मुख्‍यमंत्री नीतीश के समर्थन में उतरे सुशील कुमार मोदी, CM की कुर्सी को लेकर कही ये बात

सुशील कुमार मोदी (फाइल फोटो)

सुशील कुमार मोदी (फाइल फोटो)

Bihar Politics: बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने हाल के दिनों में दूसरी बार कहा है कि उनको इस बार बिहार के सीएम बनने का मन नहीं था और वो बीजेपी के आग्रह पर ही मुख्यमंत्री बने हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 29, 2020, 8:40 PM IST
  • Share this:

पटना. बिहार में नीतीश कुमार के मुख्यमंत्री बनने को लेकर एक बार फिर से सवाल उठने लगे हैं. इस बीच उनके पुराने सहयोगी और बिहार के डिप्टी सीएम रहे सुशील कुमार मोदी ने इस मामले को लेकर बड़ा बयान दिया है. बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि बिहार में गठबंधन अटूट है और यहां एनडीए की सरकार 5 साल तक चलेगी.

सुशील कुमार मोदी ने नीतीश कुमार के सीएम बनने के मामले में कहा कि बीजेपी ने ही नीतीश कुमार से आग्रह किया था कि वह सीएम बने और नीतीश कुमार हमारे आग्रह पर ही मुख्यमंत्री बने थे. सुशील कुमार मोदी ने इस सवाल के जवाब में कि क्या बिहार की सरकार में समन्वय की कमी है, पर कहा कि बिहार में जेडीयू और बीजेपी दोनों की सरकार सही ढंग से चल रही है. जदयू और बीजेपी का नेतृत्व सभी समस्याओं के निदान के लिए सक्षम है.

अरुणाचल मामले में सुशील कुमार मोदी ने कहा कि अरुणाचल के मामले में जदयू के नेताओं ने कहा है कि बिहार के गठबंधन पर इसका कोई असर नही पड़ेगा. बिहार में गठबंधन अटूट है. सुशील कुमार मोदी ने जेडीयू का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने पर आरसीपी सिंह को बधाई दी और कहा कि उनके नेतृत्व में एनडीए को मज़बूती मिलेगी. मालूम हो कि रविवार को पटना में बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने कहा था कि मुझे बिहार का सीएम बनने का मन नहीं था. उन्होंने कहा कि इस बार मेरी मुख्‍यमंत्री बनने की जरा भी इच्छा नहीं थी, लेकिन मुझ पर दबाव डाला गया तो मैंने मुख्यमंत्री का पदभार ग्रहण करना स्वीकार किया. उन्होंने कहा कि कोई भी मुख्यमंत्री बने, किसी को भी बना दिया जाए मुख्यमंत्री, मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता. इस पद पर बने रहने की मेरी तनिक भी इच्छा नहीं है.

Youtube Video

आपको ध्यान दिला दें कि बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में प्रचार के दौरान एक बार नीतीश कुमार ने एक जनसभा में यह भी कहा था कि यह मेरा आखिरी चुनाव है. उस वक्त भी राजनीति से उनके मोहभंग की झलक मिली थी. इस बार के बयान को भी जनता इसी रूप में देख रही है. हालांकि, इस बार के बयान के बाद कांग्रेस ने नीतीश कुमार के बयान पर हमला बोला है.

इनपुट- धर्मेंद्र कुमार

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज