कुत्तों के हमले से 38 भेड़ों की मौत, BJP सांसद रामकृपाल यादव ने उठाई मुआवजे की मांग

कुत्तों के हमले से 38 भेड़ों की मौत, भाजपा सांसद रामकृपाल यादव ने उठाई मुआबजे की मांग.

कुत्तों के हमले से 38 भेड़ों की मौत, भाजपा सांसद रामकृपाल यादव ने उठाई मुआबजे की मांग.

पुलवारीशरीफ में आवारा कुत्तों ने भेड़ों पर हमला किया, जिसमें 38 भेड़ों की मौत हो गई. 6 भेड़ें घायल हो गईं. अपने संसदीय क्षेत्र पाटलीपुत्र में भेड़ों की मौत पर दुखी पूर्व मंत्री और बीजेपी सांसद रामकृपाल यादव ने बिहार सरकार से भेड़ पालकों के लिए मांगा मुआवजे की मांग शुरू कर दी है.

  • Share this:

पटना. पटना ( Patna) से सटे फुलवारीशरीफ ( Phulwari Sharif ) के गोनपुरा गांव में आवारा कुत्तों ने भेड़ों पर हमला कर दिया. कुत्ते सुरेश पाल और सुक्खू भगत के चहारदीवारी के अंदर घुस गए और भेड़ों पर हमला कर दिया, जिसमें 38 भेड़ों की मौत हो गई. 6 भेड़ें घायल हो गईं. अपने संसदीय क्षेत्र पाटलीपुत्र में भेड़ों की मौत पर दुखी बीजेपी सांसद रामकृपाल यादव ने बिहार सरकार से भेड़ पालकों के लिए मांगा मुआवजे की मांग शुरू कर दी है.

जानकारी के अनुसार बीते देर रात पटना से सटे फुलवारीशरीफ के गोनपुरा गांव में आवारा कुत्तों ने सुरेश पाल और सुक्खू भगत के चहारदीवारी के अंदर घुस कर भेड़ों पर हमला किया. इसमें 38 भेड़ों को काटकर उन्हें मार दिया. इस घटना में 6 भेड़ घायल भी हैं. घटना की सूचना मिलते ही पूर्व केन्द्रीय राज्य मंत्री और भाजपा सांसद राम कृपाल यादव घटनास्थल का दौरा करने पहुंच गए. उन्होंने पीडि़त भेड़ पालकों से मिल कर गहरी संवेदना प्रकट की.

राम कृपाल यादव ने कहा कि ये गरीब लोग हैं. भेड़ पालन इनका खानदानी पेशा है. इसी से इनकी जीविका चलती है. इनलोगों को भारी नुकसान हुआ है. भेड़ पालकों ने बताया कि एक भेड़ की कीमत 7-8 हजार होता है. भेड़ों की मौत से उन्हें करीब 3 लाख का नुकसान हुआ है. पूर्व केंद्रीय मंत्री व भाजपा सांसद ने कहा कि इन लोगों का मुख्य पेशा भेड़ पालन ही है. सांसद ने घटनास्थल से अनुमंडलाधिकारी पटना सदर और अंचलाधिकारी फुलवारीशरीफ से बात कर सरकार से मुआवजा की राशि फौरन देने को कहा. जिला पशुपालन पदाधिकारी ने भी घटना स्थल का दौरा किया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज