मुजफ्फरपुर बालिका गृह केस: बीजेपी सांसद ने सरकार पर उठाये सवाल, मंत्री से मांगा इस्तीफा
Patna News in Hindi

मुजफ्फरपुर बालिका गृह केस: बीजेपी सांसद ने सरकार पर उठाये सवाल, मंत्री से मांगा इस्तीफा
सीपी ठाकुर

सीपी ने कहा कि विभाग की मंत्री मंजू वर्मा को इस मामले की नैतिक ज़िम्मेवारी लेते हुए नैतिकता के आधार पर इस्तीफ़ा दे देना चाहिए.

  • Share this:
बिहार के मुजफ़्फ़रपुर स्थित बालिका सुधार गृह को लेकर अब एनडीए में भी सवाल उठने लगे हैं. बीजेपी के वरीय नेता और सांसद सीपी ठाकुर ने इस मामले में पहली बार सवाल खड़े किये और विभाग की मंत्री मंजू वर्मा से इस्तीफे की मांग की.

पूर्व केंद्रीय मंत्री सीपी ठाकुर ने कहा कि बालिका गृह में रहने वाले बच्चियों के साथ हो रही घटना की जानकारी मुझे भी किसी ने पहले दी थी और मैं वहां जाने वाला था लेकिन लखीसराय जाने के कारण मैं वहां नहीं जा सका. मेरे मुजफ्फरपुर जाने से पहले ये घटना अखबारों में आ गई.

उन्होंने कहा कि बच्चियों के साथ इतनी बड़ी घटना घट रही थी और समाज कल्याण विभाग को जानकारी नहीं हो ये हैरान करने वाली बात है. ये पूरी तरह से समाज कल्याण विभाग की चूक है. सीपी ठाकुर ने कहा कि विभाग द्वारा संचालित कई संस्थानों में भी गड़बड़ियां हो रही हैं.



उन्होंने कहा कि विभाग की मंत्री मंजू वर्मा को इस मामले में खुद सोचना चाहिये और नैतिक ज़िम्मेवारी लेते हुए नैतिकता के आधार पर इस्तीफ़ा दे देना चाहिए. अगर जांच के बाद सब साफ़ हो जाएगा तो वो फिर से मंत्री बनें. बीजेपी नेता ने कहा कि मामला इतना बड़ा हो गया है कि अब विदेशों से भी लोग इस घटना को लेकर बिहार पहुंच सकते हैं.
सीपी ठाकुर के बयान का नीतीश सरकार के मंत्री और जेडीयू नेता ख़ुर्शीद आलम ने भी इशारों ही इशारों में समर्थन किया. मंजू वर्मा के नैतिकता के इस्तीफ़े के सवाल पर खुर्शीद ने कहा कि हर व्यक्ति का स्वाभिमान अलग-अलग होता है. कोई अपने स्वाभिमान को कितना बर्दाश्त कर सकता है ये उसके व्यक्तित्व के ऊपर निर्भर करता है. इंसान को अपने स्वाभिमान की रक्षा ख़ुद करनी पड़ती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज