बिहार चुनाव में BJP के स्टार प्रचारकों की विमान यात्रा पर खर्च हुए 24 करोड़ रुपए, हर प्रत्याशी को 15 लाख

पार्टी ने खर्च का यह ब्योरा मार्च महीने में जमा किया था, जिसे आयोग ने शुक्रवार को सार्वजनिक किया. (सांकेतिक फोटो)

पार्टी ने खर्च का यह ब्योरा मार्च महीने में जमा किया था, जिसे आयोग ने शुक्रवार को सार्वजनिक किया. (सांकेतिक फोटो)

बिहार चुनाव के दौरान BJP ने विज्ञापनों पर 16 करोड़ से ज्यादा खर्च किए. स्टार प्रचारकों की ट्रेन, विमान और टैक्सी यात्राओं का भी दिया ब्योरा. पार्टी ने निर्वाचन आयोग को दी गई जानकारी में चुनाव के दौरान कुल खर्च 28 करोड़ रुपए से ज्यादा का बताया है.

  • Share this:

नई दिल्ली. भाजपा ने वर्ष 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) में अपने केंद्रीय मुख्यालय के खातों से लगभग 26.7 करोड़ रुपये खर्च किए. जिसमें पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा, राजनाथ सिंह और योगी आदित्यनाथ जैसे स्टार प्रचारकों की यात्रा के लिए चार्टर्ड विमानों पर 24.07 करोड़ रुपये खर्च हुए. भाजपा की ओर से निर्वाचन आयोग को सौंपे गए खर्च संबंधी एक बयान के मुताबिक, पार्टी की बिहार इकाई ने चुनाव के दौरान कुल 28 करोड़ रुपये खर्च किए, जबकि उम्मीदवारों को वित्तीय सहायता के रूप में उसने 16.5 करोड़ खर्च किए.

इसके मुताबिक पार्टी की ओर से सभी उम्मीदवारों को 15-15 लाख रुपये दिए गए. चुनाव की घोषणा से लेकर इसके पूरा होने तक पार्टी के केंद्रीय मुख्यालय और राज्य इकाई द्वारा किया पूरा खर्च करीब 71.73 करोड़ बैठता है, जबकि इस अवधि के दौरान कुल पावती तकरीबन 35.83 करोड़ रही. चुनाव की घोषणा के पूर्व पार्टी के केंद्रीय मुख्यालय और राज्य इकाई के खाते में संचयी प्रारंभिक जमा रकम 2376.90 करोड़ रुपये थी और चुनाव बाद शेष जमा राशि 2279.96 करोड़ रुपये थी.

चुनाव आयोग ने जारी किया ब्योरा

पार्टी ने खर्च का यह ब्योरा मार्च महीने में जमा किया था, जिसे आयोग ने शुक्रवार को सार्वजनिक किया. भाजपा की राज्य इकाई ने सुशील कुमार मोदी, देवेंद्र फडणवीस और शाहनवाज हुसैन जैसे अपने स्टार प्रचारकों के लिए विमान और टैक्सी के इस्तेमाल पर 1.5 करोड़ रुपये खर्च किए. अन्य नेताओं की ट्रेन व टैक्सी यात्राओं पर 45.6 लाख रुपये खर्च किए गए. बिहार इकाई ने मीडिया के विभिन्न माध्यमों से विज्ञापनों के लिए 16 करोड़ रुपये से अधिक खर्च किए, जिसमें गूगल इंडिया को दिए गए 1.59 करोड़ रुपये भी शामिल हैं. आयोग द्वारा निर्धारित सीमा के मुताबिक, बिहार जैसे राज्य में कोई उम्मीदवार 30.8 लाख रुपये तक विधानसभा चुनाव में खर्च कर सकता है. हालांकि, किसी राजनीतिक दल द्वारा किए जाने वाले खर्च की कोई सीमा तय नहीं है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज