Bihar Panchayat Elections 2021: पंचायत चुनाव वाहनों के इस्‍तेमाल को लेकर निर्वाचन आयोग ने नया निर्देश जारी किया है. (न्‍यूज 18)

Bihar Panchayat Elections 2021: पंचायत चुनाव वाहनों के इस्‍तेमाल को लेकर निर्वाचन आयोग ने नया निर्देश जारी किया है. (न्‍यूज 18)

Bihar Panchayat Chunav 2021: राज्‍य निर्वाचन आयोग ने चुनाव प्रचान के दौरान वाहनों के इस्‍तेमाल को लेकर नया निर्देश जारी किया है. साथ ही प्रत्‍याशियों के चुनावी खर्च पर भी पैनी नजर रखी जा रही है. पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी होते ही बिहार में प्रचार का दौर शुरू हो गया है.

  • Share this:

पटना. गांव की सरकार के लिए बिहार के लगभग हर जिले में हलचल तेज हो गई है. बिहार में इस बार होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में कई नई चीजें भी देखने को मिल रही हैं. इस बार नॉमिनेशन के साथ ही चुनाव प्रचार जोर पकड़ रहा है. उम्मीदवार अपने-अपने हिसाब से चुनावी वैतरणी पार करने के लिए जुगत भिड़ाने में जुटे हैं. प्रचार की बात करें तो इस बार निर्वाचन आयोग ने नया प्रयोग चुनाव प्रचार के लिए किया है. 11 चरणों में होने वाले पंचायत चुनाव में कुल 8072 पंचायतों के 2 लाख 55 हज़ार 22 पदों पर चुनाव होना है. पहले चरण का मतदान 24 सितंबर जबकि 11वें चरण का मतदान 12 दिसंबर को होना है. इस बार चुनाव में प्रचार के लिए रिक्शा से लेकर बैलगाड़ी और टमटम तक का उपयोग करने की अनुमति निर्वाचन आयोग ने दी है.

निर्वाचन आयोग ने पंचायत चुनाव में चुनाव प्रचार के लिए गाड़ियों के इस्तेमाल को लेकर गाइडलाइन भी जारी किया है. गाइडलाइन के अनुसार, ग्राम पंचायत के सदस्य और ग्राम कचहरी पद के प्रत्याशी चुनाव प्रचार के लिए 1 दोपहिया वाहन, मुखिया-सरपंच और पंचायत समिति के सदस्य पदों के प्रत्याशी को 2 दोपहिया वाहन और एक हल्का मोटर वाहन के उपयोग की अनुमति दी गई है.

Bihar Panchayat Chunav: दशहरा-दीपावली और छठ के दिन नहीं होंगे चुनाव, देखें वोटिंग का पूरा शेड्यूल

जिला परिषद सदस्य पद के प्रत्याशी अधिकतम 4 दोपहिया या फिर दो हल्के वाहन और एक हल्का मोटर वाहन इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके लिए उम्मीदवार को प्रखंड कार्यालय के वाहन कोषांग में पहले आवेदन देना होगा. सभी प्रखंडों में इसके लिए काउंटर के साथ अलग-अलग तरह की व्यवस्था की गई है. निर्वाचन आयोग ने शांतिपूर्ण और निष्पक्ष चुनाव कराने के मकसद से उम्मीदवारों के खर्च पर पैनी नजर रखने का निर्देश जारी किया है. वोटों की गिनती होने के 15 दिन के भीतर ही चुनाव खर्च का सारा ब्‍योरा निर्वाची पदाधिकारी के पास प्रत्याशी द्वारा जमा कराना जरूरी है. अगर कोई प्रत्याशी ऐसा नहीं करता है तो ऐसे उम्‍मीदवारों को अगला चुनाव लड़ने से भी रोका जा सकता है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज