अपना शहर चुनें

States

गणतंत्र दिवस 2021 पर पुलिस पदक से सम्मानित होंगे बिहार के 18 पुलिसकर्मी

26 जनवरी पर विशिष्ट कार्य करने वाले जवानों को पुलिस मेडल से सम्मानित किया जाता है (प्रतीकात्मक तस्वीर)
26 जनवरी पर विशिष्ट कार्य करने वाले जवानों को पुलिस मेडल से सम्मानित किया जाता है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बिहार पुलिस (Bihar Police) के 18 पुलिसकर्मियों का चयन पुलिस पदक सम्मान के लिए हुआ है. इनमें से पांच कॉन्स्टेबलों के लिए वीरता पुरस्कार भी शामिल है. यह घोषणा केंद्र सरकार की ओर से की गई है. वीरता के साथ विशिष्ट सेवा के लिए दो जवानों को राष्ट्रपति पुलिस पदक पुरस्कार दिए जाएंगे. इसके अलावा मेधावी सेवा के लिए 11 जवानों को पुलिस पदक देकर सम्मानित किया जाएगा

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 25, 2021, 10:31 PM IST
  • Share this:
पटना. 26 जनवरी को दिए जाने वाले पुलिस पदकों के लिए बिहार पुलिस के18 पुलिसकर्मियों का चयन हुआ है. इनमें से पांच कॉन्स्टेबलों के लिए वीरता पुरस्कार भी शामिल है. यह घोषणा केंद्र सरकार की ओर से की गई है. वीरता के साथ विशिष्ट सेवा के लिए दो जवानों को राष्ट्रपति पुलिस पदक पुरस्कार दिए जाएंगे. इसके अलावा मेधावी सेवा के लिए 11 जवानों को पुलिस पदक देकर सम्मानित किया जाएगा.

पुलिस पदकों की घोषणा होने के बाद बिहार पुलिस के अधिकारियों ने अपने जवानों को बधाई दी है. उन्होंने बताया कि बिहार पुलिस के जवानों का सर्वाधिक चयन हुआ है. इसके पीछे उनकी लगन, ईमानदारी और कर्तव्यनिष्ठता है. इससे पहले बिहार के तीन पुलिसकर्मियों का चयन केंद्रीय गृह मंत्री मेडल के लिए किया गया था. इनमें पुलिस अकादमी, राजगीर के हवलदार भोगेंद्र मिश्र और सीटीसी, नाथनगर के कॉन्स्टेबल अनुरंजन कुमार और कॉन्स्टेबल विपिन कुमार सिंह के नाम शामिल हैं.





वहीं बिहार के भागलपुर समेत तीन पुलिसकर्मियों का भी चयन गृह मंत्री मेडल के लिए किया गया है. इस मेडल की शुरुआत वर्ष 2018 से की गई थी. इसी के तहत भागलपुर जिले के नाथनगर स्थित सिपाही प्रशिक्षण केंद्र, नाथनगर को देश के पूर्वी क्षेत्र के बेहतरीन संस्थान के रूप में घोषित किया गया है.
नाथनगर में नवचयनित सिपाहियों को बेसिक ट्रेनिंग और रिफ्रेशर ट्रेनिंग दी जाती है. इसके अतिरिक्त इस संस्थान में वनरक्षी, उत्पाद आरक्षी और चालक को भी प्रशिक्षण दिया जाता है. इस संस्थान में सेवा संरचना का स्तर उत्कृष्ट रखा गया है. यहां ट्रेनिंग के साथ कार्यपद्धति को बेहद सकारात्मक पाया गया. इसके चलते तीन कॉन्स्टेबलों का चयन पुरस्कृत करने के लिए चुना गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज