Bihar Politics: भाजपा-जदयू में फिर हुई भिड़ंत! BJP MLC ने CM नीतीश पर उठाए सवाल तो कुशवाहा ने मांगा जवाब

उपेंद्र कुशवाहा ने संजय जायसवाल से की शिकायत (फाइल फोटो)

उपेंद्र कुशवाहा ने संजय जायसवाल से की शिकायत (फाइल फोटो)

Bihar News: भाजपा के विधान पार्षद टुन्‍ना पांडेय के सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ बयान देने के बाद उपेंद्र कुशवाहा ने बिहार भाजपा के अध्‍यक्ष संजय जायसवाल से तल्‍ख सवाल किया है.

  • Share this:

पटना. क्या बिहार एनडीए के भीतर सबकुछ ठीक नहीं है?  यह सवाल इसलिए उठ रहा है कि  सत्ताधारी भाजपा और जदयू किसी न किसी मुद्दे को लेकर अक्सर आमने-सामने आ जा रहे हैं. सिलसिला बयानबाजियों का चलता रहता है. ताजा मामला भाजपा के विधान पार्षद टुन्ना पांडे के बयान के बाद सामने आया है जिसपर जदयू के नेता उपेंद्र कुशवाहा ने भाजपा नेताओं को घेरा है. उपेंद्र कुशवाहा ने बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल से शिकायत भरे लहजे में पूछा है कि क्या तब भी चुप रहते आप?

बता दें कि बीजेपी एमएलसी टुन्ना पांडेय ने सीवान हाल में ही कहा था कि पूर्व सांसद  मोहम्मद शहाबुदीन की साजिश के तहत हत्या की गई है. प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से इसमें बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का भी हाथ है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अगर चाहते तो मोहम्मद शहाबुदीन के शव को सिवान की मिट्टी नसीब हो सकती थी. लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

बात यहीं नहीं रुकी और भाजपा एमएलसी ने फिर ट्वीट कर कहा कि मैंने जो कहा सच ही कहा, इस बार के भी हुए विधानसभा चुनाव में भी जनता ने तेजस्वी यादव को अपना मत देकर चुना था, लेकिन सरकारी तंत्र का दुरुपयोग करके नीतीश जी आज सत्ता में राज कर रहे हैं. इसके बाद उपेंद्र कुशवाहा से नहीं रहा गया और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल को टैग करते हुए ट्वीट कर जवाब मांगा है.

उपेंद्र कुशवाहा के ट्वीट से गरमाई सियासत
उपेंद्र कुशवाहा ने टुन्ना पांडे के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा, यह बयान आप तक भी पहुंच ही रहा होगा संजय जायसवाल जी. ऐसा बयान अगर किसी जद(यू) के नेता ने भाजपा या उसके किसी नेता के बारे में दिया होता तो अबतक.........!

उपेंद्र कुशवाहा के ट्वीट का स्क्रीन शॉट

जाहिर है कुशवाहा के इस ट्वीट के कई मायने निकाले जा रहे हैं और भाजपा-जदयू के तल्खी की खबरें आम हो रही है. हालांकि, संजय जासवाल से सवाल पूछने के पीछे कुशवाहा का एक और मकसद यह भी माना जा रहा है कि वे अपना पुराना हिसाब चुकता कर रहे हैं.



कुशवाहा ने जायसवाल से हिसाब किया चुकता!

दरअसल पिछले दिनों जब बिहार सरकार ने कोरोना के बेतहाशा बढ़ते मामलों को रोकने के लिए लॉकडाउन की बजाय नाइट कर्फ्यू का उपाय अपनाया था तो संजय जायसवाल ने इस पर सवाल खड़े किए थे. इसका उपेंद्र कुशवाहा ने विरोध किया और उन्‍होंने कहा कि सरकार का फैसला सही है. बाद में जब सरकार को मजबूर होकर लॉकडाउन लगाना पड़ा तो संजय जायसवाल ने फिर से अपनी पुरानी बात का जिक्र किया था और बिना नाम लिये उन पर सवाल उठाने वालों को जवाब दिया था.

जीतन राम मांझी की पार्टी HAM ने भी खोला मोर्चा

बहरहाल फिलहाल तो बीजेपी एमएलसी की सीएम नीतीश को लेकर कही  बातों से नाराज कुशवाहा ने संजय जायसवाल से शिकायत की है और इस ओर ध्यान देने को कहा है. इस बीच भाजपा नेता टुन्ना पांडे के सीएम नीतीश पर दिए बयान की जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा ने निंदा की है. पार्टी प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा है कि भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को इस मामले को गंभीरता से लेना चाहिए और चुन्ना जी पांडे के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जानी चाहिए.

एनडीए खेमे की किचकिच का क्या निकलेगा नतीजा?

हम प्रवक्ता ने कहा कि नीतीश कुमार इंडिया के सर्वमान्य नेता हैं और उन पर आरोप लगाने का मतलब है सरकार पर आरोप लगाना. बहरहाल अब देखना दिलचस्प होगा कि आखिर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल कुशवाहा के सवाल का क्या जवाब देते हैं. देखने वाली बात यह भी होगी कि क्या ऐसी बयानबाजियों के सत्ताधारी खेमे में आपसी तालमेल की कमी है?

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज