Patna News: दफ्तर पहुंचे मंत्री के स्वागत के लिए नहीं आईं अधिकारी, चपरासी से लिया गुलदस्ता

अपने विभाग के चपरासी से गुलदस्ता लेते मंत्री जनक राम

अपने विभाग के चपरासी से गुलदस्ता लेते मंत्री जनक राम

Janak Ram News: पटना में हुई इस घटना को लेकर सचिवालय में दो घंटे तक गहमागहमी बनी रही. जनक राम को बिहार सरकार में मंगलवार को ही मंत्री की कुर्सी मिली है] जिसके बाद वह पदभार ग्रहण करने पहुंचे थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2021, 8:00 AM IST
  • Share this:
पटना. बिहार के नए नवेले मंत्री अपनी ही सरकार के अधिकारी की अफसरशाही का शिकार हो गए. दरअसल, बिहार के खान एवं भूतत्व विभाग के मंत्री जनक राम (Bihar Minister Janak Ram) ने जब विभाग की कमान संभाली तो उनको अन्य मंत्रियों की तरह अपने विभाग की प्रधान सचिव के हाथों गुलदस्ता नसीब नहीं हुआ. खान एवं भूतत्व मंत्री जनक राम उस वक्त आग बबूला हो गए थे, जब वह पदभार ग्रहण करने विभाग पहुंचे, लेकिन प्रधान सचिव हरजोत कौर मौजूद नहीं थीं. इस दौरान मंत्री ने गांधीगिरी दिखाते हुए वहां मौजूद चपरासी के हाथों बुके लिया.

प्रधान सचिव की गैमौजूदगी और मंत्री द्वारा चपरासी से बुके लेने का मामला दो घंटे तक सचिवालय में चर्चा का केंद्र बना रहा. इस दौरान मंत्री ने यहां तक कह दिया कि अफसरशाही नहीं चलेगी और वो विभाग की प्रधान सचिव हरजोत कौर के खिलाफ सीएम नीतीश कुमार से शिकायत करेंगे. मंत्री जी के बिगड़ने के बाद आनन-फानन में विभाग की प्रधान सचिव हरजोत कौर मंत्री के चैंबर में पहुंचीं और न सिर्फ बुके देकर उनका स्वागत किया, बल्कि इसे मिस कम्युनिकेशन बताया. पूरे मामले की गाज विभाग के ही दो अधिकारियों पर गिरी. इस मामले में दो आप्त सचिव राजेन्द्र चौहान और क्लर्क संतोष कुमार को शो कॉज नोटिस जारी करते हुए निलंबित कर दिया गया है. दोनों कर्मी मंत्री कोषांग के ही हैं.

न्यूज़ 18 से बातचीत में प्रधान सचिव ने खुद पर लगे आरोपों को गलत बताया. वहीं, मंत्री अभी भी कह रहे हैं कि अफसरशाही किसी हालत में नहीं चलने देंगे. प्रधान सचिव हरजोत कौर के मुताबिक मंत्री जनक राम बुधवारक को ही पदभार ग्रहण करेंगे, इस बाबत उनको सूचना नहीं दी गई थी. इसी कारण वह मुख्य सचिव के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग में चली गई थीं. हरजोत कौर ने कहा कि उनको जैसे ही सूचना मिली कि मंत्रीजी पद भार ग्रहण करने आए हैं वो उनसे आकर मिलीं. उन्होंने बताया कि उनके विभाग के ही दोनों कर्मचारियों ने उनको कोई सूचना नहीं दी थी जिस कारण उनको निलंबित कर दिया गया. इस दौरान प्रधान सचिव ने कहा कि विभागीय मंत्री को मेरे स्तर पर पूरा सहयोग मिलेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज