Home /News /bihar /

असम में फिर हुई बिहार के छात्रों की पिटाई, विधानसभा में गूंजा मामला

असम में फिर हुई बिहार के छात्रों की पिटाई, विधानसभा में गूंजा मामला

दूसरे राज्यों में एक बार फिर से बिहारी छात्रों की पिटाई का मामला सामने आया है। ताजा मामला असम के कोकराझार से जुड़ा है, जहां केंद्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान में पढ़ाई कर रहे बिहार के छात्र की बर्बरता से पिटाई की गई है। संस्थान के ही थर्ड ईयर के स्टूडेंट पर सेकेंड ईयर के स्टूडेंट से मारपीट करने का आरोप है।

दूसरे राज्यों में एक बार फिर से बिहारी छात्रों की पिटाई का मामला सामने आया है। ताजा मामला असम के कोकराझार से जुड़ा है, जहां केंद्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान में पढ़ाई कर रहे बिहार के छात्र की बर्बरता से पिटाई की गई है। संस्थान के ही थर्ड ईयर के स्टूडेंट पर सेकेंड ईयर के स्टूडेंट से मारपीट करने का आरोप है।

दूसरे राज्यों में एक बार फिर से बिहारी छात्रों की पिटाई का मामला सामने आया है। ताजा मामला असम के कोकराझार से जुड़ा है, जहां केंद्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान में पढ़ाई कर रहे बिहार के छात्र की बर्बरता से पिटाई की गई है। संस्थान के ही थर्ड ईयर के स्टूडेंट पर सेकेंड ईयर के स्टूडेंट से मारपीट करने का आरोप है।

अधिक पढ़ें ...
दूसरे राज्यों में एक बार फिर से बिहारी छात्रों की पिटाई का मामला सामने आया है। ताजा मामला असम के कोकराझार से जुड़ा है, जहां केंद्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान में पढ़ाई कर रहे बिहार के छात्र की बर्बरता से पिटाई की गई है। संस्थान के ही थर्ड ईयर के स्टूडेंट पर सेकेंड ईयर के स्टूडेंट से मारपीट करने का आरोप है।

विवाद का कारण सीनियर छात्र द्वारा पैसे मांगा जाना है। पिटाई से करीब आधा दर्जन छात्र घायल हुए हैं जिसमें बक्सर के आदित्य राज को गंभीर चोटें आई हैं। रविवार की देर रात जख्मी आदित्य राज और उसके साथी डिब्रूगढ़ राजधानी एक्सप्रेस से पटना पहुंचे। छात्रों का आरोप है कि कॉलेज और हॉस्टल प्रबंधन मामले की लीपापोती में जुटा है और स्थानीय पुलिस भी आरोपियों की मदद कर रही है।

वहीं ये मामला सोमवार को विधानसभा में भी गूंजा। निर्दलीय विधायक पवन जयसवाल ने असम के कोकराझार स्थित आईआईटी में बिहारी छात्रों के साथ मारपीट की घटना का मामला विधानसभा में उठाया। पवन जयसवाल ने सरकार पर आरोप लगाया कि वह इस मामले को लेकर गंभीर नहीं है। निर्दलीय विधायक ने यह भी ऐलान किया कि अगर सरकार कोई पहल नहीं करेगी तो वह मंगलवार से विधानसभा में धरने पर बैठेंगे।

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

 

 

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर