Home /News /bihar /

बिहार में इस साल तीसरी बार आयी बाढ़, कई जिलों में जल कर्फ्यू, किसानों का हुआ भारी नुकसान

बिहार में इस साल तीसरी बार आयी बाढ़, कई जिलों में जल कर्फ्यू, किसानों का हुआ भारी नुकसान

बिहार में एक बार फिर बेमौसम बारिश की वजह से कई जिलों में बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गयी है..

बिहार में एक बार फिर बेमौसम बारिश की वजह से कई जिलों में बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गयी है..

Bihar Flood : लोग बाढ़ की विभिषिका से जब तक उबरने की कोशिश करते हैं. बाढ़ फिर से दस्तक दे देती है. बिहार में इस साल अब तीसरी बार है जब बाढ़ आई है. अब ऐसे में उत्तर बिहार के कई जिलों में जल कर्फ्यू लगा है.

पटना. बिहार में इस साल बाढ़ (Bihar Flood) ने बड़े पैमाने पर जान-माल को नुकसान पहुंचाया है. लोग बाढ़ की विभिषिका से जब तक उबरने की कोशिश करते हैं. बाढ़ फिर से दस्तक दे देती है. बिहार में इस साल अब तीसरी बार है जब बाढ़ आई है. अब ऐसे में उत्तर बिहार के कई जिलों में जल कर्फ्यू लगा है.  बिहार में बाढ़ की वजह से किसानों का हाल बेहाल है. बेतिया में बिना मौसम बारिश (Bihar Weather) से किसानों की खेतों में लगी फसल बर्बाद हो गई है. और किसानों के सामने भूखमरी की स्थिति पैदा हो गई है. वहीं पशुओं को सामने चारे का संकट है. मधुबनी जिले में भी बेमौसम बारिश ने किसानों की मेहनत और उम्मीदों पर पानी फेर दिया है. पिछले 3 दिनों में हुई बारिश के चलते खेतों में लगभग तैयार हो चुकी धान की फसल बर्बाद हो गई. किसानों (Bihar Farmer) का कहना है कि रोपनी के बाद बाढ़ ने धान की फसल को बर्बाद कर दिया और अब तैयार फसल को बेमौसम बारिश ने नष्ट कर दिया है.

दरभंगा के कुशेश्वरस्थान की तस्वीर भी भयावह है. यहां बाढ़ प्रभावित इलाकों में पहले से ही पानी लगा था. एक बार फिर से बारिश हो रही है और एक बार फिर से जिन्दगी मुश्किल में है. घर के बाहर 4-4 फीट पानी लगा है. खेतों में फसलें बर्बाद हो गई है. लोगों को कीड़े-मकोड़े और सांप का डर सता रहा है.

इंग्लिश फरका गांव में कटाव
भागलपुर में एक बार फिर गंगा कहर बरपा रही है. भागलपुर के सबौर प्रखंड के इंग्लिश फरका गांव में गंगा नदी का तेज कटाव हो रहा है. अब तक गांव के दर्जनों घर गंगा नदी में समा चुके हैं. गंगा में गांव की सड़क और बिजली का पोल भी समा चुका है.

बारिश से त्राहिमाम की स्थिति 
किशनगंज के ठाकुरगंज प्रखंड में चंद सेकेंड में दुर्गा मंदिर महानंदा नदी में समा गया. दो दिनों से हो रही तेज बारिश से यहां त्राहिमाम की स्थिति है. ऊपर से नेपाल में हो रही बारिश के चलते महानंदा नदी उफान पर है. नदियों के तेज कटाव से घर नदी में समा रहे हैं और लोग दहशत में हैं.

किशनगंज में जलकैदी बने लोग

किशनगंज में लोग जलकैदी बने हुए हैं. लोगों के घरों में बाढ़ का पानी घुस आया है. नेपाल में लगातार हो रही बारिश के चलते यहां की नदियां उफान पर हैं. कनकई, महानंदा और रतुआ नदी के जलस्तर में काफी बढ़ोतरी हुई है. निचले इलाकों में जिंदगी जलमग्न है. कई जगहों पर सड़कें कट गई है. एक बार फिर से लोगों को पलायन का दर्द सहना पड़ रहा है.

उफान पर है नदियां 
नेपाल के विराटनगर से लेकर बिहार के जोगबनी तक का इलाका जलमग्न है. ड्रोन कैमरे से ली गई तस्वीर से पता चला है कि इलाका पूरा जलमग्न है. नेपाल में बहने वाली नदियां उफान पर है, जिसका असर तराई में देखने को मिल रहा है.

Tags: Bihar flood, Bihar News, Bihar weather, Farmer, Heavy rain

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर