Home /News /bihar /

बिहार में अब कुत्ते ढूंढेंगे शराब, आठ महीने की स्पेशल ट्रेनिंग के बाद दी गई है ड्यूटी

बिहार में अब कुत्ते ढूंढेंगे शराब, आठ महीने की स्पेशल ट्रेनिंग के बाद दी गई है ड्यूटी

हैंडलर्स के साथ कुत्ते

हैंडलर्स के साथ कुत्ते

इन कुत्तों की खासियत यह है कि ये पलक झपकते ही शराब को पाताल से भी ढूंढ निकालते हैं. सभी को 8 महीने की ट्रेनिंग दी गई है. ये सारे कुत्ते सीआईडी की देखरेख में रहेंगे

    बिहार में शराब तस्करों पर नकेल कसने का जिम्मा अब कुत्तों को भी दिया गया है. ये कुत्ते न केवल शराब की तस्करी पर रोक लगवाएंगे बल्कि पुलिस और उत्पाद विभाग की टीम की भी मदद करेंगे. शराब माफियाओ पर शिकंजा कसने और शराबबंदी कानून को प्रभावी बनाने के लिए सीआईडी विभाग अब लीकर डॉग का सहारा लेगा.

    इसके लिए तेलंगाना से 20 लीकर डॉग मंगवाये गए हैं. इन कुत्तों की खासियत यह है कि ये पलक झपकते ही शराब को पाताल से भी ढूंढ निकालते हैं. सभी को 8 महीने की ट्रेनिंग दी गई है. ये सारे कुत्ते सीआईडी की देखरेख में रहेंगे. सभी डॉग के साथ ही 30 हैंडलरों को भी ट्रेनिंग दी गई है जो कुत्तों का भी ख्याल रखेंगे.

    इन सभी को एक साथ तेलंगाना के मुरैनाबाद में ट्रेनिंग दो गई है. सीआईडी के अधिकारियों की मानें तो इन सभी की तैनाती अलग-अलग जोन्स में की जायेगी ताकि शराब की तस्करी और तस्करों दोनों पर नकेल कसा जा सके. सीआईडी के आलाधिकारियों ने आज इन लीकर डॉग की दी गई ट्रेनिंग का जायजा भी लिया.

    मालूम हो कि पूर्ण प्रतिबंध के बाद भी बिहार में शराब की तस्करी धड़ल्ले से होती है. औसतन रोज किसी न किसी जिले से शराब की तस्करी के मामले लगातार सामने आते हैं ऐसे में बिहार पुलिस की इस पहल और प्रयास को काफी अहम माना जा रहा है.

    रिपोर्ट- संजय कुमार 

    Tags: Bihar News, PATNA NEWS

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर