नीतीश-सिद्दीकी मुलाकात पर BJP के MLC ने उठाए सवाल, पूछा- भाजपा सांसद को क्यों नहीं दी दौरे की जानकारी?

बीजेपी के विधान पार्षद टुन्ना जी पांडे ने पूछा कि रविवार को सीएम नीतीश कुमार अब्दुल बारी सिद्दीकी से मिले थे, लेकिन स्थानीय बीजेपी सांसद गोपाल जी ठाकुर को जानकारी तक नहीं दी. ऐसा क्यों?

News18 Bihar
Updated: July 22, 2019, 11:49 AM IST
नीतीश-सिद्दीकी मुलाकात पर BJP के MLC ने उठाए सवाल, पूछा- भाजपा सांसद को क्यों नहीं दी दौरे की जानकारी?
बीजेपी के एमएलसी ने सीएम नीतीश कुमार से पूछे सवाल
News18 Bihar
Updated: July 22, 2019, 11:49 AM IST
रविवार को दरभंगा दौरे के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की आरजेडी नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी से मुलाकात के बाद सूबे की सियासत में हलचल है. बीजेपी नेता ने इस मुलाकात पर सवाल उठाते हुए पूछा कि दरभंगा जाकर वे आरजेडी नेता से तो मिले, लेकिन बीजेपी सांसद को सूचित तक करना मुनासिब नहीं समझा.

भाजपा सांसद को सूचित नहीं करने पर उठाए सवाल
बीजेपी के विधान पार्षद टुन्ना जी पांडे ने पूछा कि रविवार को सीएम नीतीश कुमार अब्दुल बारी सिद्दीकी से मिले थे, लेकिन स्थानीय बीजेपी सांसद गोपाल जी ठाकुर को जानकारी तक नहीं दी. ऐसा क्यों?. बता दें कि सीएम नीतीश रविवार को दरभंगा दौरे पर बाढ़ राहत कार्यों का जायजा लेने गए थे. इसी दौरान उन्होंने आरजेडी नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी से उनके आवास पर करीब आधे घंटे अकेले में बातचीत की थी. इसके बाद से ही बिहार में सियासत गरमा गई है.

मंत्रिपरिषद में बीजेपी को शामिल नहीं करना गलत

टुन्ना जी पांडे ने आरएसएस और उससे जुड़े संगठनों  की जांच वाले पत्र पर भी बीजेपी MLC ने नीतीश कुमार को ही निशाने लेते हुए कहा कि ये गलत था. उन्होंने यह भी कहा कि केंद्रीय मंत्रिपरिषद में शामिल नहीं होना और बिहार आकर एकतरफा मंत्रिपरिषद का विस्तार करना भी गलत था.

सच्चिदानंद राय के बचाव में टुन्ना जी पांडे
बीजेपी पार्षद ने पार्टी के MLC सच्चिदानंद राय का बचाव करते हुए कहा कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है. वहीं उन्होंने जेडीयू के महासचिव पवन वर्मा पर कार्रवाई की मांग की है. बता दें कि रविवार को ही पवन वर्मा ने कहा था, हमलोग देख रहे हैं कि बीजेपी के कुछ नेता नीतीश सरकार से समर्थन वापसी की धमकी दे रहे हैं. उन्हें अकेले होकर एक चुनाव लड़ लेना चाहिए. चुनावी परिणाम समझ आ जाएगा.
Loading...

BJP-JDU में खुलकर हो रही बयानबाजी
बहरहाल बीेजेपी-जेडीयू के कई नेता एक दूसरे के विरुद्ध बयानबाजी का सिलसिला तेज कर चुके हैं. दोनों दलों के बीच तल्खी की बात अब खुलकर सामने आने लगी है. हालांकि दूसरी ओर बीजेपी ने अपने ही एमएलसी सच्चिदानंद राय को नीतीश कुमार खिलाफ बोलने को लेकर कारण बताओ नोटिस भी जारी कर दिया है. ऐसे में सवाल यही है कि आखिर दोनों दलों के बीच इस सियासी तल्खी का नतीजा क्या होगा?

इनपुट- अमितेश

ये भी पढ़ें-


बिहार: तो क्या एक बार फिर होने जा रही है सियासी उथल-पुथल? ये रहे 8 संकेत




बिहार: राजकीय सम्मान के साथ होगा रामचंद्र पासवान का अंतिम संस्कार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 22, 2019, 11:49 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...