• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • PATNA BJP MP SUSHIL KUMAR MODI SUGGEST LALU PRASAD AN FAMILY FOR CORONA VACCINATION BRAMK

बर्थडे से पहले सुशील मोदी ने लालू प्रसाद को क्यों दी समधी मुलायम सिंह की बात मानने की सलाह?

लालू प्रसाद को सुशील मोदी ने दी मुलायम सिंह की सलाह मानने की नसीहत (फाइल फोटो)

Bihar Politics: चारा घोटाला से जुड़े मामले में जेल से जमानत मिलने के बाद लालू प्रसाद हाल ही में जेल से बाहर आए हैं, लेकिन फिलहाल वह दिल्ली में अपनी बेटी के घर स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं.

  • Share this:
पटना. राज्यसभा सांसद और बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) ने एक बार फिर से लालू परिवार पर निशाना साधा है. इस बार मोदी ने कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) को लेकर लालू परिवार पर तंज कसा है. इसमें उनके समधी मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) से लेकर अखिलेश यादव तक को लपेटा है. सुशील मोदी ने ट्वीट कर लिखा कि मुलायम सिंह यादव के बाद जब कोरोना वैक्सीन को 'भाजपा का टीका' कहने वाले उनके पुत्र अखिलेश यादव ने भी इसे भारत का टीका स्वीकार कर वैक्‍सीन लेने की घोषणा की है, तब लालू प्रसाद को भी जिद छोड़ कर अपने जन्मदिन पर (11 जून) राबड़ी देवी के साथ कोरोना टीका लगवा लेना चाहिए.

सुशील कुमार मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा है कि लालू परिवार के सभी 18 प्लस वाले सदस्यों को टीका लेकर उसकी फोटो मीडिया में डालनी चाहिए, इससे ग्रामीणों में वैक्सीन को लेकर फैलाए गए भ्रम दूर होंगे और टीकाकरण की गति बढ़ेगी. मोदी ने लिखा कि लालू जी प्रधानमंत्री की नहीं, तो अपने समधी मुलायम सिंह की ही बात क्यों नहीं मान लेते?

'लालू यादव अपने विधायकों से भी करें अपील'
भाजपा के वरिष्‍ठ नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि राजद का प्रथम परिवार कोरोना टीके पर भ्रम फैलाने वाले विपक्ष के सुर में सुर मिलाता रहा. इसलिए आरजेडी के किसी विधायक ने सार्वजनिक रूप से वैक्सीन नहीं ली. यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि बिहार का मुख्य विपक्षी दल कोरोना महामारी के समय समाधान का हिस्सा बनने के बजाय अनर्गल बयानबाजी कर समस्या बढाने का भागीदार बना रहा. लालू प्रसाद के जन्मदिन पर सभी विधायक अपने-अपने क्षेत्र में टीका लेने की तस्‍वीर जारी कर वैक्सीन को लेकर फैलाये गए भ्रम दूर करने में सहायक हो सकते हैं. सुशील मोदी ने कहा कि अभी स्वयं टीका लेना और दूसरो को इसके लिए प्रेरित करना ही देशभक्ति है.
Published by:Amrendra Kumar
First published: