Home /News /bihar /

शाह-नीतीश मुलाकात में सीट शेयरिंग और उम्मीदवारों के जल्द चयन पर बनी सहमति

शाह-नीतीश मुलाकात में सीट शेयरिंग और उम्मीदवारों के जल्द चयन पर बनी सहमति

अमित शाह और नीतीश कुमार पटना में एक दूसरे का अभिवादन करते हुए ( PTI PIC.)

अमित शाह और नीतीश कुमार पटना में एक दूसरे का अभिवादन करते हुए ( PTI PIC.)

सूत्रों के मुताबिक सितंबर के पहले सप्ताह में ना केवल एनडीए के अलग-अलग घटक दलों को मिलने वाली सीटों की संख्या बल्कि उनके उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की जा सकती है.

    भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बीच गुरुवार को बंद कमरे में मुलाकात के दौरान आगामी लोकसभा चुनाव के लिए जल्द से जल्द सीट शेयरिंग फार्मूला और उम्मीदवारों के नाम घोषित करने को लेकर सहमति बनी है.

    सूत्रों के मुताबिक सितंबर के पहले सप्ताह में ना केवल एनडीए के अलग-अलग घटक दलों को मिलने वाली सीटों की संख्या बल्कि उनके उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की जा सकती है. बिहार एनडीए घटक दल में बीजेपी और जदयू के अलावा लोजपा और रालोसपा शामिल हैं.

    ये भी पढ़ें- पटना पहुंचे अमित शाह ने कार्यकर्ताओं को दिया 40 सीटें जीतने का टास्क

    जदयू के एक वरिष्ठ नेता ने न्यूज 18 को बताया कि बीजेपी और जदयू के नेता सीटों और उम्मीदवारों की अदला-बदली को ग्राउंड लेवल पर व्यापक रूपरेखा भी तैयार कर चुके हैं. जदयू नेता ने कहा कि 2014 चुनाव में कई नेता जदयू से अलग होकर बीजेपी टिकट पर चुनाव जीतने में सफल रहे थे. अब 2019 में सीटों के बंटवारे और उम्मीदवारों के चयन में जीत को सबसे महत्वपूर्ण क्राइटेरिया के रुप में रखा जाएगा. इस फार्मूला के तहत अगर कोई सीट जदयू के खाते में जाती है और वहां एनडीए के दूसरे घटक दल के उम्मीदवार के जीतने से संभावना ज्यादा है तो उस उम्मीदवार को जदयू की सीट से मैदान में उतारा जा सकता है.

    ये भी पढ़ें- गठबंधन पर दिये बयान से पलटे गहलोत, कहा- लालू के साथ को कभी नहीं भूल सकती कांग्रेस

    राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक और फिर उसके बाद पटना में जनसंवाद कार्यक्रम के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान नीतीश कुमार की चिंताओं से बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह वाकिफ दिखे. जदयू नेता ने कहा कि दोनों नेताओं ने मुलाकात के दौरान बिहार की लोकसभा की सभी 40 सीटें जीतने को लेकर फोकस रहें और इस संबंध में सभी पहुलओं पर चर्चा की.

    मालूम हो कि गुरुवार रात पटना में सीएम आवास पर आयोजित डिनर में दोनों पार्टियों के चुनिंदा वरिष्ठ नेता शामिल हुए. डिनर के बाद दोनों नेताओं ने करीब 40 मिनट बंद कमरे में अकेले वन टू वन मुलाकात की.

    ये भी पढ़ें- मिशन 2019: अमित शाह-नीतीश की मुलाकात में अहम रहेगा 'बड़े भाई' का मुद्दा

    दोनों नेताओं की मुलाकात के बाद जदयू के प्रदेश अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि डिनर काफी स्वादिष्ट था. काफी अच्छे माहौल में नेताओं ने डिनर का आनंद लिया. अमित शाह और नीतीश कुमार के अकेले में मुलाकात के सवाल पर उन्होंने कहा कि मुलाकात हुई है तो राजनीतिक चर्चा भी जरूर हुई होगी.

    बैठक के बाद बीजेपी के वरिष्ठ नेता और बिहार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने कहा कि एनडीए में कही कोई दिक्कत नहीं है. साथ ही उन्होंने इशारा किया सीट शेयरिंग और उम्मीदवारों की घोषणा जल्द की जा सकती है. जानकारी के मुताबिक बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह अगस्त के अंतिम सप्ताह या फिर सितंबर के पहले हफ्ते में एक बार बिहार के दौरे पर आ सकते हैं.

    इससे पहले गुरुवार को दिन में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए अमित शाह ने साफ कहा कि नीतीश कुमार कहीं जाने वाले नहीं हैं. वे हमारे साथ हैं. विपक्ष लार टपकाना बंद करे. नीतीश कुमार कभी करप्शन के साथ नहीं रह सकते. उन्होंने आगे कहा कि नीतीश के साथ एडनीए बिहार में सभी 40 लोकसभा की सीटें जीतेगा. विपक्ष के एनडीए के एकजुट होने से कोई फर्क पड़ने वाला नहीं है. एनडीए की ताकत बढ़ी है. चंद्रबाबू नायडू गए तो पुराने सहयोगी नीतीश कुमार हमारे साथ आ गए.

    ये भी पढ़ें-नीतीश-अमित शाह की बैठक सिर्फ सीटों के बंटवारे को लेकर नहीं है, ये है असली वजह

    Tags: Bihar News, PATNA NEWS

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर