• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • Bihar Panchayat Election: कर्मचारियों को लेकर चुनाव आयोग का खास आदेश, केंद्रीय बलों की नहीं होगी तैनाती

Bihar Panchayat Election: कर्मचारियों को लेकर चुनाव आयोग का खास आदेश, केंद्रीय बलों की नहीं होगी तैनाती

इसके अलावा किसी भी परिस्थिति में पीठासीन पदाधिकारी या प्रथम मतदान पदाधिकारी समान विभाग के नहीं होंगे. (सांकेतिक फोटो)

इसके अलावा किसी भी परिस्थिति में पीठासीन पदाधिकारी या प्रथम मतदान पदाधिकारी समान विभाग के नहीं होंगे. (सांकेतिक फोटो)

निर्वाचन आयोग (Election Commission) ने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि चुनाव के दौरान केंद्रीय सुरक्षा बलों की तैनाती नहीं की जाएगी. आयोग ने राज्य के अपने सुरक्षा तंत्र के सहारे ही पंचायत चुनाव कराए जाने का फैसला लिया है.

  • Share this:
पटना. बिहार में पंचायत चुनाव (Bihar Panchayat Election) को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग (State Election Commission) के निर्देशानुसार सभी जिलों में तैयारियां जोर शोर से चल रही हैं. निर्वाचन आयोग ने यह स्पष्ट कर दिया है कि किसी भी स्थिति में चतुर्थ वर्गीय कर्मचारियों (Class IV Employees) को पीठासीन पदाधिकारी नहीं बनाया जा सकता है. साथ ही यह भी स्पष्ट कर दिया गया है कि निर्वाचन कार्य में लगे कर्मी को अपने गृह और कर्तव्य स्थल से संबंधित प्रखंड के निर्वाचन क्षेत्र में चुनाव संबंधी किसी भी दायित्व में नहीं लगाना है. किसी भी मतदान दल में एक ही सीरियल समूह के दो अधिकारी प्रतिनियुक्त नहीं किए जा सकेंगे. साथ ही मतदान दल के दो कर्मी एक ही विभाग के नहीं होंगे.

इसके अलावा किसी भी परिस्थिति में पीठासीन पदाधिकारी या प्रथम मतदान पदाधिकारी समान विभाग के नहीं होंगे. हर मतदान दल में पीठासीन पदाधिकारी समेत 5 मतदान अधिकारी होंगे. 10 चरणों में मतदान समाप्ति के अगले दिन या फिर दूसरे दिन मतगणना इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन से होगी. पंचायत चुनाव जहां 4 पदों के लिए ईवीएम से कराया जाएगा, वहीं पंच और सरपंच पद के लिए बैलेट पेपर उपयोग में लाया जाएगा. प्रत्येक मतदान केंद्र पर 4 पदों पर ईवीएम से मतदान होने से कम से कम चार बीयू और 4 सीयू के अलावा ग्राम कचहरी के 2 पदों पर मतदान बैलेट पेपर से होने के कारण मत पेटी भी उपयोग में लाया जाएगा.

पुलिस मुख्यालय से लिया जा सकेगा सहयोग
निर्वाचन आयोग ने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि चुनाव के दौरान केंद्रीय सुरक्षा बलों की तैनाती नहीं की जाएगी. आयोग ने राज्य के अपने सुरक्षा तंत्र के सहारे ही पंचायत चुनाव कराए जाने का फैसला लिया है. आयोग के सूत्रों की मानें तो पंचायत चुनाव के दौरान जिलों में जिला पुलिस बल और बीएमपी के अलावा होमगार्ड जवानों की तैनाती की जाएगी. चलंत दस्ते में शामिल पुलिस के जवान भी पंचायत चुनाव पर अपनी नजर बनाए रखेंगे और किसी भी हंगामा या उपद्रव की स्थिति में तत्काल कार्रवाई सुनिश्चित करेंगे. आयोग ने कहा है कि शांति व्यवस्था बनाए रखने और निष्पक्ष मतदान की प्रक्रिया संपन्न कराने के लिए गृह विशेष विभाग और राज्य पुलिस मुख्यालय से सहयोग लिया जा सकेगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज