बिहार : विधानसभा समितियों के अध्यक्षों के साथ बैठक में स्पीकर ने की हंगामे पर चर्चा

विधानसभा समितियों के अध्यक्षों के साथ बैठक करते स्पीकर विजय कुमार सिन्हा.

विधानसभा समितियों के अध्यक्षों के साथ बैठक करते स्पीकर विजय कुमार सिन्हा.

सूत्रों के अनुसार आज की बैठक में विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा ने मंगलवार को हुए विधानसभा में हंगामे पर भी चर्चा की. उन्होंने कहा कि ऐसी घटना सदन में दोबारा न घटे, इसलिए कोई ठोस निर्णय लेने की जरूरत है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2021, 8:13 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा (Bihar assembly) के बजट सत्र (budget session) के दौरान विपक्षी विधायकों के हंगामा, तोड़फोड़, अध्यक्ष को बंधक बनाने और पुलिस पिटाई की घटना के साथ बजट सत्र तो खत्म हो गया, लेकिन राजद और जेडीयू-बीजेपी के बीच तल्खी अब भी बनी हुई है. बजट सत्र समाप्ति के बाद आज विधानसभा अध्यक्ष (assembly speaker) विजय कुमार सिन्हा (Vijay Kumar Sinha) ने विस की समितियों के अध्यक्षों के साथ बैठक की. बैठक में राजद के विधायक भी शामिल हुए.

बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में अध्यक्ष ने कहा कि बिहार विधानसभा के सत्र नहीं होने के दौरान समितियां मिनी विधानसभा की तरह कार्य करती हैं. समितियों के प्रभावी रूप में क्रियाशील रहने से न केवल विधायिका बल्कि कार्यपालिका भी अपना उत्तरदायित्व सही ढंग से निभा सकेगी. साथ ही अधिक से अधिक जनहित के कार्य हो सकेंगे. इससे विधानसभा की गरिमा बढ़ेगी और जनता के बीच एक सकारात्मक संदेश जाएगा.

उन्होंने कहा कि समितियां बैठक के पूर्व अपना एजेंडा निर्धारित करके उनपर सही दिशा में अमल करे. कार्यपालिका में कार्यरत अधिकारीगण समितियों की डिमांड पर जरूरी रिपोर्ट तय समय सीमा के भीतर उपलब्घ कराएं. ताकि जनहित में अपनी अनुशंसा समय पर कर सकें. उन्होंने समितियों के अध्यक्षों से कहा कि वे अपनी-अपनी समितियों के सदस्यों की योग्यता और अनुभव का लाभ उठाकर समितियों को और अधिक सशक्त बनाएं. समिति को पहले से ज्यादा क्रियाशील और प्रभावकारी कैसे बनाया जाए - इस पर विस अध्यक्ष ने सुझाव मांगे हैं ताकि आगामी वित्तीय वर्ष में अधिकाधिक जनहित के मामलों का निष्पादन किया जा सके.

सूत्रों के अनुसार आज की बैठक में विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा ने मंगलवार को हुए विधानसभा में हंगामे पर भी चर्चा की. उन्होंने कहा कि ऐसी घटना सदन में दोबारा न घटे, इसलिए कोई ठोस निर्णय लेने की जरूरत है. माना जा रहा है कि जल्द ही हंगामा और तोड़फोड़ करने वाले विधायकों पर बड़ी करवाई की जा सकती है. हालांकि विधानसभा अध्यक्ष की बातों का बैठक में मौजूद सभी नेताओं ने समर्थन किया .
बैठक में बिहार विधानसभा की विभिन्न समितियों के सभापति हरि नारायण सिंह, जीतन राम मांझी, नंद किशोर यादव, प्रेम कुमार, राम नारायण मंडल, सुरेन्द्र प्रसाद यादव, बिनोद नारायण झा, रामप्रवेश राय, कृष्ण कुमार ऋषि, शशिभूषण हजारी, राजद से चंद्रहास चौपाल और मो. आफाक आलम, कांग्रेस केअजीत शर्मा और अरुणा देवी मौजूद थीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज