Home /News /bihar /

ड्रोन के सहारे सख्ती, जानें बिहार में शराब तस्करों के खिलाफ कैसे रेड कर रही है पुलिस

ड्रोन के सहारे सख्ती, जानें बिहार में शराब तस्करों के खिलाफ कैसे रेड कर रही है पुलिस

बिहार में शराब कारोबारियों के खिलाफ कार्रवाई करती पुलिस

बिहार में शराब कारोबारियों के खिलाफ कार्रवाई करती पुलिस

Bihar Liquor Smuggling: बिहार में हाल के दिनों में जहरीली शराब से हुई मौत के बाद पुलिस की सख्ती बढ़ गई है. ड्रोन से निगरानी के लिए पूरे बिहार को पांच जोन में बांटा गया है. उत्पाद विभाग के साथ ड्रोन की निजी कंपनी के 4 यूनिट को लगाया गया है जिसमें 8 हाईटेक ड्रोन भी शामिल हैं.

अधिक पढ़ें ...

पटना. बिहार में अवैध शराब की बिक्री और निर्माण करने वालों (Bihar Liquor Smuggling) को ढूंढने के लिए मद्य निषेध विभाग ने नई टेक्नोलॉजी ड्रोन का इस्तेमाल (Drone Technology) शुरू कर दिया है. ड्रोन के इस प्रयोग से छापेमारी में कई बड़ी सफलता मिली है. 21 जनवरी से बिहार में अवैध शराब खोजने का काम शुरू किया गया है. अब तक प्राप्त जानकारी के अनुसार बिहार में पिछले 10 दिनों में कुल 25 से अधिक जगहों पर रेड किया गया जिनमें ड्रोन की मदद ली गई और बड़ी संख्या में अवैध शराब और शराब बनाने की भट्टी को पकड़ा गया. विभाग का दावा है कि 10 दिनों में 20 हजार लीटर से ज्यादा अवैध शराब बरामद हुई है.

बिहार में जहरीली शराब से मौत के बाद दानापुर में भी प्रशासनिक अधिकारी मुस्तैद है. यहां शराबबंदी को सख्ती से लागू करने के लिए लगातार क्षेत्र में छापेमारी की जा रही है. इस अभियान के तहत सरकार ने शराब माफियाओं पर नकेल कसने के लिए और क्षेत्र में अवैध तरीके से चल रहे देशी शराब की भट्टियों की पहचान करने को लेकर ड्रोन तकनीक का भी सहारा लिया और इसी अभियान के तहत पटना पुलिस और आबकारी विभाग की संयुक्त टीम ने ड्रोन कैमरे की मदद से अवैध शराब कारोबारियों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है.

ड्रोन की मदद से सही लोकेशन लेकर दानापुर के दो थाना क्षेत्रों में गंगा नदी और सोन नदी तट पर अवैध शराब बनाने वाले ठिकानों पर छापेमारी करते हुए दर्जनों अवैघ शराब भट्ठियों को ध्वस्त करते हुए शराब बनाने के उपकरण को भी नष्ट किया गया है. अवैध शराब बनाने वाले माफियाओं में हड़कंप मचा हुआ है.

दियारा इलाकों में ड्रोन से नजर
शराब तस्करों पर लगाम लगाने के लिए सरकार अब ड्रोन कैमरे का सहारा ले रही है. बाढ़ अनुमंडल में ड्रोन के सहारे शराब के अड्डों पर कार्रवाई की जा रही है. दियारा इलाकों में दर्जनों शराब की भट्ठियों को ध्वस्त किया गया. पुलिस के मुताबिक आगे भी ड्रोन से मिली जानकारी के मुताबिक कार्रवाई जारी रहेगी.

बिहार में ड्रोन के सहारे शराब तस्करों की निगरानी करती पुलिस

बिहार में ड्रोन से छापेमारी के लिए 5 जोन
जोन 1-पटना, छपरा, हाजीपुर , आरा
जोन 2-सुपौल, मधुबनी, सीतामढ़ी
जोन 3-पूर्वी चंपारण और पश्चिमी चंपारण
जोन 4-गया, नवादा, जमुई
जोन 5-बेगूसराय, खगड़िया, मुंगेर, भागलपुर

ड्रोन की मदद से लाइव टेलीकास्ट की व्यवस्था
बिहार में ड्रोन की मदद से जगह-जगह छापेमारी की जा रही है तो वहीं सचिवालय में एक कमांड सेंटर बनाया गया है, जहां अवैध शराब की छापेमारी में ड्रोन की मदद से लाइव टेलीकास्ट की व्यवस्था है. ड्रोन की मदद से छापेमारी दिन-रात की जा रही है .

छापेमारी में ड्रोन की निजी कंपनी भी सहायक
अवैध शराब के छापेमारी के लिए उत्पाद विभाग के साथ ड्रोन की निजी कंपनी के 4 यूनिट को लगाया गया है जिसमें 8 हाईटेक ड्रोन है. मद्य निषेध विभाग के पास पहले सिर्फ नदी किनारे देशी शराब बनाए जाने की जानकारी थी लेकिन ड्रोन की मदद से उत्पाद विभाग को यह जानकारी मिली है कि कई जंगलनुमा जगहों पर भी शराब छिपाकर बनाई जा रही है इसलिए विभाग ऐसे जगहों को भी अपने रडार पर रखा है.

Tags: Bihar Liquor Smuggling, Bihar News, PATNA NEWS

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर