Home /News /bihar /

डिफेंसिव मोड में नीतीश कुमार, क्या BJP-RJD के एजेंडे के बीच फंस कर रह गया है JDU ?

डिफेंसिव मोड में नीतीश कुमार, क्या BJP-RJD के एजेंडे के बीच फंस कर रह गया है JDU ?

क्या भाजपा और राजद के एजेंडे के बीच फँस कर रह गई है JDU
(फाइल फोटो)

क्या भाजपा और राजद के एजेंडे के बीच फँस कर रह गई है JDU (फाइल फोटो)

JDU-BJP Politics: बिहार की सियासत में बीजेपी विधायक हरि भूषण ठाकुर बचौल के बयान के बाद जहां राजद ने आक्रामक रूख अपनाते हुए बिहार विधानसभा में जमकर हंगामा मचाया तो भाजपा ने खुद को हिंदुओं का सबसे बड़ा हितैषी बनाया. इन सब के बीच जेडीयू पूरी तरह से डिफेंसिंव दिख रही है,

अधिक पढ़ें ...

पटना. बिहार की सियासत में हर राजनीतिक दल के पास कोई ना कोई वोट बैंक जरूर होता है और समय समय पर अपने वोट बैंक को मैसेज देने की पूरी कोशिश करते हैं. बिहार विधानसभा के बजट सत्र में कुछ ऐसा ही हो रहा है जिसमें राजद और भाजपा तो खुलकर अपने अपने वोट बैंक को मैसेज देने की भरपूर कोशिश कर रहे हैं लेकिन JDU के सामने समस्या ये है कि उसे फिलहाल ये समझ नहीं आ रहा है कि वो क्या करे.

दरअसल बजट सत्र के दौरान भाजपा विधायक हरि भूषण ठाकुर बचौल के एक बयान के बाद कि मुस्लिमों को वोटिंग के अधिकार से वंचित कर देना चाहिए, इस मुद्दे ने राजनीतिक रंग ले लिया और विपक्ष खासकर राजद ने इस मुद्दे को लपक लिया. राजद ने इसी बहाने भाजपा से ज़्यादा नीतीश कुमार के सेक्यूलरिज़्म पर निशाना साध दिया. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भाजपा विधायक के इस बयान को आधार बना ना सिर्फ़ नीतीश कुमार पर हमला बोला बल्कि RSS पर भी सवाल उठाकर मुस्लिम समुदाय को ये बताने कि कोशिश की कि उनके रहते बिहार में मुस्लिमों के अधिकार को कोई नही छिन सकता है.

तेजस्वी यादव यहीं नहीं रुके उन्होंने देश के उन बड़े मुस्लिम चेहरे की खूब चर्चा की जिनका देश की आजादी में बड़ा योगदान था. इस बहाने उन्होंने अपने खास वोट बैंक मुस्लिमों को बड़ा मैसेज देने की कोशिश की है कि राजद ही उनकी सच्ची हितैषी पार्टी है. एक तरफ जहां राजद मुस्लिम हितैषी पार्टी दिखाने की होड़ में लगी रही तो वहीं दूसरी तरफ भाजपा भी सदन के अंदर से लेकर बाहर तक ये बताने की कोशिश करती दिखी कि हिंदुओं की हित की कोई बात करता है तो वो एक मात्र पार्टी भाजपा ही है.

सदन के अंदर जब तेजस्वी यादव ने RSS पर निशाना साधा तो सदन के अंदर मौजूद भाजपा के तमाम विधायक और भाजपा कोटे के मंत्री एक साथ खड़े होकर तेजस्वी यादव पर हमला बोलते नजर आए. इसकी अगुवाई खुद सदन में मौजूद उपमुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद ने की और देश की आजादी में RSS के योगदान की चर्चा कर तेजस्वी यादव को जवाब देने की कोशिश की.

समय-समय पर भाजपा के कुछ विधायकों से लेकर मंत्रियों ने भी हिंदुत्व वादी मुद्दों को उठा कर साफ कर दिया कि भाजपा अपने ऊपर लगे हिंदुत्ववादी पार्टी के ठप्पे से हटने वाली नहीं है. इन सब के बीच में JDU बचाव की मुद्रा में ही नजर आया. सदन के अंदर जब राजद और भाजपा के बीच हिंदू-मुस्लिम कार्ड पर जमकर राजनीति हो रही थी JDU के तमाम नेता चुप्पी साधे हुए थे. नीतीश कुमार इस मसले पर बोले लेकिन उन्होंने कहा कि बिहार के माहौल को बिगाड़ने नही देंगे. नीतीश कुमार ये भी कहते दिखे कि उनके राज्य में आठ हजार कब्रिस्तान की घेराबंदी की गई है और कहीं कोई दंगा-फसाद नहीं हुआ.

JDU के मुख्य प्रवक्ता नीरज कुमार कहते हैं कि नीतीश कुमार का एक ही एजेंडा है और वो है बिहार का विकास. सामाजिक सौहार्द ना बिगड़े और जनता का विकास हो हमारा यही एजेंडा है. कोई क्या बोलता है, करता है..इससे हमें कोई मतलब नहीं. हम किसी वोट बैंक की राजनीति नहीं करते हैं.

Tags: Bihar News, BJP, Jdu, Nitish kumar

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर