लाइव टीवी

बिहारः NRC पर जदयू को बीजेपी के साथ देख गर्माई सियासत, विपक्षी बोले- भगवा रंग में रंगे नीतीश कुमार

Neel kamal | News18 Bihar
Updated: December 6, 2019, 6:05 PM IST
बिहारः NRC पर जदयू को बीजेपी के साथ देख गर्माई सियासत, विपक्षी बोले- भगवा रंग में रंगे नीतीश कुमार
नागरिकता संशोधन विधेयक और एनआरसी के मुद्दे पर जदयू अब बीजेपी के साथ खड़ी दिख रही है. (फाइल फोटो)

लोकसभा में 16 और राज्यसभा में 6 सांसदों वाली जदयू (JDU) ने केंद्र के नागरिकता संशोधन विधेयक (CAB) का समर्थन किया, जबकि एनआरसी (NRC) बिल का विरोध किया था. सियासी संकेत मिल रहे हैं कि जदयू अब एनआरसी पर भी केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी (BJP) के साथ खड़ी है. इससे बिहार की सियासत गर्मा गई है.

  • Share this:
पटना. ट्रिपल तलाक, धारा 35-ए और अनुच्छेद 370 जैसे मुद्दों पर पहले विरोध फिर समर्थन में उतरने वाली जनता दल यूनाइटेड (JDU) के ताजा कदम ने बिहार की सियासी गर्मी बढ़ा दी है. दरअसल, जदयू अब नागरिकता संशोधन विधेयक (CAB) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन यानी एनआरसी (NRC) पर भी भारतीय जनता पार्टी (BJP) के साथ खड़ी दिख रही है. धारा 370 या ट्रिपल तलाक जैसे मुद्दों पर जदयू ने पहले विरोध दिखाकर संसद से वॉक आउट किया था. ऐसा कर जदयू ने जहां सेक्युलरिज्म की छवि बनाए रखी, वहीं नीतीश कुमार की भाजपा से इतर सोच को भी बल मिला. अलबत्ता, पार्टी के इस कदम ने विपक्ष (Opposition Parties) को जरूर कमजोर किया. लेकिन अब जबकि एनआरसी का मुद्दा गर्म है, एक बार फिर जदयू का रुख सामने आया है. पार्टी के प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद (Rajeev Ranjan Prasad) ने कहा है कि CAB पर जदयू ने स्टैंड साफ कर दिया है. कुछ दिनों में NRC पर भी रुख साफ कर देगी. जदयू प्रवक्ता ने न्यूज 18 के साथ बातचीत में सीधे तौर पर तो कुछ नहीं कहा, लेकिन उनकी बातों से साफ हो गया कि एनआरसी के मुद्दे पर भी जदयू अपने सहयोगी बीजेपी के साथ ही रहेगी.

नीतीश की ना, पार्टी की हां
कुछ दिन पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने कहा था कि एनआरसी पर उनकी पार्टी का स्टैंड अभी तय नहीं है. सीएम ने कहा था कि हम पार्टी के अंदर, खासकर पूर्वोत्तर राज्यों के अपने नेताओं से राय लेने के बाद ही स्टैंड तय करेंगे. यह पूछे जाने पर कि क्या ऐसा भी प्रावधान है कि कोई राज्य इसे लागू नहीं भी कर सकता? इस पर नीतीश ने कहा था कि अभी एनआरसी लागू करने को लेकर एक्ट नहीं बना है, जब बनेगा तभी यह बात स्पष्ट होगी. इसके उलट, बिहार विधानमंडल के शीत सत्र के दौरान जदयू नेता और प्रदेश अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री फिरोज उर्फ खुर्शिद आलम ने खुलकर एनआरसी का समर्थन किया. उन्होंने यहां तक कहा था कि हम हमारे देश में कैसे किसी पाकिस्तानी, बांग्लादेशी या अन्य घुसपैठियों को रहने की इजाजत दे सकते हैं. मंत्री के इस बयान का समर्थन तब जदयू के ही एक और विधान पार्षद अशोक चौधरी ने भी किया था.

Bihar Politics-JDU likely to stand with BJP on NRC issue-RJD and Congress party upsets
एनआरसी मुद्दे को लेकर देशभर के विपक्षी दल भाजपा पर आरोप लगा रहे हैं. (फाइल फोटोः पीटीआई)


भाजपा का रणनीतिक स्टैंड
नागरिकता संशोधन विधेयक पर भाजपा का कहना है कि विश्व में भारत ही एकमात्र ऐसा देश है, जहां सभी धर्मों का आदर किया जाता है. लेकिन पड़ोस के मुस्लिम देशों में हिन्दुओं के साथ-साथ ईसाई, सिख और बौद्ध धर्मावलंबियों के साथ दोयम दर्जे का व्यवहार होता है. उन्हें धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर किया जा रहा है. ऐसे में उन मुस्लिम देशों से आने वालों को भारत सरकार नागरिकता देने जा रही है. एनआरसी पर पार्टी के प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा ने कहा कि देश में घुसे बांग्लादेशी घुसपैठियों को वापस उनके देश भेजने के लिए यह बिल लाया जा रहा है. देश की सुरक्षा को देखते हुए सभी दलों को इसका समर्थन करना चाहिए. भाजपा नेता और बिहार के मंत्री बिनोद सिंह ने भी कहा कि सीमांचल में करीब 35 से 40 लाख बांग्लादेशी घुसपैठिये हैं. ये लोग न सिर्फ देश के संसाधनों का दुरुपयोग कर रहे हैं, बल्कि बिहार में अपराध की घटनाओं को भी अंजाम दे रहे हैं.

Bihar Politics-JDU likely to stand with BJP on NRC issue-RJD and Congress party upsets
नागरिकता संशोधन विधेयक का जदयू ने पहले किया था विरोध, बाद में दिया समर्थन.
राजद-कांग्रेस ने बोला हमला
इधर, राजद और कांग्रेस का इस मामले पर कहना है कि जदयू और भाजपा में कोई अंतर नहीं है. कांग्रेस नेता प्रेमचंद्र मिश्रा ने न्यूज 18 से बातचीत में कहा कि नीतीश कुमार भी भाजपा के रंग में रंग चुके हैं. खुद को सेक्युलर कहने वाले नीतीश कुमार अब सांप्रदायिकता के रंग में रंग चुके हैं. वहीं, राजद नेता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि जदयू तो भाजपा की बी-टीम बन कर रह गई है. पहले भी जदयू मोदी सरकार के सभी बिल का समर्थन ही कर रही थी. केवल लोगों की आंखों में धूल झोंकने के लिए विरोध का नाटक करती थी. लेकिन अब जदयू पूरी तरह से एक्सपोज हो चुकी है. राजद के नेता ने आरोप लगाया कि एनआरसी के जरिए केंद्र सरकार सिर्फ एक संप्रदाय के लोगों को निशाना बना रही है, इसलिए राजद इसके विरोध में खड़ी है. हम इस बिल को सदन में पास नहीं होने देंगे.

ये भी पढ़ें -

इंटरनेट का हो रहा दुरुपयोग, पोर्न साइट्स पर पूरी रोक के लिए केंद्र को लिखेंगे पत्र-नीतीश कुमार

रंगीन मिजाज हेड मास्टर ने शिक्षिका के साथ की 'गंदी बात', गांववालों को हुई खबर तो...

हैदराबाद एनकांउटर पर बोले तेजस्वी- बक्सर और समस्तीपुर के दोषियों को कब मिलेगी सजा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 6, 2019, 6:05 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर